UPPCS 2018: Expert tell success tips to uttar pradesh PCS give answer to the point - UPPCS 2017: एक्सपर्ट ने बताएं सफलता के टिप्स, इंटरव्यू में तुक्का व गलत नहीं, टू द प्वाइंट दें जवाब DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPPCS 2017: एक्सपर्ट ने बताएं सफलता के टिप्स, इंटरव्यू में तुक्का व गलत नहीं, टू द प्वाइंट दें जवाब

uppcs

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) के पीसीएस 2017 मुख्य परीक्षा में सफलता के बाद आपका अपना अखबार 'हिन्दुस्तान' अभ्यर्थियों के इंटरव्यू की राह आसान कर रहा है। हिन्दुस्तान और आगरा की सेंटर फॉर एंबीशन ने मिल कर अभ्यर्थियों का शुक्रवार से सिविल लाइंस के एक होटल में मॉक इंटरव्यू का शुभारंभ किया गया। चार दिनी मॉक इंटरव्यू 23 सितंबर तक चलेगा। 

पहले दिन पीसीएस 2017 मेंस में सफल अभ्यर्थियों का मॉक इंटरव्यू एक बोर्ड में हुआ। विशेषज्ञ डॉ. शीलवंत सिंह और अनुभवी प्रशासनिक अधिकारी डॉ. असीम अंसारी ने छात्रों को मॉक इंटरव्यू में सफलता के टिप्स दिए। विशेषज्ञों ने बताया कि पीसीएस के इंटरव्यू में गेस पर (तुक्का) या गलत जवाब न दें, सवाल का उत्तर टू द प्वाइंट दें। समय का विशेष ध्यान देना होगा। अगर प्रश्न का उत्तर नहीं मालूम है तो मुस्करा कर सॉरी बोल दें। इंटरव्यू में समसामायिक घटना चक्र की जानकारी होना अति आवश्यक है। इसलिए आयोग में चल रहे इंटरव्यू में करंट से पूछे जाने वाले सभी प्रश्न का अध्ययन सही तरीके से करना होगा। 

चंद्रयान टू बना मॉक इंटरव्यू का प्रश्न 
मॉक इंटरव्यू में विशेषज्ञों ने अभ्यर्थियों से पूछा कि चंद्रयान टू किस आधार पर 95 फीसदी सफल रहा और असफल होने का क्या कारण रहा। इस पर अभ्यर्थी ने तर्क दिया कि मिशन चंद्रमा पर लैंड कर गया है। यान से संपर्क नहीं हो पा रहा है। बोर्ड ने पूछा कि केंद्र व प्रदेश सरकार की प्रभावशाली योजनाओं के बारे में बताएं, मूल जनपद कहां है, वह किसके लिए प्रसिद्ध है। बोर्ड ने अभ्यर्थी से पूछा आप का नाम क्या है, अभ्यर्थी ने जवाब दिया कि आदित्य है। इस पर बोर्ड ने पूछा कि आदित्य का क्या अर्थ है। अभ्यर्थी ने जवाब दिया कि सूरज। आर्टिकल 370, पॉलीथिन बैन के फायदे व नुकसान, हॉबी, राजनीति में वंशवाद, स्वच्छ भारत मिशन आदि से जुड़े प्रश्न पूछे गए। 


शहर की विशेषता की जानकारी जरूरी 
मॉक इंटरव्यू देने आए अभ्यर्थियों से बोर्ड ने उनके मूल जनपद का नाम पूछा। उस जनपद की मुख्य विशेषता क्या है। प्रतापगढ़ के अभ्यर्थी से बोर्ड ने पूछा कि आपका जिला क्यों मशहूद है। अभ्यर्थी ने जवाब दिया कि आंवला की पैदावार के लिए। वहीं प्रयागराज के अभ्यर्थी से पूछा गया कि बाढ़ कहां-कहां पर है और प्रयागराज क्यों प्रसिद्ध है। वहीं कानपुर के अभ्यर्थी से वहां की विशेषता के बारे में विस्तार से जानकारी ली गई। 

आत्म विश्वास और इमानदारी से दें जवाब: डॉ. असीम 
विशेषज्ञ डॉ. असीम अंसारी ने कहा कि अभ्यर्थियों को प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की विस्तृत जानकारी होनी चाहिए। ट्रिपल तलाक, अनुच्छेद 370, न्यू मोटर वाहन एक्ट आदि की जानकारी जरूरी है। कहा कि ड्रेसिंग सेंस होना चाहिए। कमरे में प्रवेश करते समय आत्म विश्ववास जरूरी है। अभिवादन का तरीका उचित हो और ईमानदारी से सवाल का जवाब देना चाहिए। गलत जवाब से बचें, बोर्ड से सॉरी कहें। 

सही, गलत समय से नहीं काउंट होता: डॉ. शीलवंत 
कक्ष में प्रवेश करने के बाद अभ्यर्थी नाम और जाति न बताएं। शैक्षणिक पृष्टभूमि का विधिवत अध्ययन करते रहें। इंटरव्यू में समय नहीं काउंट किया जाता है। पांच मिनट वाले का इंटरव्यू सही नहीं हुआ है और 15 मिनट वाले का सही हुआ है। यह मानना कतई ठीक नहीं है। टू द प्वाइंट जवाब के आधार पर इंटरव्यू में अंक दिए जाते हैं।  

2015 से लगातार हो रहा मॉक इंटरव्यू 
संस्था की सेंटर मैनेजर मोनिका अग्रवाल ने बताया कि पीसीएस 2015 के लिए मॉक इंटरव्यू आगरा में आयोजित किया गया था। पीसीएस 2016 के लिए आगरा और प्रयाराज में चार दिन आयोजित किया गया था। 2017 के लिए भी चार दिन तक मॉक इंटरव्यू होगा। 

तीन बोर्ड में मॉक इंटरव्यू आज 
मोनिका ने बताया कि शनिवार को तीन बोर्ड में मॉक इंटरव्यू होगा। डॉ. शीलवंत सिंह और डॉ. असीम अंसारी का बोर्ड, निदेशक अमित सिंह व डॉ. निलेश यादव का बोर्ड और आगरा कॉलेज के राजनीति विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ. अरुदेव बाजपेयी और सिद्धार्थ कुमार के बोर्ड में मॉक इंटरव्यू होगा। 

पहले दिन 17 अभ्यर्थी शामिल 
डिफेंस विभाग में सीनियर ऑडिटर पद पर तैनात विवेक प्रताप मॉक इंटरव्यू में शामिल हुए। आदित्य पांडेय, रोहित कुमार, अभिषेक मिश्र, आशुतोष सिंह, सत्यपाल सिंह चौहान, ललित पांडेय, अमित यादव, अमरेश यादव, हरिश्चंद्र कुमार, चंद्रकांत तिवारी, सिद्धांत, अमन, रमेश, धनराज, इंद्र विजय आदि ने मॉक इंटरव्यू दिया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPPCS 2018: Expert tell success tips to uttar pradesh PCS give answer to the point