DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  UPMSSP : संस्कृत शिक्षा परिषद के स्कूलों को भी इसी सत्र से मिलेंगी निशुल्क किताबें

करियरUPMSSP : संस्कृत शिक्षा परिषद के स्कूलों को भी इसी सत्र से मिलेंगी निशुल्क किताबें

विशेष संवाददाता,लखनऊPublished By: Alakha Singh
Fri, 11 Jun 2021 08:55 PM
UPMSSP : संस्कृत शिक्षा परिषद के स्कूलों को भी इसी सत्र से मिलेंगी निशुल्क किताबें

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा संस्कृत परिषद (UPMSSP ) के स्कूलों को इस शैक्षिक सत्र से ही नि:शुल्क किताबें दी जाएंगी। सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिया है कि वे अपने क्षेत्र में स्कूलों की छात्र संख्या के आंकलन के मुताबिक पाठ्य पुस्तकों का क्रयादेश प्रकाशकों से कर लें।

राज्य सरकार ने इसी वर्ष अप्रैल में संस्कृत परिषद के स्कूलों को भी नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक का लाभ देने का निर्णय लिया था। सरकार प्रदेश के सरकारी व मान्यताप्राप्त प्राइमरी व जूनियर स्कूलों के लगभग 1.80 करोड़ विद्यार्थियों को नि:शुल्क पाठ्यपुस्तकें देती है।

प्रदेश में 839 स्कूल हैं और यहां कक्षा छह से आठ तक के विद्यार्थियों को निशुल्क पाठ्यपुस्तकें दी जाएंगी। इस फैसले से लगभग 8 हजार विद्यार्थियों को फायदा होगा। इन स्कूलों में बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम ही पढ़ाया जाता है लेकिन इन्हें नि:शुल्क पाठ्य पुस्तकों की सुविधा अभी तक नहीं दी जाती है। कक्षा छह के 3094, कक्षा सात के 2896 और कक्षा आठ के 1920 विद्यार्थियों को इस फैसले का लाभ मिलेगा।

राज्य सरकार ने पिछले हफ्ते ही पाठ्यपुस्तकों के लिए नीति निर्धारित की है और तीन महीने के अंदर किताबें छप कर स्कूलों तक पहुंचेंगी। इसके अलावा कार्यपुस्तिकाओं का भी मुद्रण करवाया जा रहा है।

संबंधित खबरें