ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरUP Board 2024: फीस लेकर नहीं किया रजिस्ट्रेशन, अब परीक्षा से वंचित रह गया छात्र

UP Board 2024: फीस लेकर नहीं किया रजिस्ट्रेशन, अब परीक्षा से वंचित रह गया छात्र

यूपी बोर्ड की फाइनल बोर्ड परीक्षा शुरू हो चुकी है, लेकिन एक छात्र बोर्ड परीक्षा में बैठने से वंचित रह गया। दरअसल छात्र का परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं किया गया था और इस कारण छात्र को एडमिट कार्ड भ

UP Board 2024: फीस लेकर नहीं किया रजिस्ट्रेशन, अब परीक्षा से वंचित रह गया छात्र
Priyanka Sharmaहिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतFri, 23 Feb 2024 08:54 PM
ऐप पर पढ़ें

UP board 2024: यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा जिलेभर के 76 परीक्षा केंद्रों पर शुरू हो चुकी है। यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान पढ़ाई-लिखाई कर नाम रोशन करने का सपना संजोए एक छात्र के साथ धोखाधड़ी की गई। आरोप है कि स्कूल संचालक ने हाईस्कूल की परीक्षा में शामिल करने के लिए उसका रजिस्ट्रेशन नहीं नहीं कराया। जबकि फीस वसूल ली गई। छात्र जब एडमिट कार्ड लेने पहुंचा तो उसे जानकारी हुई। उसने मुख्यमंत्री को पत्र भेजने के अलावा शिक्षा विभाग के अधिकारियों से मामले की शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई है। हाईस्कूल की परीक्षा से वंचित होने पर वह काफी मायूस और परेशान है।

पूरनपुर के गांव लाह के रहने वाले छात्र धीरज कुमार पुत्र दशरथ ने अधिकारियों को दिए पत्र में कहा है कि उसने गांव टंडोला में संचालित वीएमवी पब्लिक जूनियर हाईस्कूल में पिछले साल कक्षा नौ में एडमिशन लिया था। स्कूल में ही परीक्षा कराई गई, लेकिन कक्षा नौ का अंकपत्र एसवी सर्वोदय इंका फुलहर का दिया गया। इस शैक्षिक सत्र में वीएमवी स्कूल में ही कक्षा दस की पढ़ाई की। परीक्षा में सफल होने के लिए कड़ी मेहनत की। दो तीन दिन पहले प्रवेश पत्र बंटने शुरू हुए तो प्रधानाचार्य ने प्रवेश पत्र मांगा तो वह टाल मटोल करने लगे। जबकि फॉर्म और स्कूल की फीस पहले ही वसूल कर ली थी।

एक दिन पहले 21 फरवरी को फिर प्रधानाचार्य से हाईस्कूल की परीक्षा में शामिल होने के लिए एडमिट कार्ड मांगा। आरोप है कि उन्होंने फिर बहानेबाजी करने लगे। अधिक कहने पर गाली-गलौज की और रजिस्ट्रेशन न होने की बात कहकर भगा दिया। इसपर छात्र को ठगी का एहसास हुआ। गुरुवार को सुबह की पाली में हाईस्कूल की परीक्षा हुई लेकिन वह वंचित रह गया। छात्र ने धोखाधड़ी कर एक शिक्षा सत्र बर्बाद करने वाले स्कूल के संचालक और प्रधानाचार्य पर कार्रवाई की मांग की है। स्कूल के मैनेजर दिनेश कुमार ने बताया कि छात्र के कहने पर उसका आवेदन फार्म सर्वोदय इंका कालेज में कराया गया लेकिन वहां के जिम्मेदारों ने यह सूचित नहीं किया कि छात्र का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाया है। इस वजह से दिक्कत सामने आई है। छात्र की इस समस्या का हल निकाला जाएगा।

बता दें, यूपीएमएसपी यूपी बोर्ड परीक्षा 2024 के एडमिट कार्ड छात्रों को उनके स्कूलों के माध्यम से जारी किए गए थे। यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए कुल 25,77,997 उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया है, जिनमें से 14,28,323 लड़के और 11,49,674 लड़कियां हैं। यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। जिसमें सभी 8,265 परीक्षा केंद्रों के लगभग 1.35 लाख परीक्षा कक्षों में वॉयस रिकॉर्डर से लैस लगभग 2.90 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

 

Virtual Counsellor