DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  UPHESC असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती 2021 : पुराने जाति प्रमाणपत्र से भरें असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती का फॉर्म

करियरUPHESC असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती 2021 : पुराने जाति प्रमाणपत्र से भरें असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती का फॉर्म

वरिष्ठ संवाददाता,प्रयागराजPublished By: Alakha Singh
Sat, 06 Mar 2021 09:02 PM
UPHESC असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती 2021 : पुराने जाति प्रमाणपत्र से भरें असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती का फॉर्म

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में 2003 असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन में आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को राहत दी है। सचिव वंदना त्रिपाठी ने शनिवार को सूचित किया कि आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थी वर्तमान में उनके पास उपलब्ध जाति प्रमाणपत्र के आधार पर आवेदन कर सकते हैं।

आयोग की ओर से निर्धारित प्रोफॉर्मा पर बना हुआ नवीनतम तिथि का जाति प्रमाणपत्र साक्षात्कार के समय देना होगा। अभ्यर्थियों ने आयोग से अनुरोध किया था कि उनके प्रोफॉर्मा पर जाति प्रमाणपत्र बनवाने में एक महीने से अधिक का समय लग सकता है। इससे वे आवेदन से वंचित हो जाएंगे।

कई विषयों को एलाइड के रूप में किया मान्य
आयोग ने कई विषयों को एलाइड (अंत:सम्बद्ध विषय) के रूप में मान्य किया है। असिस्टेंट प्रोफेसर गृह विज्ञान के लिए पूर्व में तय एलाइड विषय के साथ ही फैमिली रिसोर्सेज मैनेजमेंट/ होम मैनेजमेंट, एक्सटेंशन एजूकेशन को भी अर्ह माना है। इसी प्रकार असिस्टेंट प्रोफेसर कृषि वनस्पति के लिए स्नातकोत्तर परीक्षा जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग, सीड साइंस एंड टेक्नोलॉजी उपाधि धारक अभ्यर्थियों को भी मान्य किया है। आयोग ने सफाई दी है कि लिपिकीय त्रुटि के कारण ये विषय टंकण होने से रह गए थे।

ग्रेडिंग बदलकर अंक में लिखने की सलाह
कुछ अभ्यर्थियों ने शिकायत की थी कि उन्हें स्नातकोत्तर परीक्षा में ग्रेडिंग सिस्टम में अंक प्राप्त होते हैं। जबकि असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती के लिए अंक भरना है। इसके चलते वे फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। इस पर आयोग ने सलाह दी है कि जिन महाविद्यालयों/विश्वविद्यालयों में ग्रेडिंग सिस्टम पर ग्रेड दिए जाते हैं वहां के अभ्यर्थी संबंधित विश्वविद्यालय से स्वीकृत ग्रेडिंग को प्रतिशत में बदलने के फॉर्मूले के आधार पर प्राप्त अंक भरकर आवेदन करें।

संबंधित खबरें