DA Image
3 मार्च, 2021|8:13|IST

अगली स्टोरी

UP Vidhan Sabha recruitment Exam 2021:पेपर लीक होने का आरोप लगाकर अभ्यर्थियों ने काटा ने हंगामा

up vidhan sabha bharti pariksha 2021

UP Vidhan Sabha recruitment Exam 2021: गाजियाबाद में सहारा रोड स्थित विवेक इंटर कॉलेज में रविवार की सुबह आयोजित विधान सभा में विभिन्न पदों की परीक्षा के दौरान छात्रों ने पेपर लीक होने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। छात्रों का यह हंगामा करीब 45 मिनट तक चला। सूचना मिलने पर मौके पर पह़ंचे अपर जिलाधिकारी ने छात्रों को समझा-बुझाकर शांत कराया। उधर, हंगामे के बावजूद केंद्र में परीक्षा निर्वाध गति से जारी रही।

परीक्षार्थियों ने बताया कि विधान सभा में विभिन्न पदों के लिए रविवार को सुबह नौ बजे से परीक्षा आयोजित की गई थी। इस परीक्षा का एक केंद्र विवेक इंटर कॉलेज भी था। थोड़ी देर बाद ही परीक्षार्थियों ने आरोप लगाया कि केंद्र प्रबंधन ने परीक्षा शुरू होने से पहले ना केवल प्रश्नपत्रों का सील तोड़ दिया, बल्कि कुछ कक्षों में समय से पहले वितरित भी कर दिया। जैसे ही परीक्षा की गोपनीयता भंग होने की सूचना बाकी परीक्षार्थियों ने भी हंगामा शुरू कर दिया। अंदर हंगामा होता देख केंद्र बाहर खड़े परीक्षार्थियों के परिजनों ने भी शोर शराबा शुरू कर दिया। इसके बाद केंद्र प्रबंधन ने पुलिस बुला ली। पुलिस ने पहले तो परीक्षाथियों को खूब समझाया, लेकिन हालात नियंत्रण से बाहर होने पर एसडीएम मोदीनगर को सूचना दी। वहीं इस सूचना पर मौके पर पहुंचे एसडीएम ने अपर जिलाधिकारी को हालात से अवगत कराया। इसके बाद मौके पर पहुंचे अपर जिलाधिकारी( नगर) शैलेंद्र सिंह ने परीक्षार्थियों से बात कर विवाद को शांत कराया।

पेपर बंटते ही शुरू हो गया हंगामा
जानकारी के मुताबिक रविवार की सुबह नौ बजे से यह परीक्षा एक पाली में शुरू हुई। परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट बाद ही पूरे केंद्र में पेपर लीक होने की अफवाह फैल गई। इससे परीक्षार्थी आक्रोशित हो गए और देखते ही देखते हंगामा शुरू हो गया। अभी केंद्र के अंदर हंगामा चल ही रहा था कि केंद्र के बाहर खड़े परिजनों ने भी हंगामा शुरू हो गया।  केंद्र प्रबंधन की सूचना पर नौ बजकर 20 मिनट पर पुलिस पहुंची और परीक्षार्थियों को समझाने का प्रयास किया। आखिरकार एडीएम के पहुंचने पर करीब 10 बजे मामला शांत हो पाया।   

यह है मामला
केंद्र प्रबंधन ने बताया कि एक बंडल में कुल 24 प्रश्नपत्र रखे गए थे। जबकि प्रत्येक परीक्षा कक्ष में 30 परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था की गई थी। ऐसे में प्रत्येक कक्ष में छह छात्रों को प्रश्नपत्र वितरित करने के लिए दूसरा बंडल खोलना पड़ा। वहीं, बाकी प्रश्नपत्र दूसरे कक्ष में वितरित किए गए। परीक्षार्थियों ने जब सील खुले बंडल से प्रश्नपत्र वितरित होते देखा तो पेपर लीक होने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया।

कोई पेपर लीक नहीं हुआ, परीक्षा शांति पूर्वक हुई संपन्न 
एडीएम प्रशासन संतोष कुमार वैश्य ने बताया कि उत्तर प्रदेश समीक्षा विधानसभा अधिकारी की परीक्षा के लिए जनपद में 20 सेंटर बनाए गए थे। मोदीनगर में चार सेंटर थे। सहारा रोड स्थित विवेक इंटर कॉलेज में परीक्षा देने पहुंचे अभ्यार्थियों को गलतफेमी हुई। अभ्यार्थियों को लगा कि पेपर लीक हो गया है। इस कारण उन्होंने हंगामा कर दिया। सूचना के बाद मौके पर प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी पहुंचे और उन्होंने पूरे मामले की जानकारी की। उसके बाद अभ्यर्थियों को सही जानकारी से अवगत कराया। समझाने के बाद परीक्षा शांति पूर्वक संपन्न कराई है। एडीएम प्रशासन के मुताबिक गाजियाबाद के सेंटरों पर केवल एक परीक्षा थी। परीक्षा संबंधित विभाग की ओर से ही कराई गई है। प्रशासन को केवल व्यवस्था बनाने की जिम्मेदारी दी गई थी। अभ्यार्थियों की सूची, रोल लिस्ट, पेपर वितरण व परीक्षा के बाद पेपर सबमिट करने का काम भी संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा ही कराया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP Vidhan Sabha recruitment exam 2021: Candidates make ruckus by accusing of leaking paper