Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरजहां से ली जेईई मेन की फ्री कोचिंग, वहीं से बीटेक करेगा यह छात्र

जहां से ली जेईई मेन की फ्री कोचिंग, वहीं से बीटेक करेगा यह छात्र

अनिकेत यादव,प्रयागराजPankaj Vijay
Mon, 29 Nov 2021 07:47 AM
जहां से ली जेईई मेन की फ्री कोचिंग, वहीं से बीटेक करेगा यह छात्र

इस खबर को सुनें

मुश्किलों से जो डरते हैं, वो जलीले खार होते हैं, बदल दे वक्त की त़कदीर वो खुद्दार होते हैं। हजारों डूबते हैं नाखुदाओं के भरोसे पर, जो खुद चप्पू चलाते हैं वो अक्सर पार होते हैं। यह पंक्तियां विपरीत परिस्थितियों में रहकर केंद्रीय विद्यालय ओल्ड कैंट से इंटर उत्तीर्ण करने वाले रोहित कुमार पर सटीक बैठती हैं। नगर निगम में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के बेटे की मेधा को निखारने में अहम योगदान एमएनएनआईटी के छात्रों का रहा।

दरअसल एमएनएनआईटी ने गरीब छात्रों को शैक्षिक मदद देने के लिए ‘अनोखी पहल’ नाम से एक शैक्षिक स्कीम चलाई है। स्कूल में पढ़ाई के दौरान रोहित न केवल इस शैक्षिक कार्यक्रम का हिस्सा बने बल्कि उसी दौरान उन्होंने ठान लिया कि वह एमएनएनआईटी से इलेक्ट्रॉनिक में बीटेक करेंगे। रोहित ने एमएनएनआईटी की ‘अनोखी पहल’ से जुड़े शिक्षक छात्रों के निर्देशन में पढ़ाई कर अपने लक्ष्य को हासिल कर लिया। सुखद पहलू यह रहा कि रोहित ने आज एमएनएनआईटी के इलेक्ट्रॉनिक ब्रांच में बीटेक में दाखिला ले लिया है।

एमएनएनआईटी का परिसर बचपन से ही रोहित को आकर्षित करता था लेकिन ‘अनोखी पहल’ से जुड़ने के बाद परिसर से बीटेक करना उनका सपना सच हो गया। रोहित ने बताया कि उसके इस सपने को साकार करने में यहां से पूरी मदद मिली।

जेईई मेंस के लिए ‘अनोखी पहल’ से जुड़े शिक्षक छात्रों ने पाठ्यक्रम के अनुरूप तैयारी करने के लिए हरसंभव सहयोग किया। रोहित अपनी सफलता मुख्य श्रेय इन्हीं को देते हैं।

एमएनएनआईटी
- संस्थान के छात्र ‘अनोखी पहल’ में दे रहे गरीब बच्चों को शैक्षिक सहयोग
- शिवकुटी के रोहित ने कक्षा नौ से इन छात्र शिक्षकों की मदद से शुरू की तैयारी
- इंटर पास होते ही रोहित जेईई मेंस में चयनित, एमएनएनआईटी में लिया दाखिला
- रंग ला रही एमएनएनआईटी के छात्रों की तीन साल पहले शुरू की गई पहल

संस्थान के निदेशक की पहल पर 2018 में शुरू की गई ‘अनोखी पहल’
संस्थान के निदेशक प्रो. राजीव त्रिपाठी की पहल पर परिसर में गरीब बच्चों के लिए ‘अनोखी पहल’ की शुरुआत वर्ष 2018 में की गई। यहां अध्ययनरत बीटेक छात्रों ने शाम को परिसर में ही गरीब बच्चों को नि:शुल्क ट्यूशन देना शुरू किया। शिवकुटी निवासी रोहित कुमार के पिता टुनटुन साह नगर निगम में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी हैं। रोहित भी वर्ष 2018 में कक्षा नौ से ‘अनोखी पहल’ से जुड़ गए। रोहित ने वर्ष 2021 में इंटर पास किया। कोरोना काल में ‘अनोखी पहल’ की शैक्षिक मदद ऑनलाइन दी जाती रही।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें