DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  UP Police SI Recruitment 2021 : विधानसभा में उठी यूपी पुलिस दारोगा भर्ती की उम्र सीमा में छूट देने की मांग

करियरUP Police SI Recruitment 2021 : विधानसभा में उठी यूपी पुलिस दारोगा भर्ती की उम्र सीमा में छूट देने की मांग

प्रमुख संवाददाता,लखनऊPublished By: Pankaj Vijay
Wed, 03 Mar 2021 09:03 PM
UP Police SI Recruitment 2021 : विधानसभा में उठी यूपी पुलिस दारोगा भर्ती की उम्र सीमा में छूट देने की मांग

उत्तर प्रदेश में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने यूपी पुलिस दारोगा भर्ती ( UP Police SI Recruitment 2021  )  में देरी होने पर उम्र में छूट देने की मांग की है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश पुलिस की तर्ज पर पीएसी कर्मियों को भी पदोन्नति दी जानी चाहिए। उन्होंने विधान सभा में बुधवार को कहा कि पीएसी के जवानों को पदोन्नतियां नहीं मिल पा रही हैं। राज्य सरकार को इसके लिए व्यवस्था करनी चाहिए। उन्होंने शैडो कॉडर न समाप्त करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि शैडो जनप्रतिनिधियों की सेवा करते हैं। इसलिए उनका कॉडर समाप्त नहीं किया जाना चाहिए। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में देरी होने पर भी उम्र में छूट देने की मांग की।

यूपी पुलिस भर्ती 2021 : UPPRPB ने जारी किया 9534 दारोगा भर्ती का नोटिफिकेशन, जानें योग्यता, सैलरी, आवेदन समेत खास बातें

अखिलेश कर्मयोगी हैं
उन्होंने मुख्यमंत्री से चुटकी लेते हुए कहा कि आप योगी हैं, ये तो पता नहीं, लेकिन अखिलेश कर्मयोगी जरूर हैं। उन्होंने यह भी कहा कि आप ऑफिस में कब बैठते हैं पता नहीं, लेकिन आसमान में उड़ते हैं यह जरूरत पता है।

आप रामरतन का काली गाजर का हलुआ तो खिलाएंगे नहीं : योगी
विधानसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नेता प्रतिपक्ष पर खूब तंज कसे। उन्होंने कांट्रैक्ट खेती का विरोध करने पर कहा कि आपके बलिया में रामरतन काली गाजर का हलुआ बनवाते हैं और खेती कांट्रैक्ट खेती कर काली गाजर उगवाते हैं। बुंदेलखंड में बैद्यनाथ कंपनी ने क्या क्रांति नहीं की। वहां औषधीय पौधे उगाकर सैकड़ों लोगों को रोजगार दिया गया है लेकिन नेता प्रतिपक्ष जब तक पूरे सदन को रामरतन का हलुआ नहीं खिलाएंगे तब तक मैं कहता रहूंगा। 

आपने कह दिया बर्तन तो धोते जाइये
राम गोविंद चौधरी ने कहा कि राम रतन का हलुआ अखिलेश यादव के पास भी जाता था, इंदिरा गांधी के पास भी भेजा गया आप जब कहें तो मैं आपको लाकर खिला दूंगा। योगी बोले-जब तक आप पूरे सदन को नहीं खिलाएंगे तब तक मैं नहीं खाऊंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि संसदीय कार्यमंत्री को आपने खालने पर बुलाया था मुझे पता चला लेकिन चलते समय आप कहने लगे बर्तन तो धोते जाइये...आपसे दोस्ती कर धोखा ही मिलेगा...। इस पर राम गोविंद चौधरी ने कहा कि यह बात संसदीय कार्यमंत्री खुद कहें तो मैं मानूंगा...। इस पर सुरेश खन्ना ने कहा कि कहते हैं कि 30 बसंत देखने के बात ‌व्यक्ति की बुद्धि परिपक्व हो जाती है लेकिन लगता है नेता प्रतिपक्ष की 70 बसंत देखने के बाद भी नहीं हो सकी है...। 

संबंधित खबरें