ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUPP UP Police Constable Exam :  यूपी पुलिस आरक्षी पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने दाखिल की चार्जशीट

UPP UP Police Constable Exam :  यूपी पुलिस आरक्षी पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने दाखिल की चार्जशीट

UP Police Constable Exam News :यूपी पुलिस आरक्षी पेपर लीक मामले में जांच एसटीएफ को मिली थी। विवेचना के दौरान 18 गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में पहली चार्जशीट दाखिल कर दी गई है। बाकी आरोपियों के ख

UPP UP Police Constable Exam :  यूपी पुलिस आरक्षी पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने दाखिल की चार्जशीट
Anuradha Pandeyप्रमुख संवाददाता,मेरठFri, 21 Jun 2024 09:20 AM
ऐप पर पढ़ें

यूपी पुलिस पेपर लीक मामले में एसटीएफ मेरठ यूनिट ने 18 आरोपियों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है। कंकरखेड़ा थाने में मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी की गई थी। खुलासा हुआ था कि अहमदाबाद स्थित प्रिंटिंग प्रेस से पेपर आउट करा इसे अलग अलग जगहों पर व्हाट्सएप से साझा किया गया। पेपर लीक की जानकारी पर सरकार ने परीक्षा निरस्त कर दी थी और जांच एसटीएफ को दी थी। इस मामले में अभी कई आरोपी फरार हैं और उनके खिलाफ जांच जारी रहेगी।

यूपी पुलिस आरक्षी भर्ती परीक्षा की लिखित परीक्षा 17 और 18 फरवरी को प्रदेश में विभिन्न सेंटर पर कराई गई थी। परीक्षा से पहले ही नकल माफिया और उनके कुछ साथियों ने पेपर आउट करा कुछ अभ्यर्थियों को बांट दिया था। इसके लिए मोटी रकम वसूली गई थी। मामले में खुलासा उस समय हुआ, जब सोशल मीडिया पर पेपर की उत्तर कुंजी वायरल हो गई। इसके बाद हड़कंप मच गया और शासन ने संज्ञान लिया। परीक्षा निरस्त करते हुए सरकार ने एसटीएफ को जांच दी थी।

UPP UP Police Constable Exam : नई परीक्षा तिथि के ऐलान से पहले यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती को लेकर बड़ा फैसला

 

एसटीएफ मेरठ यूनिट ने कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र में पांच मार्च 2024 को छह आरोपियों दीपक उर्फ दीप, बिट्टू, प्रवीण, रोहित उर्फ ललित, साहिल और नवीन को गिरफ्तार किया। कंकरखेड़ा थाने में मुकदमा अपराध संख्या 166/2024 420, 467, 468, 471, 120-बी और 3/4/ 7/8/9 सार्वजनिक परीक्षा अनुचित साधनों का निवारण अधिनियम में दर्ज किया गया। इसके बाद खुलासा हुआ कि गुरुग्राम मानेसर और मध्यप्रदेश के रीवा स्थित रिसोर्ट में कुल 1200 अभ्यर्थियों को पेपर पढ़ाया गया। 12 मार्च को महेंद्र निवासी जींद हरियाणा को दबोचा गया। अभिषेक शुक्ला, रोहित पांडेय और शिवम गिरी को भी गिरफ्तार किया गया। मानेसर के रिसोर्ट मालिक सतीश धनकड़ को 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया। खुलासा हुआ पेपर रवि अत्री गैंग ने अहमदाबाद स्थित कंपनी के वेयरहाउस से लीक कराया था। एसटीएफ ने रवि अत्री, विक्रम पहल, राजीव नयन मिश्रा, डॉ शुभम मंडल, शिवम गिरी, रोहित, अभिषेक शुक्ला समेत कुल 18 आरोपियों की गिरफ्तारी की।

इन सभी के खिलाफ एसटीएफ मेरठ यूनिट विवेचना-जांच कर रही थी। एसटीएफ ने इन आरोपियों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट में पहली चार्जशीट दाखिल कर दी है। वहीं, अन्य आरोपियों के खिलाफ अभी मुकदमे की विवेचना जारी रखी जाएगी।

यूपी पुलिस आरक्षी पेपर लीक मामले में जांच एसटीएफ को मिली थी। विवेचना के दौरान 18 गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में पहली चार्जशीट दाखिल कर दी गई है। बाकी आरोपियों के खिलाफ विवेचना प्रचलित है। फरार आरोपियों की तलाश में टीम लगी है। आरोपियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई शुरू कराई जाएगी

- ब्रिजेश सिंह, एएसपी, एसटीएफ।

गैंगस्टर की कार्रवाई करेगी पुलिस

नकल कराने वाले इस गिरोह का नेटवर्क तोड़ने को शासन से एसटीएफ को निर्देश मिला है। आरोपियों पर चार्जशीट दाखिल करने के साथ गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। गैंगस्टर लगाने के साथ आरोपियों की संपत्ति का रिकार्ड जुटाकर इन्हें जब्त किया जाएगा। गिरोह में छह राज्य के अपराधी हैं। खासतौर पर यूपी-बिहार और हरियाणा का नेटवर्क सामने आया है।

Virtual Counsellor