ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरUP: शिक्षक पुरस्कार में बढ़ी इंटरव्यू की अहमियत, जिले में तीन शिक्षकों ने किया आवेदन

UP: शिक्षक पुरस्कार में बढ़ी इंटरव्यू की अहमियत, जिले में तीन शिक्षकों ने किया आवेदन

कुल 18 पुरस्कारों में दो-दो प्रधानाचार्य व प्रधानाध्यापक के लिए जबकि 14 शिक्षकों के लिए निर्धारित हैं। प्रदर्शन आधारित मापदंड के लिए पूर्व की तरह इस साल भी 100 अंक निर्धारित किए गए हैं।

UP: शिक्षक पुरस्कार में बढ़ी इंटरव्यू की अहमियत, जिले में तीन शिक्षकों ने किया आवेदन
Saumya Tiwariप्रमुख संवाददाता,प्रयागराजMon, 05 Dec 2022 05:48 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राज्य एवं मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार के चयन में इस साल से साक्षात्कार की अहमियत बढ़ गई है। पहले पुरस्कार के लिए साक्षात्कार और प्रस्तुतिकरण पर पांच अंक मिलते थे। इस साल से आवेदक शिक्षकों को 20 अंक दिए जाएंगे। 20 अंकों में आठ-आठ नंबर विषय/सामान्य ज्ञान और अभिव्यक्ति की योग्यता जबकि चार अंक व्यक्तित्व परीक्षण के लिए रखे गए हैं। पहले जिला, मंडल और राज्य स्तर पर चयन समिति गठित होती थी, इस साल शिक्षा निदेशालय स्तर पर भी कमेटी का गठन किया गया है।

कुल 18 पुरस्कारों में दो-दो प्रधानाचार्य व प्रधानाध्यापक के लिए जबकि 14 शिक्षकों के लिए निर्धारित हैं। प्रदर्शन आधारित मापदंड के लिए पूर्व की तरह इस साल भी 100 अंक निर्धारित किए गए हैं। शिक्षकों से अभिलेख व उत्कृष्ट कार्यों के साथ ही पांच मिनट का वीडियो भी ऑनलाइन मांगा गया है।

जिले में तीन शिक्षकों ने किया आवेदन

प्रयागराज। राज्य एवं मुख्यमंत्री अध्यापक पुरस्कार के लिए जिले से तीन प्रधानाचार्यों एवं शिक्षकों ने ऑनलाइन आवेदन किया है। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने 30 नवंबर तक आवेदन मांगे थे। अब जनपदीय समिति आवेदन पत्रों का परीक्षण एवं स्थलीय सत्यापन करने के बाद 20 दिसंबर तक मंडलीय समिति को प्रस्ताव भेजेगी। मंडलीय समिति पात्र अध्यापकों का चयन कर निदेशालय स्तरीय चयन समिति को 21 दिसंबर से चार जनवरी के बीच ऑनलाइन प्रस्ताव भेजेगी। निदेशालय स्तरीय समिति की ओर से पात्र अध्यापकों का चयन कर पांच जनवरी से 20 जनवरी तक राज्य चयन समिति को ऑनलाइन प्रस्ताव भेजा जाएगा। राज्य स्तरीय चयन समिति 21 जनवरी से चार फरवरी तक चयन की प्रक्रिया पूरी करेगी।