ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरNEET UG Controversy: क्या गलत एप्लीकेशन नंबर पर अपलोड किया गया है आयुषी पटेल का रिजल्ट?

NEET UG Controversy: क्या गलत एप्लीकेशन नंबर पर अपलोड किया गया है आयुषी पटेल का रिजल्ट?

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा एक और विसंगति सामने आई है, जिसमें बताया जा रहा है, कि लखनऊ की एक छात्रा आयुषी पटेल का परिणाम गलत एप्लीकेशन नंबर पर अपलोड कर दिया गया है। आइए जानते हैं क्या है पूरा

NEET UG Controversy: क्या गलत एप्लीकेशन नंबर पर अपलोड किया गया है आयुषी पटेल का रिजल्ट?
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 07:21 PM
ऐप पर पढ़ें

NEET UG Result 2024 Controversy: नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET UG)  परीक्षा के नतीजों के बाद जहां एक ओर परिणाम को रद्द करने की मांग की जा रही है, वहीं लखनऊ, उत्तर प्रदेश की रहने वाली आयुषी पटेल अपने नीट यूजी रिजल्ट को लेकर चर्चा में हैं।

आयुषी पटेल ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक वीडियो के माध्यम से दावा किया है, कि उनका नीट यूजी का रिजल्ट जारी नहीं किया गया था और एनटीए की ओर से उन्हें फटी हुई ओएमआर की फोटो मेल के माध्यम से मिली थी। हालांकि इस पर X पर पोस्ट करते हुए एनटीए ने कहा कि आधिकारिक एनटीए आईडी के माध्यम से आयुषी पटेल को कोई फटी हुई ओएमआर नहीं भेजी गई थी। वहीं आपको बता दें अब आयुषी का रिजल्ट वेबसाइट पर अपलोड किया गया है, लेकिन बताया जा रहा है कि रिजल्ट गलत एप्लीकेशन नंबर से जारी किया गया है, जिसमें छात्रा को 720 में 335 अंक मिले हैं। आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला और आयुषी के रिजल्ट के साथ क्या हुआ?

 

आयुषी पटेल ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक वीडियो के माध्यम से दावा किया था कि उनका नीट यूजी का रिजल्ट 4 जून को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से जारी नहीं किया गया है। जिसके बाद एनटीए से उन्हें एक ईमेल प्राप्त हुआ, जिसमें बताया गया कि फटी और डैमेज ऑप्टिकल मार्क रिकॉग्निशन (OMR) शीट के कारण उनका रिजल्ट जनरेट नहीं किया है। फिर उन्होंने एनटीए को ओएमआर शीट की फोटो भेजने के लिए मेल किया। 24 घंटे के बाद उन्हें ओएमआर शीट की फोटो भेजी गई, जो फटी हुई थी। जिसके बाद एजेंसी की ओर से  दी की गई ओएमआर शीट की चेक करने पर, आयुषी ने आरोप लगाया कि बारकोड जानबूझकर फाड़ा गया था, उनके सभी उत्तर शीट पर स्पष्ट रूप से अंकित थे।

उन्होंने दावा किया, नीट यूजी की फाइनल आंसर से मिलान करते हुए,  NEET स्कोर 715 बनता है, लेकिन मेरा रिजल्ट जनरेट नहीं किया गया। जहां एक ओर आयुषी 720 में से 715 अंकों के होने का दावा कर रही हैं, वहीं दूसरी ओर जनरेट हुए रिजल्ट के अनुसार, आयुषी ने केवल 335 अंक प्राप्त किए हैं, जो उनके दावों के विपरीत है।

एबीपी की रिपोर्ट के अनुसार, आयुषी ने कहा, "मेरा नीट यूजी का रिजल्ट एप्लीकेशन नंबर '240411340741' के तहत वेबसाइट पर उपलब्ध है, लेकिन एडमिट कार्ड में मेरा ओरिजनल एप्लीकेशन नंबर '240411840741' है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि यह मेरी मार्कशीट है। अगर ये मेरी मार्कशीट होती है, तो मेरे एप्लीकेशन नंबर पर होनी चाहिए।  

आयुषी पटेल उन लाखों छात्रों में से एक थीं, जिन्होंने इस साल NEET UG दिया था। आयुषी का आरोप है कि एनटीए ने यह कहकर उनका रिजल्ट जारी नहीं किया कि उनकी ओएमआर शीट फट गई है। जब फाइनल आंसर की अपने स्कोर की गणना करने पर, उन्होंने पाया कि उनके  कुल 720 में से 715 अंकों वाले प्रश्नों के उत्तर सही है। आयुषी ने कहा, एनटीए ने मुझे और मेरे पूरे परिवार को चौंका दिया। ओएमआर शीट फट गई थी, लेकिन मैंने जो बबल्स भरे थे वे दिखाई दे रहे थे"

NTA ने कहा, नहीं भेजा कोई मेल

एनटीए ने आयुषी के दावों का खंडन करते हुआ कि, छात्रा को कोई भी फटी हुई OMR उत्तर पुस्तिका आधिकारिक एनटीए आईडी के माध्यम से नहीं भेजी गई थी। इसके अलावा, उन्होंने पुष्टि की कि आधिकारिक रिकॉर्ड के अनुसार ओएमआर शीट सही है और अंक सटीक हैं। हालांकि, एनटीए की प्रतिक्रिया के बाद, आयुषी ने सवाल किया है कि उनका रिजल्ट उनके एडमिट कार्ड पर उल्लिखित नंबर से अलग एप्लीकेशन नंबर पर कैसे उपलब्ध है?

 

 

Virtual Counsellor