UP D El Ed : minority colleges will have to do admission according to deled rules - UP D.El.Ed : डीएलएड प्रवेश में नहीं चलेगी अल्पसंख्यक कॉलेजों की मनमानी DA Image
19 नबम्बर, 2019|9:58|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP D.El.Ed : डीएलएड प्रवेश में नहीं चलेगी अल्पसंख्यक कॉलेजों की मनमानी

UP D.El.Ed : डीएलएड (पूर्व में बीटीसी) 2019-20 सत्र में प्रवेश में अल्पसंख्यक कॉलेजों की मनमानी नहीं चलेगी। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय एलनगंज की ओर से नये सत्र में प्रवेश की गाइडलाइन में अल्पसंख्यक कॉलेजों पर सख्ती की गई है। प्रदेश में 253 निजी अल्पसंख्यक कॉलेजों की 23750 सीटों में से 50 प्रतिशत सीटों पर सरकार और 50 प्रतिशत कॉलेज प्रबंधन प्रवेश लेते हैं।

कॉलेज प्रबंधन अपने कोटे की सीटों पर प्रवेश खत्म होने के बाद तक प्रवेश देते थे। लेकिन इस बार गाइडलाइन में प्रावधान किया गया है कि कॉलेज प्रबंधन को अपनी 50 प्रतिशत सीटों पर प्रवेश के लिए तीन समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित कराना होगा। इन कॉलेजों का प्रशिक्षण भी डायट व अन्य निजी कॉलेजों के साथ ही शुरू होगा।

UP Board Exam 2020: अगले साल से ये बदलाव करेगा यूपी बोर्ड

निर्धारित तिथि के बाद अल्पसंख्यक कॉलेजों को प्रवेश के लिए अतिरिक्त समय नहीं मिलेगा। प्रवेश में कॉलेज प्रबंधन मेरिट की अनदेखी नहीं करेंगे। प्रवेश के लिए एक समिति बनेगी जिसमें डायट प्राचार्य के नामित प्रतिनिधि सदस्य होंगे। निर्धारित तारीख तक कॉलेज प्रबंधन को प्रवेश लिए गए छात्र-छात्राओं की लिस्ट ऑनलाइन परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय को देनी होगी।

सूचना नहीं देने पर प्रवेश अमान्य हो जाएगा। यदि कोई कॉलेज बिना सूचना दिए किसी छात्र का प्रशिक्षण करवाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP D El Ed : minority colleges will have to do admission according to deled rules