DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP Board Result 2018 आज, ये खबर देगी हाई स्कूल स्टूडेंट्स को राहत

CBSE 12th Result

UP Board Result 2018 - UP High school result 2018 and UP Intermediate result 2018 : यूपी बोर्ड की 10वीं (हाईस्कूल) और 12वीं (इंटरमीडिएट) कक्षा के परीक्षा परिणाम आज दोपहर 12.30 बजे घोषित किए जाएंगे। इस परीक्षा में करीब 66 लाख विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। लेकिन नकल रोकने के लिए इतने सख्त इंतजाम किए गए थे कि 11 लाख विद्यार्थियों ने परीक्षा बीच में ही छोड़ दी। इसके बाद ऐसा कहा जा रहा है कि इस बार यूपी बोर्ड का रिजल्ट खराब आ सकता है। लेकिन छात्र और छात्राओं को इतना डरने की जरूरत नहीं है।

 

यूपी बोर्ड के पूर्व सचिव शैल यादव ने बताया कि छात्रहित में बोर्ड ने पिछले कुछ वर्षों में अपने नियमों में कई बदलाव किए हैं। उन्होंने बताया कि प्रश्नपत्र का प्रारूप भी बदला है। जिसका लाभ सीधे तौर पर छात्र-छात्राओं को मिलेगा। हालांकि उन्होने यह भी कहा कि सख्ती के कारण सफलता प्रतिशत में कमी तो आएगी लेकिन 1992 जैसे हालात नहीं रहेंगे। 

 

दरअसल 1992 में जब कल्याण सिंह मुख्यमंत्री थे तो नकल में सख्ती के वजह से हाईस्कूल में महज 14.70 जबकि इंटर में 30.30 प्रतिशत छात्र-छात्राएं पास हुए थे। पिछले ढाई दशक में बोर्ड के नियमों में व्यापक बदलाव होने के कारण 1992 जैसा खराब रिजल्ट आने के आसार नहीं है। 1992 में हाईस्कूल के छह विषयों में से किसी एक विषय में फेल होने पर परीक्षार्थी फेल हो जाता था। लेकिन अब 6 में से 5 विषय में पास होने पर ही पास कर दिया जाता है।

इससे नियम से बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों को राहत मिलने के आसार है। इसी प्रकार 1992 में कुल 5 नंबर का ग्रेस मार्क्स सिर्फ दो विषयों में मिलता था। अब इंटर में 20 और हाईस्कूल में 18 नंबर का ग्रेस मार्क्स सभी विषयों में मिलाकर मिलता है।

इसके चलते चार-पांच नंबर से फेल हो रहे छात्र पास हो जाएंगे। दो विषयों की बाध्यता नहीं होने के कारण बड़ी संख्या में परीक्षार्थियों को राहत मिलने की संभावना है।

यूं करें रिजल्ट चेक

UP Board result 2018 बोर्ड की आधिकारिक साइट upresults.nic.in पर चेक कर सकेंगे। नतीजे रविवार दोपहर 12.30 बजे आएंगे।

इसके अलावा रिजल्ट लाइव हिन्दुस्तान पर भी चेक कर सकते है।

इस लिंक पर क्लिक करें और चेक कर सकेंगे रिजल्ट

10वीं का रिजल्ट चेक करने के लिए इसलिंक पर क्लिक करें

12वीं का रिजल्ट देखने के लिए क्लिक करें

- 1992 में हाईस्कूल के 14.70 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए थे.
- पिछले 26 सालों में बोर्ड के नियमों में हुए व्यापक बदलाव .
- पहले दसवीं में छह में से एक विषय में फेल पर हो जाते थे फेल.
- अब छह में से पांच विषय में पास पर भी कर दिए जाते हैं पास.
- 1992 में कुल पांच नंबर का ग्रेस सिर्फ दो विषयों में मिलता था.

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP Board Result 2018: The pass percentage of UP Board High School will fall but not lik 1992 check result at upresults nic in