DA Image
18 अक्तूबर, 2020|9:54|IST

अगली स्टोरी

UP Board : कक्षा 11वीं कॉमर्स में एनसीईआरटी आधारित पाठ्यक्रम लागू

madhyamik shiksha parishad uttar pradesh

उत्तर प्रदेश में नए अकादमिक सत्र शुरू होने के पांच महीने बाद ही यूपी बोर्ड ने एनसीईआरटी आधारित पाठ्यक्रम अपने 11वीं कक्षा के कॉमर्स स्ट्रीम के छात्रों के लिए शुरू कर दिया है।

यूपी बोर्ड के इस फैसले क मतलब है कि अगले शैक्षिक सत्र में राज्यभर में बोर्ड से जुड़े करीब 28000 स्कूलों में कॉर्मस स्ट्रीम 12वीं कक्षा में एनसीईआरटी आधारित पाठ्यक्रम लागू हो जाएगा।

परिणाम स्वरूप, यूपी बोर्ड 12वीं कक्षा की परीक्षा 2022 में एनसीईआरटी पाठ्यक्रम पर आधारित होगी। बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) आधारित पाठक्रम आर्ट्स और साइंस के लिए लागू किया जा चुका है।

यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ल ने बताया कि विशेश सचिव (माध्यमिक शिक्षा) आर्यका अखौरी ने 18 सितंबर को एक आदेश माध्यमिक शिक्षा निदेशालय और यूपी बोर्ड को भेजा गया है। इस आदेश में पाठ्यक्रम में बदलाव की स्वीकृति और विवरण के बारे में बताया गया है।

उन्होंने कहा कि 28 अगस्त 2020 को प्रस्ताव पर यूपी बोर्ड से स्वीकृति मिल गई थी।

पुराने पाठ्यक्रम में एक अनिवार्य विषय हिन्दी या सामान्य हिन्दी रखा गया था। साथ ही कई सब्जेक्ट विकल्प के तौर पर थे। लेकिन अब नए पाठ्यक्रम में छात्रों को सामान्य हिन्दी, बिजनेस स्टडीज और अकाउंटैंसी को एक अनिवार्य विषय के रूप में चुनना होगा। वहीं दो विकल्पीय विषय जैसे इकोनॉमिक्स, इंग्लिश, मैथमैटिक्स और कम्प्यूटर होगा।

यूपी बोर्ड ने 1 अप्रैल 2018 को बोर्ड से जुड़े स्कूलो में 18 विषयों का पाठ्यक्रम एनसीईआरटी आधारित पाठ्यक्रम लागू करने की बात कही थी।

कॉमर्स स्ट्रीम में कक्षा 9 में 41612 और 11वीं में 71,834 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP Board: NCERT based syllabus introduced in class 11th commerce stream