DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी बोर्ड परीक्षा 2019: अंग्रेजी माध्यम ने मारी बाजी, स्कूलों में निकले टॉपर

cbse patna

यूपी बोर्ड परीक्षा 2019 में अंग्रेजी माध्यम ने बेहतर प्रदर्शन किया। स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम से अधिकांश तौर पर टॉपर निकले हैं। वहीं कुछ स्कूलों का तो परिणाम भी 100 प्रतिशत रहा है। जबकि पिछले साल अंग्रेजी माध्यम का परिणाम संतोष जनक रहा था। 

खालसा गर्ल्स इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ. मनु भारद्वाज ने बताया कि अंग्रेजी माध्यम से धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ी है और पिछले साल के मुकाबले इस बार बेहतर प्रदर्शन कर शानदार परिणाम आया। यही नहीं, स्कूलों में टॉपर्स भी अंग्रेजी माध्यम के ही निकले हैं। आरजी इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ. रजनी रानी शंखधर का कहना है कि अंग्रेजी माध्यम का परिणाम बेहतर रहा है। जबकि पिछले साल बेहतर प्रदर्शन नहीं था, लेकिन इस बार अंग्रेजी माध्यम बहुत शानदार रहा है।

up board result 2019: देखें यूपी बोर्ड इंटर और हाई स्कूल के जिलेवार नतीजे

अंग्रेजी माध्यम में वक्त जरुर लगा है, लेकिन पठन-पाठन पटरी पर आ गया है। पिछले वर्ष यूपी बोर्ड का रिजल्ट हिंदी माध्यम में बेहतर रहा। इसी तरह से श्री मल्लू सिंह मटौर आर्य कन्या इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ. नीरा तोमर ने बताया कि उन्होंने भी इस साल से अंग्रेजी माध्यम शुरू कर दिया है। अंग्रेजी माध्यम में बच्चों की रुचि ज्यादा देखने को मिल रही है। 

यूपी बोर्ड हाईस्कूल-इंटरमीडिएट के परीक्षा परिणाम में भी स्कूलों ने पूरा दम दिखाया है। राजकीय हाईस्कूलों में कौल मवाना का रिजल्ट 84 प्रतिशत, राजकीय हाईस्कूल कुढ़ला का 83.67 और हाईस्कूल रठौरा खुर्द 83.00 और खिर्वानौवाबाद 82.67 परीक्षा परिणाम रहा। 

यूपी बोर्ड हाईस्कूल-इंटरमीडिएट के परीक्षा परिणाम में भी स्कूलों ने पूरा दम दिखाया है। राजकीय हाईस्कूलों में कौल मवाना का रिजल्ट 84 प्रतिशत, राजकीय हाईस्कूल कुढ़ला का 83.67 और हाईस्कूल रठौरा खुर्द 83.00 और खिर्वानौवाबाद 82.67 परीक्षा परिणाम रहा। 

अंग्रेजी माध्यम में वक्त जरुर लगा है, लेकिन पठन-पाठन पटरी पर आ गया है। पिछले वर्ष यूपी बोर्ड का रिजल्ट हिंदी माध्यम में बेहतर रहा। इसी तरह से श्री मल्लू सिंह मटौर आर्य कन्या इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ. नीरा तोमर ने बताया कि उन्होंने भी इस साल से अंग्रेजी माध्यम शुरू कर दिया है। अंग्रेजी माध्यम में बच्चों की रुचि ज्यादा देखने को मिल रही है। 

11वीं में होगा अब स्थायी प्रवेश 

माध्यमिक में 11वीं में आज से ही स्थायी प्रवेश की प्रक्रिया शुरु हो जाएगी। अभी तक 11वीं में अस्थायी प्रवेश हुए थे। जबकि अब स्थायी प्रवेश प्रक्रिया होगी।.

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP Board Examination 2019: English medium tops toppers in schools