ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरजारी हो चुकी है UP बोर्ड परीक्षा की डेटशीट, लेकिन अभी भी अधूरा है सिलेबस, जानें वजह

जारी हो चुकी है UP बोर्ड परीक्षा की डेटशीट, लेकिन अभी भी अधूरा है सिलेबस, जानें वजह

यूपी बोर्ड डेटशीट 2024 जारी कर दी गई है। माध्यमिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश ने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं का टाइम टेबल जारी कर दिया है, लेकिन अभी भी कई स्कूलों में सिलेबस कम है। आइए विस्तार

जारी हो चुकी है UP बोर्ड परीक्षा की डेटशीट, लेकिन अभी भी अधूरा है सिलेबस, जानें वजह
Priyanka Sharmaहिंदुस्तान टीम,अंबेडकर नगरSat, 09 Dec 2023 07:25 PM
ऐप पर पढ़ें

UP BOARD Exam 2024: यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 22 फरवरी से शुरू होकर नौ मार्च तक चलेंगी। पूरी परीक्षा के लिए जो समय निर्धारित है वह 17 दिन का है, लेकिन हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं केवल 12 दिन में ही होंगी। शेष पांच दिन ऐसे हैं जिसमें अलग-अलग विषयों के परीक्षार्थी अपना रिवीजन करेंगे। अभी विद्यालयों में सिलेबस भी पूरे नहीं हुए हैं। जानकारी के अनुसार 75 से 80 फीसदी कोर्स अब तक पूरे हो सके हैं। आने वाले दिनों में ठंड छुट्टी और फिर प्री बोर्ड परीक्षाएं होनी है। ऐसे में कोर्स पूरा करना और फिर उनको रिवाइज करना आसान नहीं नजर आ रहा है।

परीक्षा तिथि घोषित होने के बाद हिन्दुस्तान ने जिले के अलग-अलग विद्यालयों में कोर्स पूरा होने के संबंध में परीक्षार्थियों से जानकारी हासिल की। उसके अनुसार विद्यालय में अभी कोर्स पूरे नहीं हुए हैं। नगर के बीएन इंटर कॉलेज के कक्षा 10 के छात्र दिनेश ने बताया अभी कोर्स 80 फीसदी ही पूरा हो पाया है। बीच-बीच में छुट्टियां और कभी-कभी टीचर के अवकाश पर होने के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई। राम अवध जनता इंटर कॉलेज के कक्षा 12 के छात्र विवेक वर्मा ने बताया कि परीक्षा तिथि घोषित होने के बाद आनन फानन में कोर्स पूरा करने पर जोर दिया जा रहा है। आने वाले दिनों में प्री बोर्ड एग्जाम है। कब कोर्स पूरा होगा और कब रिवाइज किया जाएगा? कुछ समझ में नहीं आ रहा है। अच्छी तैयारी न होने पर बोर्ड परीक्षा में नंबर काम आएंगे। आने वाले समय में ठंड बढ़ेगी तो छुट्टियां भी होंगी। इससे भी समस्या आएगी। एक परीक्षार्थी ने बताया कि क्योंकि परीक्षा का जो शेड्यूल जारी किया गया है वह काफी कम समय का है। इसमें पहले से तैयारी न करने पर दिक्कत होगी। ऐसे में समय से कोर्स पूरा होना बहुत जरूरी है। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के मंडल अध्यक्ष उदयराज मिश्र का कहना है कि कोर्स लगभग पूरा होने वाला है। अधिकतम जनवरी के प्रथम सप्ताह तक कोर्स पूरा हो जाएगा।

दिसंबर महीने में छुट्टियां खत्म करने में जुटे हैं गुरुजी:माध्यमिक शिक्षा परिषद की तरफ से इस वर्ष से छुट्टियों की गणना जनवरी से दिसंबर तक की गई है। ऐसे में विद्यालयों में दिसंबर का महीना होने के कारण छुट्टियां लेने की भी होड़ चल रही है। शिक्षक तेजी से अपनी छुट्टियां खत्म करने में जुटे हुए हैं। हालांकि विभाग की तरफ से निर्देश है ऑनलाइन अवकाश लेते समय एक तिहाई से अधिक शिक्षकों को अवकाश पर नहीं जाने का आदेश है। प्रधानाचार्य एक तिहाई से अधिक शिक्षकों के अवकाश प्रार्थना पत्र आने पर उसे रिजेक्ट भी कर सकते हैं।

अभी तक नहीं बन सके हैं परीक्षा केंद्र

बोर्ड परीक्षा की तिथियां भले ही घोषित हो गई है, लेकिन अभी तक परिषद की ओर से परीक्षा केंद्रों का अंतिम रूप से निर्धारण ही नहीं किया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय अंतिम रूप से परीक्षा केंद्रों को निर्धारित करने के लिए कड़ी मशक्कत कर रहा है, क्योंकि केंद्र बनाने के लिए लंबी चौड़ी पैरवी भी आ रही है। इसलिए समय लग रहा है।

अधिकारी ने कहा ये बातें

सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को यह निर्देश दिया गया है कि शैक्षिक पंचांग के अनुसार समय से कोर्स पूरा करते हुए छात्रों को रिवीजन कराएं। जरूरत होगी तो अतिरिक्त कक्षाओं का संचालन कर कोर्स पूरा कराया जाएगा। किसी भी विद्यालय से कोर्स पूर्ण न होने की शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित विद्यालय के प्रधानाचार्य खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें