UP Board Exam 2020 : know how to get good marks in inter history paper read tips here - UP Board Exam 2020 : यूपी बोर्ड इंटर हिस्ट्री के पेपर में यूं पाएं अच्छे मार्क्स DA Image
19 नबम्बर, 2019|9:25|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP Board Exam 2020 : यूपी बोर्ड इंटर हिस्ट्री के पेपर में यूं पाएं अच्छे मार्क्स

NCHM JEE 2019: Apply before March 15, exam on April 27(HT File)

यूपी बोर्ड की इंटर इतिहास की परीक्षा 28 फरवरी को होगी। एक अप्रैल 2019 को 12वीं में एनसीईआरटी आधारित कोर्स लागू हुआ था। जिसकी पहली बोर्ड परीक्षा होने जा रही है। बोर्ड के विशेषज्ञ नए पैटर्न पर जो पेपर तैयार कर रहे हैं उसमें एक-एक नंबर के 10 बहुविकल्पीय और दो-दो अंक के पांच अति लघुउत्तरीय प्रश्न होंगे।

पांच-पांच नंबर के छह लघु उत्तरीय प्रश्न रहेंगे जिनके उत्तर 100 से 150 शब्दों में देना है। 10-10 अंक के तीन दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे जिनके उत्तर 350 से 500 शब्दों में देना है। छात्रों से दो-दो अंकों के पांच मानचित्र अंकन संबंधी प्रश्न भी पूछे जाएंगे। इसके लिए छात्रों को मानचित्र दिया जाएगा। एक-एक अंक के दस प्रश्न ऐतिहासिक तिथियों से संबंधित होंगे। इतिहास की परीक्षा में कुल 39 प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। छात्र निर्धारित समय में प्रश्नपत्र हल करने का अभ्यास करें। छात्रों से परीक्षा में 30 प्रतिशत सरल, 50 फीसदी सामान्य और 20 प्रतिशत कठिन प्रश्न पूछे जाएंगे। जीआईसी में इतिहास के प्रवक्ता डॉ. हिमांशु सिंह के अनुसार इतिहास मानविकी वर्ग का महत्वपूर्ण विषय है। इसमें अतीत की घटनाओं का वर्तमान परिप्रेक्ष्य में पुनरावलोकन किया जाता है। विभिन्न साक्ष्यों जैसे साहित्यिक, पुरातात्विक और विदेशी यात्रियों के विवरण के आधार पर इतिहास समझने की प्रक्रिया एनसीईआरटी पाठ्यक्रम के अनुसार सरल व सुगम हुई है। 2019 की परीक्षा में इतिहास विषय के लिए 2,22,263 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। 2,03,237 परीक्षा में शामिल हुए और उनमें से 1,35,525 (66.68 प्रतिशत) छात्र-छात्राएं पास थे।

UP Board Exam 2020: इंटर गणित में इन टॉपिक्स में आपके पूरे अंक, पढ़ें एक्सपर्ट के टिप्स

- 28 करें तैयारी 28 फरवरी को बदले पैटर्न पर होगी इंटर इतिहास की परीक्षा 
- एक-एक अंक के दस प्रश्न ऐतिहासिक तिथियों से होंगे
 
टिप्स
- इतिहास की तैयारी रटकर नहीं, बल्कि समझ कर करें 
- पूरे कोर्स का अध्ययन अवश्य करें। परीक्षा के दौरान समय प्रबंधन का ध्यान रखें। 
- दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों के उत्तर के लिए नोट्स अवश्य बनाएं। उत्तर निर्धारित शब्दसीमा में लिखने का पूर्वाभ्यास अवश्य कर लें। महत्वपूर्ण बिंदुओं को हमेशा ध्यान में रखें। 
- मानचित्र अंकन का ध्यानपूर्वक अभ्यास करें। 
- बहुविकल्पीय एवं अतिलघुउत्तरीय प्रश्न समझने के लिए पूरा कोर्स तैयार करें। 
- महत्वपूर्ण ऐतिहासिक तिथियां अवश्य याद रखें। 
- मॉडल प्रश्नपत्र तय समय में हल करने का अभ्यास करें। 
- आपका परिश्रम आपकी उत्तरपुस्तिका में दिखना चाहिए। आपका लेखन साफ, सुथरा व स्पष्ट होना चाहिए।

डॉ. हिमांशु सिंह (प्रवक्ता इतिहास, जीआईसी प्रयागराज) ने कहा- छात्रों को प्रश्नों का उत्तर लिखते समय यह ध्यान रखना होगा कि इतिहास मात्र तथ्यों का संकलन नहीं बल्कि यह एक समीक्षात्मक और विवेचनात्मक विषय है। छात्रों ने सुनियोजित अध्ययन कर विषय में विगत वर्षों में 100 में से 90 नंबर तक पाए हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP Board Exam 2020 : know how to get good marks in inter history paper read tips here