DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › UP Board 12th Toppers List 2020: ये हैं यूपी बोर्ड 12वीं के टॉपरों की पूरी लिस्ट
करियर

UP Board 12th Toppers List 2020: ये हैं यूपी बोर्ड 12वीं के टॉपरों की पूरी लिस्ट

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Pankaj Vijay
Sat, 27 Jun 2020 02:40 PM
UP Board 12th Toppers List 2020: ये हैं यूपी बोर्ड 12वीं के टॉपरों की पूरी लिस्ट

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड की 2020 परीक्षा के परिणाम शनिवार को घोषित कर दिये गये। हाईस्कूल में 83.31 फीसदी विद्या सफल हुये जबकि इंटरमीडिएट में 74.63 प्रतिशत छात्र छात्राओं ने बाजी मारी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत जिले के मेधावियों ने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया। हाईस्कूल में जिले की रिया जैन ने 96.67 फीसदी अंक प्राप्त कर पहला स्थान प्राप्त किया जबकि इंटरमीडिएट परीक्षा में बागपत के ही छात्र अनुराग मलिक ने 97 प्रतिशत अंकों के साथ प्रदेश में टाप किया। उप मुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने लखनऊ के लोकभवन में परीक्षा परिणाम घोषित किये। इस मौके पर अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा अराधना शुक्ला और अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी मौजूद थे। यह पहला मौका था जब प्रयागराज से बाहर यूपी बोर्ड के परीक्षा परिणाम की घोषणा की गयी।

12वीं के टॉपर
रैंक 1- अनुराग मलिक - 97 फीसदी मार्क्स - श्री राम एस एम इंटर कॉलेज, बड़ौत-बागपत 
रैंक 2- प्रांजल सिंह - 96 फीसदी मार्क्स - एसपी इंटर कॉलेज सिकारो कोरांव, प्रयागराज
रैंक 3-  उत्कर्ष शुक्ला, 94.80 फीसदी मार्क्स - श्री गोपाल इंटर कॉलेज, औरैया

रैंक 4- वैभव द्विवेदी, - 94.40 फीसदी, ब्रिलियंट एकेंडमी इंटर कॉलेज, उन्नाव
रैंक 5- अकांक्षा, 94 फीसदी मार्क्स, श्री विश्वनाथ इंटर कॉलेज, सुल्तानपुर 
रैंक 6 - गरिमा कौशिक, 93.80 फीसदी मार्क्स, श्री राम इंटर कॉलेज, बड़ौत
रैंक 7 - पूजा मौर्या - 93.60, धर्मा देवी बद्री प्रसाद एस आई सी कुरवार, सुल्तानपुर
रैंक 8- अंकुश राठौर, 93.00 फीसदी मार्क्स, पंडित दीन दयाल उपाध्याय एसवीएम इंटर कॉलेज
रैंक 8 - मनु मिश्रा - 93.00 फीसदी मार्क्स, जय मां एसजीएम आईसी राधा नगर, फतेहाबाद
रैंक 9 - केशव, 92.80 फीसदी मार्क्स- लखनऊ पब्लिक कॉलेज, राजाजीपुरम, लखनऊ
रैंक 10 - रिद्धिमा - 92.60 फीसदी मार्क्स - त्रिवेणी काशी इंटर कॉलेज बिहार उन्नाव

10वीं के टॉपर

रैंक    नाम            अंक व फीसदी                         स्कूल
1     रिया जैन    580- 96.67 फीसदी    श्री राम एसएम इंटर कॉलेज बड़ौत
2    अभिमन्यु वर्मा    575 95.83 फीसदी    श्री साईं इंटर कॉलेज, लखपेराबाग बाराबंकी
3    योगेश प्रताप सिंह      572- 95.33 फीसदी    सद्भावना इंटर कॉलेज, जीवल बाराबंकी
4    गौरव                    569- 94.83 फीसदी    चित्रगुप्त इंटर कॉलेज,मुरादाबाद
4    शोभित कुमार     569- 94.83 फीसदी    अनुभव इंटर कॉलेज, कानपुर नगर
4    शिवानी वर्मा      569- 94.83 फीसदी    सरदार सिंह कॉन्वेंट इंटर कॉलेज, महमूदाबाद
5    नितीश  कुमार    568- 94.67 फीसदी    श्री साईं इंटर कॉलेज, जैदपुर बाराबंकी
5    अंशिका बघेल     568 - 94.67 फीसदी         एसडीएलबीएसएम एसवीजी इंटर कॉलेज, फतेहाबाद आगरा
5    हिमांशु विश्वकर्मा    568- 94.67 फीसदी        एसबीएमआईसी रघवंशपुरम फतेहपुर
6    ऋषभ सिंह     567- 94.50 फीसदी    रामरूप मेमो. इंटर कॉलेज, बुधनपुर
6    उज्ज्वल तोमर      567- 94.50 फीसदी    श्री राम एसएम इंटर कॉलेज बड़ौत
6    निशांत पटेल     567- 94.50 फीसदी    सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज, फतेहपुर
6    दीक्षा पांडेय    567- 94.50 फीसदी    कार्मेल इंटर कॉलेज, महराजगंज
7    अर्पित यादव      566- 94.33 फीसदी      अर्चना मेमोरियल एसजीएम इंटर कॉलेज, इटावा
7    अर्पित वर्मा    566  - 94.33 फीसदी     प्रतिभा इंटर कॉलेज, देवा बाराबंकी
7    काजल    566- 94.33 फीसदी    जेके इंटर कॉलेज तामसी हाथरस
7    आस्था श्रीवास्तव    566- 94.33 फीसदी    न्यू आदर्श शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज मरई बाग दलमऊ
7    दीपिका      566- 94.33 फीसदी    मा नारायणी इंटर कॉलेज, जसवंत नगर इटावा
8    नमन    565- 94.17 फीसदी    एमआरडीआईसी दौलतपुर छिबिया, इलाहाबाद
8    अंकित अग्निहोत्री    565 - 94.17 फीसदी     एसएसआईसी मुस्तफापुर हुसैनगंज फतेहपुर
8    आकाश रावत    565- 94.17 फीसदी     पॉयनियर मोंटेसरी हाई स्कूल, एसपी नगर बाराबंकी
8    श्रृष्टि    565- 94.17 फीसदी    ब्रिज बिहारी सहाई इंटर कॉलेज शिवकुटी प्रयागराज
8    भानवी द्विवेदी     565- 94.17 फीसदी    एसबीएमआईसी रघवंशपुरम फतेहपुर
9    शोभित वर्मा      564- 94.00 फीसदी    एसजेपी अग्रवाल स्मारक इंटर कॉलेज, अलीगढ़
9    रोशन चौरसिया    564  - 94.00 फीसदी    वीपीएसएम आईसी भींड, प्रतापगढ़
9    अंकुश दुबे    564    सरस्वती वीएम आईसीजेके कादीपुर सुल्तानपुर
9    आकाश कुशवाहा    564- 94.00 फीसदी    एस भगवान राम उम्मीद सिंह एचएस नगलाबेल आगरा
9    अलीशा अंसारी      564- 94.00 फीसदी     बाल निकुंज इंटर कॉलेज, श्री नगर मोहिपुल्लापुर मडियो
9    गार्गी यादव    564- 94.00 फीसदी    बृजबिहारी सहाई इंटर कॉलेज, शिवकुटी प्रयागराज
10    अरशद इकबाल      563- 93.83 फीसदी      पंडित आरएन एमएचएसएस अल्लाहगंज शाहजहांपुर
10     वैशाली शर्मा     563- 93.83 फीसदी    वीना पानी इंटर कॉलज मलिक मऊ रायबरेली
10    अरशिमा शेख     563 - 93.83 फीसदी     सेंट जेवियर स्कूल नारामऊ मनधाना कानपुर
10     अलका सिंह     563 - 93.83 फीसदी,    सेंट इंटर कॉलेज सिकारो कोराओन इलाहाबाद

डॉ. शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत छात्रों के मुकाबले इस बार भी अधिक रहा। हाईस्कूल परीक्षा में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 87.22 है जबकि 80.12 प्रतिशत छात्र पास हुये हैं। इसी तरह इंटरमीडिएट में छात्रों के मुकाबले 13 फीसदी अधिक छात्रायें उत्तीर्ण हुयीं।
       
उन्होने बताया कि हाईस्कूल में बागपत की रिया जैन ने बाजी मारी जबकि बाराबंकी के अभिमन्यु वमार् 95.83 फीसदी अंक पाकर दूसरे स्थान पर रहे। बाराबंकी के ही योगेश प्रताप सिंह को तीसरा स्थान हासिल हुआ। उन्हे 95.33 प्रतिशत अंक प्राप्त हुये हैं।
      
इंटरमीडिएट में बागपत के अनुराग मलिक ने 97 फीसदी अंको के साथ पहले स्थान पर रहे जबकि प्रयागराज के प्रांजल 96 प्रतिशत अंक दूसरे और औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.80 फीसदी अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

डॉ शर्मा ने कहा कि इस बार की बोर्ड परीक्षा में 51 लाख 30 हजार 481 परीक्षार्थी शामिल हुये जिसमें हाईस्कूल में 27 लाख 44 हजार 976 और इंटरमीडियेट में 23 लाख 85 हजार 505 परीक्षार्थी शामिल हुये। पिछले साल की तुलना में इस साल परीक्षा परिणाम बेहतर रहे है। इस बार पहली बार इंटरमीडिएट में कंपार्टमेंट की व्यवस्था की गई है, यानी असफल परीक्षाथीर् को एक बार फिर पास होने का मौका मिलेगा। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल कोरोना संकट के ठीक पहले हाईस्कूल की परीक्षा 12 दिन तथा इंटरमीडिएट परीक्षा को 15 दिन में पूरा कराया जो एक रिकार्ड है। इसके अलावा कोरोना संक्रमण के कारण घोषित लाकडाउन के बावजूद मात्र तीन सप्ताह में दो करोड़ 96 लाख कॉपियों का मूल्यांकन किया गया जो निसंदेह एक उपलब्धि है। 

डॉ. शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत छात्रों के मुकाबले इस बार भी अधिक रहा। हाईस्कूल परीक्षा में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 87.22 है जबकि 80.12 प्रतिशत छात्र पास हुये हैं। इसी तरह इंटरमीडिएट में छात्रों के मुकाबले 13 फीसदी अधिक छात्रायें उत्तीर्ण हुयीं।
       
उन्होने बताया कि हाईस्कूल में बागपत की रिया जैन ने बाजी मारी जबकि बाराबंकी के अभिमन्यु वमार् 95.83 फीसदी अंक पाकर दूसरे स्थान पर रहे। बाराबंकी के ही योगेश प्रताप सिंह को तीसरा स्थान हासिल हुआ। उन्हे 95.33 प्रतिशत अंक प्राप्त हुये हैं।
      
इंटरमीडिएट में बागपत के अनुराग मलिक ने 97 फीसदी अंको के साथ पहले स्थान पर रहे जबकि प्रयागराज के प्रांजल 96 प्रतिशत अंक दूसरे और औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.80 फीसदी अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहे।
     
डॉ शर्मा ने कहा कि इस बार की बोर्ड परीक्षा में 51 लाख 30 हजार 481 परीक्षार्थी शामिल हुये जिसमें हाईस्कूल में 27 लाख 44 हजार 976 और इंटरमीडियेट में 23 लाख 85 हजार 505 परीक्षार्थी शामिल हुये। पिछले साल की तुलना में इस साल परीक्षा परिणाम बेहतर रहे है। इस बार पहली बार इंटरमीडिएट में कंपार्टमेंट की व्यवस्था की गई है, यानी असफल परीक्षाथीर् को एक बार फिर पास होने का मौका मिलेगा। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल कोरोना संकट के ठीक पहले हाईस्कूल की परीक्षा 12 दिन तथा इंटरमीडिएट परीक्षा को 15 दिन में पूरा कराया जो एक रिकार्ड है। इसके अलावा कोरोना संक्रमण के कारण घोषित लाकडाउन के बावजूद मात्र तीन सप्ताह में दो करोड़ 96 लाख कॉपियों का मूल्यांकन किया गया जो निसंदेह एक उपलब्धि है। 

डॉ० शर्मा ने बताया कि हाईस्कूल में बागपत की रिया जैन ने 96.67 फीसद अंक प्राप्त कर पहला स्थान प्राप्त किया। दूसरे नंबर पर बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा 95.83 फीसद अंक पाकर रहे। बाराबंकी के ही योगेश प्रताप सिंह तीसरे नंबर पर रहे उन्हें 95.33 फीसद अंक मिले हैं। उन्होंने कहा कि इंटरमीडिएट में बागपत के अनुराग मलिक ने पहला स्थान प्राप्त किया उन्हें 97 फीसद अंक प्राप्त हुए हैं। दूसरे नंबर पर प्रयागराज के प्रांजल 96 प्रतिशत अंक पाकर रहे और तीसरे नंबर पर औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.8० फीसद अंक प्राप्त कर रहे।

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि इस बार 1०वीं व 12वीं की परीक्षा में कुल  51,30,481 परीक्षार्थी शामिल हुए। जिसमें 10वीं में 27,44,976 परीक्षार्थी तथा 12 में 23,85, 505 परीक्षार्थी शामिल रहे। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष की तुलना में इस परीक्षा परिणाम अच्छे रहे। इस परीक्षा में सम्मिलित प्रदेश के 27,72,656 परीक्षार्थियों में से 14,90,814 बालक और 12,81,842 बालिकाएं हैं। इनमें से 11,90,888 बालक और 11,18,914 बालिकाएं उत्तीर्ण हुई हैं। बालकों का उत्तीर्ण प्रतिशत 79.88 और बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 87.29 है। बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों के उत्तीर्ण प्रतिशत से 7.41 अधिक है।
        
उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण काल में यह परिणाम घोषित होना बड़ी उपलब्धि है। दो करोड़ 96 लाख कॉपियों का को 21 दिनों में जांचना भी बड़ी उपलब्धि है। इस बार नकल विहीन परीक्षा हो इसके लिए पयार्प्त इंतजाम किए गए थे। लखनऊ से परीक्षा केंद्रों का लाइव मॉनीटरिंग की जा रही थी। इस बात परीक्षा में तकनीक का पूर उपयोग किया गया। इस बार पहली बार इंटरमीडिएट में कंपर्टमेंट की व्यवस्था की गई है। जो उनुत्तीर्ण हुए हैं उन्हें भी फिर उत्तीर्ण होने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि हमने इस बार रिकॉर्ड समय में हमने परीक्षा सम्पन्न कराई। हाईस्कूल की परीक्षा 12 दिन तथा इंटरमीडिएट परीक्षा को 15 दिन में पूरा कराया। नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए हमने हाईटेक व्यवस्था की थी। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार भी छात्राओं ने बाजी मारी है। बालिकाओं का उत्तीर्ण प्रतिशत बालकों से अधिक है। उन्होंने कहा कि हमने हर तरफ सुचिता का खयाल रखा। इस बार 7783 परीक्षा केंद्र बनाए गए है, वर्ष 2017 की अपेक्षा काफी कम थे। पहला बार यूपी बोर्ड में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम लागू किया गया। आज पाठ्यक्रम की पुस्तकों के दाम साठ फीसद तक कम हैं।

उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष की तुलना में इस परीक्षा परिणाम अच्छे रहे। वहीं, यूपी सरकार ने टॉपर्स को तोहफा दिया है। टॉपर्स को लैपटॉप दिया जाएगा। इसके अलावा एक लाख रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। 20 टॉपर्स के घर तक पक्की सडक बनाई जाएगी। 

इस अवसर पर प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा अराधना शुक्ला ने कहा कि कोरोना काल में इतनी बड़ी परीक्षा का परिणाम घोषित कर उत्तर प्रदेश आज इतिहास रचने जा रहा है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष की तुलना में इस परीक्षा परिणाम अच्छे रहे। 

 

संबंधित खबरें