ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUP Board 12th Results 2024: विशु चौधरी की आई दूसरी रैंक, 15 से 16 घंटे करते थे पढ़ाई, बनना चाहते हैं डॉक्टर

UP Board 12th Results 2024: विशु चौधरी की आई दूसरी रैंक, 15 से 16 घंटे करते थे पढ़ाई, बनना चाहते हैं डॉक्टर

UP Board 12th:उत्तर प्रदेश माध्यमिक परिषद (UPMSP) ने कक्षा 12वीं के रिजल्ट की घोषणा कर दी है। इस साल परीक्षा में दूसरा स्थान बागपत के विशु चौधरी ने हासिल किया है। अब वह डॉक्टर बनना चाहते हैं।

UP Board 12th Results 2024: विशु चौधरी की आई दूसरी रैंक, 15 से 16 घंटे करते थे पढ़ाई, बनना चाहते हैं डॉक्टर
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 20 Apr 2024 10:24 PM
ऐप पर पढ़ें

UP Board 12th Results 2024: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) ने  कक्षा 12वीं की परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया है। जिसमें बागपत के विशु चौधरी ने दूसरा स्थान हासिल किया है। उनके परीक्षा में 500 में से 488 अंक (97.60%) आए हैं। एक नंबर से वह यूपी बोर्ड परीक्षा में पहला स्थान हासिल करने से चूक गए हैं। आइए जानते हैं उनके बारे में और क्या है उनका फ्यूचर प्लान।

 

 

विशु चौधरी श्री राम कॉलेज के डायरेक्टर उपेंद्र सिंह चौधरी के बेटे हैं। उन्होंने श्री राम एस एम इंटर कॉलेज बड़ौत बागपत से कक्षा 12वीं की परीक्षा में दूसरा स्थान हासिल किया है। विशु ने बताया यूपी बोर्ड की तैयारी के लिए वह दिन में 15 से 16 घंटे पढ़ाई किया करते थे। कभी - कभी पढ़ाई  उससे ज्यादा भी हो जाती थी। तैयारी के दौरान मैं टॉपिक के कॉन्सेप्ट को समझने और ज्यादा से ज्यादा लिखने की प्रैक्टिस किया करता था'

विशु ने आगे कहा,' यूपी बोर्ड में इस बात को महत्व दिया जाता है कि आपकी प्रेजेंटेशन कैसी है और आप किस तरह लिख रहे हो। मैंने इन सभी बातों का खास ध्यान रखा। इसी के साथ उन्होंने कहा, मेरी सफलता का श्रेय मेरे टीचर्स को जाता है, क्योंकि उन्होंने ही हमें बताया कि परीक्षा में कैसे लिखना है और अगर किसी प्रश्न का उत्तर नहीं आता है, या कुछ भूल रहे हैं तो उसे कैसे याद करना है। हमारे टीचर्स की मेहनत का नतीजा है जो आज मैं अच्छा रिजल्ट हासिल कर पाया हूं।

उन्होंने आगे कहा, 'टीचर्स ने प्री बोर्ड में हमारी काफी अच्छी तैयारी करवाई थी। फाइनल परीक्षा में बैठने पर बिल्कुल भी नहीं लग रहा था कि हम यूपी बोर्ड की परीक्षा देने बैठे हैं'

बता दें, इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षा में शुभम वर्मा ने पहला स्थान हासिल किया है। इस पर विशु ने कहा, मुझे इस बात को अफसोस नहीं है कि मेरी पहली रैंक नहीं आई है, लेकिन मैंने यूपी बोर्ड की मेरिट लिस्ट में आने का लक्ष्य रखा था, खुशी है मैं इसे पूरा कर पाया हूं। क्योंकि पिछली बार मैं इस लक्ष्य को हासिल करने से चूक गया था'

फ्यूचर प्लान के बारे में बात करते हुए विष्णु ने कहा कि वह डॉक्टर बनना चाहते हैं। सफलता के लिए टीचर्स का सही गाइडेंस का होना सबसे जरूरी है। सभी ने मेरे अंदर काबिलियत देखी और उसे बढ़ावा दिया, मैं उनकी वजह से आज सफल हो पाया हूं। कई बार मैं हार मान जाता था, लेकिन वे सभी मुझे याद दिलाते थे कि मेरे अंदर कुछ खास बात है और मैं कर सकता हूं'

विशु ने बताया, यूपी बोर्ड की तैयारी के दौरान मेरा पूरा फोकस पढ़ाई पर रहता था और मैं इस दौरान सोशल मीडिया से दूर रहा,  ताकि किसी भी प्रकार का डिस्ट्रैक्शन न हो।

 

Virtual Counsellor