DA Image
17 फरवरी, 2021|7:33|IST

अगली स्टोरी

यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 : एग्जाम से पहले छात्र नहीं, स्कूलों को मेरिट की चिंता

gti entrance exam started under the scope of covid 19 rules

यूपी बोर्ड ने वर्ष 2020-21 की हाईस्कूल व इंटरमीडिए बोर्ड परीक्षाओं के लिए केंद्र निर्धारण नीति जारी कर दी है। अब स्कूलों को अपनी आधारभूत सूचनाएं वेबसाइट पर अपलोड करनी होगी। हर सुविधा के अंक हैं। इन अंकों से मेरिट बनेगी। मेरिट के आधार पर केंद्र तय होंगे। स्कूल मेरिट में स्थान बनाने को जुट गए हैं। 

इस बार कोरोना के कारण केंद्र निर्धारण के मानकों में परिवर्तन भी किया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए दोनों पालियों में आवंटित परीक्षार्थियों की कुल संख्या न्यूनतम 150 और अधिकतम 800 कर दी गई है। अभी तक यह संख्या 300 और 1200 तक थी। गाइडलाइन के अनुसार प्रत्येक छात्र को बैठने के लिए 36 वर्ग फिट क्षेत्रफल का स्थान तय किया गया है। डीआईओएस डॉ अमर कांत सिंह ने सभी प्रधानाचार्यों को अपने यहां उपलब्ध संसाधनों का विवरण upmsp.edu.in अपलोड करने का निर्देश दिया है। वेबसाइट पर गलत सूचनाएं देने वाले स्कूल को परीक्षा केंद्र की पात्रता सूची से बाहर कर दिया जाएगा। वेबसाइट पर अपलोड सूचनाओं के आधार पर अंक दिए जाएंगे। राजकीय, एडेड और वित्त विहीन विद्यालयों की अलग-अलग मेरिट सूची तैयार की जाएगी। इंटर स्तर के विद्यालयों के लिए 20 अंक और हाईस्कूल स्तर के लिए 10 अंक होंगे। बीते वर्ष का रिजल्ट 90 फीसद से ज्यादा होने पर 20 अंक मिलना तय हैं। सूचनाओं की जिला स्तरीय टीम मौके पर जाकर जांच करेगी। इसकी रिपोर्ट भी वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी। 

यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 : 10वीं 12वीं के छात्रों को बड़ी राहत, थ्योरी के बाद प्रैक्टिकल परीक्षाओं का भी सिलेबस हुआ कम

ऑनलाइन ही होगा केंद्रों का निर्धारण
परीक्षा केंद्रों का निर्धारण ऑनलाइन ही होगा। पिछली बार की तरह इस बार भी दूरी निर्धारण के लिए स्कूलों की जियो टैगिंग कराई जाएगी। बोर्ड के मोबाइल एप से विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को यह मैपिंग खुद ही करनी होगी। यह एप upmsp.edu.in पर सभी विद्यालयों के पैनल पर उपलब्ध है। इस एप को एंड्रायड फोन में डाउनलोड करना होगा। स्कूल कैंपस  में जाकर इस एप में विद्यालय की यूजर आइडी व पासवर्ड के माध्यम से लॉग इन करेंगे, जिससे स्कूल का अक्षांश और देशांतर बोर्ड की वेबसाइट के सर्वर पर स्वत: दर्ज हो जाएगा।

केंद्र बनना है रखें इन तारीखों का ध्यान
5 दिसंबर तक सूचनाओं को वेवसाइट पर अपलोड करेंगे स्कूल
20 दिसंबर तक जिला स्तर की कमेटी करेगी सत्यापन
26 दिसंबर है सत्यापन की रिपोर्ट अपलोड करने की अंतिम तिथि 
11 जनवरी तक  ऑनलाइन चयनित परीक्षा केंद्रों सूची होगी सार्वजनिक
16 जनवरी तक डीआईओएस लेंगे परीक्षा केंद्रों पर आपत्तियां
25 जनवरी तक आपत्तियों के निस्तारण को जनपद समिति को प्रस्तुत करना
4 फरवरी तक निस्तारण के बाद सूची को फिर से वेबसाइट पर प्रदर्शित करना
छह फरवरी तक सूची का संबंध में अंतिम आपत्ति प्राप्त करना
9 फरवरी तक फाइनल होंगे यूपी बोर्ड के केंद्र

इन बिंदुओं की भी देनी है सूचना
- स्कूल हाई स्कूल तक या इंटर तक
- हाईस्कूल तक किस तरह की मान्यता
- इंटर तक किस तरह की मान्यता
- मान्यता बालक की या बालिका की
- स्कूल शहरी या ग्रामीण
- लिंटर युक्त कमरों की संख्या और आकार
- पेपर रखने को लोहे की अलमारियों की संख्या
- स्कूल में अग्निशमन उपकरण की संख्या
- क्या स्कूल सड़क मार्ग से जुड़ा है
- स्कूल में चाहरदीवारी है या नहीं
- स्कूल में बिजली, जेनसेट की स्थिति
- स्कूल में सीसीटीवी कैमरे की स्थिति
- पेयजल, टॉयलेट की स्थिति
- कंप्यूटर सिस्टम और दो कंप्यूटर आपरेटर की उपलब्धता
- एक ही प्रबंध तंत्र से संचालित स्कूलों के कोड और नाम
- स्कूल में छात्रों के बैठने की क्षमता

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:UP board 10th 12th exam 2021 : upmsp high school inter exam center policy release schools worry about merit