ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरUP BEd : रैंक पाने वाले अभ्यर्थी ही लेंगे हिस्सा, तीन दिन में देने होंगे मूल दस्तावेज

UP BEd : रैंक पाने वाले अभ्यर्थी ही लेंगे हिस्सा, तीन दिन में देने होंगे मूल दस्तावेज

रुहेलखंड विश्वविद्यालय 30 सितंबर से बीएड की काउंसलिंग शुरू करने जा रहा है। चार राउंड में होने वाली काउंसलिंग में केवल वही अभ्यर्थी हिस्सा ले सकेंगे, जिनको बीएड की वरीयता सूची में रैंक आवंटित हुई थी।

UP BEd : रैंक पाने वाले अभ्यर्थी ही लेंगे हिस्सा, तीन दिन में देने होंगे मूल दस्तावेज
Pankaj Vijayवरिष्ठ संवाददाता,बरेलीTue, 27 Sep 2022 03:54 PM
ऐप पर पढ़ें

UP BEd Counselling : रुहेलखंड विश्वविद्यालय 30 सितंबर से बीएड की काउंसलिंग शुरू करने जा रहा है। चार राउंड में होने वाली काउंसलिंग में केवल वही अभ्यर्थी हिस्सा ले सकेंगे, जिनको बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा की वरीयता सूची में रैंक आवंटित हुई थी। काउंसलिंग का विस्तृत कार्यक्रम दो दिन में जारी होगा। उत्तर प्रदेश बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के सफल आयोजन के बाद अब विश्वविद्यालय ने काउंसलिंग के लिए कमर कस ली है। स्टेट रैंक के आधार पर काउंसलिंग को विभिन्न चरणों में विभाजित किया जायेगा। केवल घोषित स्टेट रैंक सीमा के भीतर आने वाले अभ्यर्थी ही उस चरण में भाग ले सकेंगे। पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करने वाले अभ्यर्थियों को 5650 रुपये का भुगतान केवल ऑनलाइन मोड में करना होगा। इनमें से 650 रुपये काउंसलिंग शुल्क के रूप में है, जोकि नॉन रिफंडेबल है। 

यदि अभ्यर्थी को सीट आवंटित नहीं होती है तो कॉलेज की एडवांस फीस 5000 रुपये उनके खाते में वापस कर दी जाएगी। यदि अभ्यर्थी को सीट आवंटित होती है और वह इसकी पुष्टि नहीं करता है और उस कॉलेज में प्रवेश भी नहीं लेता है तो अग्रिम फीस वापस नहीं की जाएगी। पुष्टि करने पर यह राशि कॉलेज शुल्क में समायोजित की जाएगी। यदि अग्रिम शुल्क आवंटित महाविद्यालय के शुल्क से अधिक है तो अतिरिक्त राशि महाविद्यालय से वापस की जाएगी। 

सबसे पहले होगी मुख्य काउंसलिंग
विश्वविद्यालय ने 30 सितंबर से नौ अक्टूबर तक मुख्य काउंसलिंग की योजना बनाई है। मुख्य काउंसलिंग में चार फेज होंगे। इसके बाद पूल काउंसलिंग कराई जाएगी। तीसरे चक्र में डायरेक्ट एडमिशन का राउंड होगा। सबसे अंत में अल्पसंख्यक सीटों पर सीधा प्रवेश दिया जाएगा।

तीन दिन में देने होंगे मूल दस्तावेज
छात्र को कॉलेज मिलने की तारीख से तीन दिनों के अंदर सभी मूल दस्तावेजों के साथ आवंटित कॉलेज को रिपोर्ट करनी होगी। आवंटित महाविद्यालय के प्राचार्य अभ्यर्थी के मूल दस्तावेजों का भौतिक सत्यापन करेंगे।

यूपी बी.एड जेईई 2022 की प्रवेश परीक्षा का आयोजन 6 जुलाई को किया गया। बीएड के लिए 6,67,463 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। इसमें 6,15,021 अभ्यर्थियों का परिणाम जारी किया गया है। प्रदेश में बीएड की 2.25 लाख सीटे हैं और पिछले वर्ष 50 फीसदी से ज्यादा सीटें खाली रह गई थीं।

epaper