ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरयूपी अटल आवासीय विद्यालय में दाखिले के फॉर्म निकले, इस जिले की प्रवेश परीक्षा 25 फरवरी को

यूपी अटल आवासीय विद्यालय में दाखिले के फॉर्म निकले, इस जिले की प्रवेश परीक्षा 25 फरवरी को

प्रयागराज के कोरांव स्थित अटल आवासीय विद्यालय के लिए 280 बच्चों की प्रवेश परीक्षा 25 फरवरी को होगी। कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों और श्रमिकों के बच्चों को इन विद्यालय में शिक्षा दी जाएगी।

यूपी अटल आवासीय विद्यालय में दाखिले के फॉर्म निकले, इस जिले की प्रवेश परीक्षा 25 फरवरी को
Pankaj Vijayहिन्दुस्तान,प्रयागराजSat, 06 Jan 2024 01:58 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज के कोरांव स्थित अटल आवासीय विद्यालय के लिए 280 बच्चों की प्रवेश परीक्षा 25 फरवरी को होगी। कोरोना काल में अनाथ हुए उत्तर प्रदेश भवन व अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अंतर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों को मुख्य धारा में लाने के लिए अटल आवासीय विद्यालय में शिक्षा दी जाएगी।

सहायक श्रमायुक्त लालाराम के अनुसार कक्षा छह में प्रवेश के लिए बच्चे का जन्म एक मई 2012 से पहले तथा 31 जुलाई 2014, कक्षा नौ के लिए बच्चे का जन्म एक मई 2009 तथा 31 जुलाई के बाद नहीं होनी चाहिए। प्रवेश के लिए प्रयागराज, प्रतापगढ़, कौशांबी और फतेहपुर में जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी, खंड विकास अधिकारी तथा जिला श्रम विभाग के कार्यालय में सुबह 10 से शाम पांच बजे तक आवेदन कर सकते हैं। प्रयागराज मंडल के चारों जिलों में प्रवेश परीक्षा सुबह 11 बजे से दोपहर दो बजे तक होगी।

राज्य के अन्य विभिन्न जिलों में इस समय अटल आवासीय स्कूलों में एडमिशन के फॉर्म निकले हुए हैं। लखीमपुर में शैक्षिक सत्र 2024-25 में कक्षा छह में 140 और कक्षा नौ में 140 बच्चों का प्रवेश होना है। आवेदन करने के बाद इन बच्चों की प्रवेश परीक्षा कराई जाएगी। प्रवेश परीक्षा पास होने के बाद बच्चों का दाखिला होगा।

सहारनपुर में कक्षा छह और कक्षा नौ के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा के जरिए 280 छात्रों का प्रवेश कराया जाएगा। यहां 22 जनवरी तक आवेदन एवं 20 फरवरी को प्रवेश परीक्षा प्रस्तावित की गयी है। 

आपको बता दें कि पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों की पढ़ाई के लिए नवोदय की तर्ज पर अटल आवासीय विद्यालय सरकार ने शुरू कराया है। तीन साल पहले से पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बच्चों का ही प्रवेश कराया जाएगा।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें