ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरUGC NET : आखिर क्यों रद्द की गई यूजीसी नेट परीक्षा, कौन कराता है और कैसे होती है परीक्षा

UGC NET : आखिर क्यों रद्द की गई यूजीसी नेट परीक्षा, कौन कराता है और कैसे होती है परीक्षा

UGC NET Cancelled explainer:बुधवार को शिक्षा मंत्रालय ने यूजीसी नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट सी यूजीसी-नेट जून 2024 की परीक्षा को रद्द कर दिया है। मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि परीक्षा में गड़बड़ी की जानकार

UGC NET : आखिर क्यों रद्द की गई यूजीसी नेट परीक्षा, कौन कराता है और कैसे होती है परीक्षा
Anuradha Pandeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 03:02 PM
ऐप पर पढ़ें

बुधवार को शिक्षा मंत्रालय ने यूजीसी नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट सी यूजीसी-नेट जून 2024 की परीक्षा को रद्द कर दिया है। मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि परीक्षा में गड़बड़ी की जानकारी मिलने के बाद यह फैसला लिया गया है और मामला सीबीआई को सौंप दिया गया है। मंत्रालय का यह फैसला मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट में कथित अनियमितताओं को लेकर जारी विवाद के बीच आया है। ऐसे में आपको बता दें कि मंत्रालय के इस फैसले से 9 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स पर असर होगा और उन्हें दोबारा एग्जाम देना होगा। आइए जानते हैं इस क्या है यह एग्जाम और क्यों इसे रद्द किया गया-

क्या है UGC-NET एग्जाम?
सबसे पहले आपको समझना चाहिए कि यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्टभारत की सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में सहायक प्रोफेसर या जूनियर रिसर्च फेलोशिप और सहायक प्रोफेसर की पात्रता के लिए आयोजित किया जाता है। जेआरएफ और सहायक प्रोफेसरशिप के लिए पात्रता यूजीसी-नेट के पेपर- I और पेपर- II में उम्मीदवार की पर्फोर्मेंस के आधार पर तय होती है। जो उम्मीदवार केवल सहायक प्रोफेसर पद के लिए क्वालीफाई करते हैं, उन्हें इसके बाद सहायक प्रोफेसर बनने के लिए संबंधित यूनिवर्सिटी, कॉलेजों या राज्य सरकारों के भर्ती नियमों का पालन करना होता है।

अब कब होगी परीक्षा
शिक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि परीक्षा का आयोजन फिर किया जाएगा, जिसके लिए जानकारी अलग से साझा की जाएगी। बता दें कि मंगलवार को देशभर के 317 शहरों में परीक्षा का आयोजन किया गया था। इसमें 11.21 लाख से अधिक पंजीकृत उम्मीदवारों में से लगभग 81 प्रतिशत उपस्थित हुए थे। यूजीसी-नेट हर साल दो बार (जून और दिसंबर) आयोजित किया जाता है।

क्यों रद्द की गईपरीक्षा
आपको बता दें कि मंगलवार को एग्जाम हुआ और बुधवार रात को इसे रद्द कर दिया गया। दरअसल यूजीसी को गृह मंत्रालय की राष्ट्रीय साइबर अपराध इकाई से कुछ इनपुट मिले थे।, जिससे पता चल रहा था कि यूजीसी नेट एग्जाम में गड़बड़ी हुईहै। इसलिए  शिक्षा मंत्रालय परीक्षाओं की शुचिता सुनिश्चित करने और छात्रों के हितों की रक्षा को धयान में रखते हुए इस परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया। 

एनटीए क्या है?
भारतीय सोसायटी रजिस्ट्रेशन अधिनियम, 1860 के तहत नवंबर 2017 में स्थापित राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) एक स्वायत्त निकाय है जिसे कई प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करने का काम सौंपा गया है। एजेंसी की अध्यक्षता एचआरडी मंत्रालय द्वारा नियुक्त एक प्रतिष्ठित शिक्षाविद् करते हैं, वर्तमान में इसके अध्यक्ष यूपीएससी के पूर्व अध्यक्ष प्रदीप कुमार जोशी हैं।एनटीए एनईईटी, जेईई, सीटीईटी, गेट, जीपैट, जीमैट, कैट और यूजीसी-नेट जैसी परीक्षाएं आयोजित करता है।

Virtual Counsellor
Advertisement