DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Tips & Tricks : जानें क्या है DigiLocker , कैसे करें इसका इस्तेमाल, कैसे रखें अपने ऑरिजनल डॉक्यूमेंट्स सुरक्षित

photo   https   digilocker gov in

हम रोज किसी न किसी चुनौती से गुजरते हैं, लेकिन सभी चुनौतियों में सबसे ज्यादा कठिन होता है कागजात को संभाल कर रखना। कई बार आपको किसी डाक्यूमेंट की जरूरत होती है लेकिन आपको उस समय वह नहीं मिलता। अगर आपको भी एमबीए, इंजीनियरिंग, स्कूल व कॉलेज की अपनी डिग्री खो जाने का डर सताता है तो केंद्र सरकार की डिजिटल लॉकर स्कीम आपकी काफी मदद कर सकती है। आप अपने सभी शैक्षणिक दस्तावेज, पहचान और पते का प्रमाण यहां सुरक्षित रख सकते हैं। अगर आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो आप वहां एक लिंक दे सकते हैं, जिससे आपके दस्तावेज की जांच आसानी से हो जाएगी। 

डिजिटल लॉकर स्कीम के हर आवेदक के आधार से जुड़ा हुआ 10एमबी का व्यक्तिगत स्टोरेज स्पेस मिलता है, जहां सुरक्षित रूप से ई-दस्तावेजों एवं यूआरआई लिंक को रखा जा सकता है। जरूरत के वक्त इसे एक्सेस किया जा सकता है। वेब पोर्टल के जरिये यह सुविधा उपलब्ध है। भविष्य में मोबाइल एप से भी यह सेवा मिलेगी।

सरकार ने क्यों की पहल?
डिजिटल लॉकर स्कीम का उद्देश्य दस्तावेजों के कागजी रूप को कम करना है। इसके अलावा इससे एजेंसियों के बीच ई-दस्तावेजों के आदान-प्रदान का चलन बढ़ाना भी एक मकसद है। इस पोर्टल की मदद से ई-दस्तावेजों का आदान-प्रदान पंजीकृत कोष के माध्यम से किया जाएगा, जिससे ऑनलाइन दस्तावेजों की प्रामाणिकता सुनिश्चित होगी। आवेदक अपने दस्तावेज को स्कैन कर वेबसाइट पर अपलोड कर सकते हैं। डिजिटल ई-साइन सेवा का उपयोग कर सकते हैं।

ऑनलाइन रखें दस्तावेज
डिजिटल लॉकर स्कीम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इंटरनेट आधारित इस सेवा के जरिये आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन रख सकते हैं। इसके लिए आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। आधार नंबर के इस्तेमाल से आप अपना डिजिटल लॉकर खोल सकते हैं।

कैसे बनायें DLS अकाउंट? 
- सबसे पहले आप इस लिंक पर क्लिक करें: digitallocker.gov.in 
- यहां आप ईमेल आईडी, पासवर्ड या आधार की मदद से अकाउंट बना सकते हैं 
- इसके बाद आधार से लिंक्ड मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर वेरिफिकेशन लिंक भेजे जाते हैं। इन्हें वेरीफाय करते ही आपका अकाउंट बन जायेगा।
- फिर आप अपने यूजर आईडी और पासवर्ड से यहां लॉग इन कर सकते हैं। आप अपने शैक्षणिक दस्तावेज और पहचान/पते का सबूत यहां स्कैन कर अपलोड कर सकते हैं।
- इसके बाद आपको डिजिटल हस्ताक्षर करने की प्रक्रिया पूरी करनी होगी।

कीबोर्ड खराब हो जाने के बाद माउस से ऐसे करें टाइपिंग

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tips and Tricks : DigiLocker Online document storage facility know how to use it