DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › आईपीयू के प्रॉक्टर्ड ऑनलाइन परीक्षा परीक्षा संबंधी निर्देशों से मुश्किल में छात्र
करियर

आईपीयू के प्रॉक्टर्ड ऑनलाइन परीक्षा परीक्षा संबंधी निर्देशों से मुश्किल में छात्र

अभिनव उपाध्याय,नई दिल्लीPublished By: Alakha Singh
Tue, 26 Jan 2021 12:10 AM
आईपीयू के प्रॉक्टर्ड ऑनलाइन परीक्षा परीक्षा संबंधी निर्देशों से मुश्किल में छात्र

गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित प्रॉक्टर्ड ऑनलाइन परीक्षा के रविवार को आए दिशा निर्देशों ने छात्रों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। कई छात्रों का कहना है कि बुधवार से परीक्षा है और विश्वविद्यालय प्रशासन ने जिस तरह से दिशा निर्देश जारी किया है उसमें सभी छात्रों के पास लैपटॉप या डेस्कटॉप ही नहीं बेहतर नेट कनेक्टिविटी भी होना जरूरी है। यही नहीं इसमें कई निर्देश ऐसे हैं जिससे छात्रों का मनोबल गिरा है। छात्रों का यह भी कहना है कि कोरोना काल में आईपीयू ने फिजिकल मोड सभी सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए परीक्षा ली थी लेकिन अब संस्थान ऑनलाइन प्राक्टर्ड मोड में परीक्षा करा रहा है। 

एक छात्र का कहना है कि निर्देश में यह लिखा हुआ है कि चेहरा साफ दिखना चाहिए इसके लिए मुझे अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर अलग से वेबकैम लगाना होगा। संस्थान ने वेब कैम और माइक्रोफोन की अनिवार्यता कर दी है। यदि मैं मोबाइल से लैपटॉप कनेक्ट करता हूं तो जरूरी नहीं है कि आवश्यक 1 एमबी की स्पीड मिल पाए। यही नहीं लैपटॉप या डेस्कटॉप में विडो 8 का होना जरूरी है। यह सब हम लोग कहां से कर पाएंगे। एक अन्य छात्र ने बताया कि हमारा घर छोटा है। इस छोटे से घर में चार लोग रहते हैं ऐसे में अकेले तीन घंटे परीक्षा के दौरान मेरे कमरे में कोई न आए किसी तरह की आवाज न आए यह मैं कैसे तय कर सकता हूं। 

संस्थान ने छात्रों से यह भी कहा है कि यदि आपका इंटरनेट कनेक्शन डिस्कनेक्ट हो जाता है तो आप विंडो बंद नहीं करेंगे बल्कि दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करेंगे। किसी भी स्थिति में परीक्षा के दौरान फोन का प्रयोग नहीं करेंगे। 

दिए गए निर्देश में यह भी कहा गया है कि यह छात्रों को सुनिश्चित करना पड़ेगा कि उनके लैपटॉप या सिस्टम पर किसी तरह का पॉपअप नहीं आना चाहिए। उसे वह डिसएबल कर दें। यदि किसी तरह का एलर्ट, विंडो अपडेट, एंटीवायरस या मेल का नोटिफिकेशन आएगा तो इसे नेविगेशन के रूप में माना जाएगा। 

ज्ञात हो कि ऐसा पहली बार है कि जब आईपीयू इस तरह से ऑनलाइन प्राक्टर्ड मोड में परीक्षा आयोजित कर रहा है। लेकिन छात्रों का यहां इस तरह से परीक्षा देने का यह पहला अनुभव है इसलिए छात्र इसको लेकर भय में हैं। कुछ अनजाने में गलती न हो जाए इसको लेकर उनके मन में दुविधा है। 

छात्रों की सुविधा के लिए जारी की गई है हेल्पलाइन
आईपीयू यूनिवर्सिटी ने छात्रों की सुविधा के लिए एक हेल्पलाइन जारी की है। इसके तहत एक मेल आईडी और एक नंबर जारी किया है। अपने नोटिफिकेशन में संस्थान ने कहा है कि यदि छात्रों को किसी तरह की परेशानी होती है तो वह examsupport@ipu.ac.in पर मेल कर सकते हैं। यही नहीं छात्र 7303885690 नंबर पर कॉल भी कर सकते हैं। 


नियमों का पालन नहीं करने की बस 30 बार छूट
विश्वविद्यालय में परीक्षा से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि छात्रों की परीक्षा के लिए यह आवश्यक है। यह एआई बेस्ड प्रोक्टर्ड मोड परीक्षा है। सुचारू व निष्पक्ष रूप से परीक्षा कराने के लिए यह आवश्यक है। छात्रों को 30 बार की छूट भी है। लेकिन सब कुछ देखा जाएगा। सिर हिलाना, उठकर जाना आदि सब इसमें शामिल है। 

एआई बेस्ड इस परीक्षा में 62 हजार छात्र परीक्षा देंगे जिसकी 400 लोग ऑनलाइन निगरानी करेंगे। उन्होंने बताया कि यह परीक्षा 25 फरवरी तक चलेगी लेकिन वह प्रश्नपत्र जिसमें बड़ी संख्या में छात्र परीक्षा देंगे वह 15 फरवरी तक समाप्त हो जाएगी।

संबंधित खबरें