ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरछात्र संगठनों ने की गेस्ट फैकल्टी को वेतन भुगतान करने की मांग

छात्र संगठनों ने की गेस्ट फैकल्टी को वेतन भुगतान करने की मांग

छात्र संगठनों के एक संयुक्त प्रतिनिधि मंडल ने आज पंजाब विश्वविद्यालय प्रशासन से गेस्ट फैकल्टी को, शिक्षण कार्य व अकादमिक सत्र शुरू हो या न हो, जुलाई से वेतन के भुगतान की मांग की। प्रतिनिधि मंडल...

छात्र संगठनों ने की गेस्ट फैकल्टी को वेतन भुगतान करने की मांग
Pratima Jaiswalएजेंसी ,चंडीगढ़Thu, 02 Jul 2020 06:53 PM
ऐप पर पढ़ें

छात्र संगठनों के एक संयुक्त प्रतिनिधि मंडल ने आज पंजाब विश्वविद्यालय प्रशासन से गेस्ट फैकल्टी को, शिक्षण कार्य व अकादमिक सत्र शुरू हो या न हो, जुलाई से वेतन के भुगतान की मांग की। प्रतिनिधि मंडल में अंबेडकर स्टूडेंट एसोसिएशन, ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन, स्टूडेंट फॉर सोसाइटी, पंजाब स्टूडेंट्स यूनियन (ललकार), और यूथ फॉर स्वराज के प्रतिनिधि शामिल थे। इसके अलावा स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया और ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन ने भी इस मुद्दे पर अपना समर्थन जताया।
ज्ञापन में कहा गया है कि सामान्य तौर पर गेस्ट फैकल्टी को कुछ महीनों के लिए सेवा से आराम दिया जाता है, यह वह महीने होते हैं जब संस्थानों में शिक्षण कार्य नहीं होता है। इसके बाद फिर से शिक्षण कार्य आरंभ होने पर उन्हें बुलाया जाता है। कोरोना समस्या के कारण जहां शिक्षण संस्थानों में नियमित कक्षाओं को रोका गया है और शिक्षण कार्य को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। कोरोना के कारण अकादमिक सत्र और शिक्षण कार्य को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है और इसका खमियाजा गेस्ट फैकल्टी को भुगतना पड़ रहा है। 
प्रतिनिधि मंडल ने मांग की है कि किसी भी परिस्थिति में गेस्ट फैकल्टी का आर्थिक शोषण ना हो और उनको वेतन दिया जाना चाहिए और चाहे  शिक्षण कार्य शुरू हो या नहीं पर जुलाई माह से इन कर्मियों को हर हाल में तनख्वाह मिलनी चाहिए। हम पंजाब विश्विद्यालय प्रशासन से माँग करते हैं कि वह अपने अधीन आने वाले विभागों, रीजनल सेंटरों और कांस्टीट्यूइंट कॉलेजों में  वेतन देना सुनिश्चित करे, इसके अतिरिक्त अगर कोई शिक्षण संस्थान इन दिशानिदेर्शों की अवहेलना करता है तो उसके खिलाफ सख्त प्रशासनिक कारवाई होनी चाहिए। प्रशासन को सौपे गए मांग पत्र पर 100 से अधिक रिसर्च स्कॉलर व छात्रों ने हस्ताक्षर किये हैं।

epaper