DA Image
25 फरवरी, 2020|4:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हड़ताली शिक्षकों पर सख्ती: मैट्रिक परीक्षा में बाधा पहुंचाने वाले शिक्षक बर्खास्त होंगे

bihar board exam 2020

बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में बाधा पहुंचाने वाले अथवा वीक्षण और मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करने वाले शिक्षकों को बर्खास्त किया जाएगा। इसको लेकर पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने सभी जिलों के उप विकास आयुक्त, पंतायत समिति प्रमुख, प्रखंड विकास पदाधिकारी और मुखिया को आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। 

सभी को लिखे गये पत्र में विभाग ने स्पष्ट कहा है कि जो शिक्षक परीक्षा में वीक्षण अथवा मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करेंगे, उन्हें सेवा से अनधिकृत अनुपस्थित मानते हुए उनके विरुद्ध विभागीय और अनुसासनिक कार्रवाई करते हुए सेवा से बर्खास्त किए जाएं। यह भी देखने में आया है कि कुछ शिक्षक संगठनों के नेता विद्यालय नहीं जाते हैं और शिक्षकों के बीच में भय और अराजकता उत्पन्न कर शैक्षिक माहौल बिगाड़ने में लगे रहते हैं। उनकी भी पहचान कर उन्हें सेवा से बर्खास्त करें। मैट्रिक परीक्षा की तिथि की घोषणा महीनों पहले की गई है। यह परीक्षा लाखों बच्चों के भविष्य से जुड़ी है। ऐसी दशा में बीच में बहिष्कार और असहयोग की बात अनुचित है। बिहार के बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करने की अनुमति किसी को भी नहीं दी जा सकती है। 

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति द्वारा 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल आरंभ करने और मैट्रिक परीक्षा में वीक्षण कार्य का बहिष्कार करने की सूचना प्राप्त हो रही है। इसी क्रम में यह निर्देश दिए गए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Strict on strike: Teachers who obstruct the matric examination will be sacked