DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी बोर्ड की व्यक्तिगत परीक्षा के लिए पंजीकरण केन्द्र नीति जारी

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की 2020 की बोर्ड परीक्षाओं के लिए व्यक्तिगत परीक्षार्थियों के फार्म राजकीय इंटर कॉलेज के माध्यम से ही पंजीकरण कर आगे बढ़ाये जा सकेंगे। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने फार्म अग्रसारित करने की नीति का निर्धारण कर दिया गया है। पंजीकरण ऑनलाइन होगा। प्रदेश के बाहर के निवासी यहां हाईस्कूल या इंटरमीडिएट की व्यक्तिगत परीक्षा तभी दे सकेंगे जब वे यहां लगातार दो वर्ष रहने का निवास प्रमाण पत्र देंगे। ये  नियम कश्मीरी विस्थापित पण्डितों पर लागू नहीं होगा। 

इसके लिए आवेदन पत्र का प्रारूप जिलाधिकारी कार्यालय, जिला विद्यालय निरीक्षक व खण्ड विकास अधिकारी के कार्यालय पर चस्पा किया जाए। 

RRB ALP, Technician Exam 2018: 9, 10 अगस्त को पूछे गए ये सवाल

जिन इंटर कॉलेजों में सामूहिक नकल हुई हो या अनियमितता की शिकायत रही हो, उन कॉलेजों को अग्रसारण केन्द्र न बनाया जाए। हर स्कूल से अधिकतम 1000 विद्यार्थियों के फार्म भेजे जा सकेंगे। हाईस्कूल के 600 और इंटरमीडिएट के 400 विद्यार्थियों के फार्म ही पंजीकृत किये जा सकेंगे। यदि किसी केन्द्र ने इस सीमा से ज्यादा फार्म भेजे तो वहां के प्रधानाचार्य या अग्रसारित करने वाले अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश के बाहर के विद्यार्थियों के लिए जिला मुख्यालयों पर स्थित राजकीय इंटर कॉलेजों में पंजीकरण केन्द्र बनाया जाए। 

UPSC IAS Interview : पूछा- दहेज की समस्या कैसे खत्म करोगे, जानें जवाब

व्यक्तिगत परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को पत्राचार शिक्षण के लिए भी पंजीकरण करवाना होगा। लेकिन पिछले वर्ष परीक्षा में फेल हुए विद्यार्थियों, दिव्यांग या शारीरिक रूप से विकलांग विद्यार्थी, भारतीय सेना में नियमित रूप से काम कर रहे परीक्षार्थी को इससे छूट मिलेगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Registration Center policy released for UP board individual examination