ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरNEET और JEE Main कोचिंग का गढ़ कोटा राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट में सबसे फिसड्डी

NEET और JEE Main कोचिंग का गढ़ कोटा राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट में सबसे फिसड्डी

मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन की कोचिंग का गढ़ बन चुके कोटा जिले का 10वीं का रिजल्ट सबसे खराब रहा है। यहां के 80 फीसदी से भी कम बच्चे पास हुए हैं।

NEET और JEE Main कोचिंग का गढ़ कोटा राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट में सबसे फिसड्डी
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 02 Jun 2023 03:33 PM
ऐप पर पढ़ें

मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन की कोचिंग का गढ़ बन चुके कोटा जिले का 10वीं का रिजल्ट सबसे खराब रहा है। राजस्थान बोर्ड की ओर से शुक्रवार को घोषित 10वीं के परिणाम में यहां के 80 फीसदी से भी कम बच्चे पास हुए हैं। कोचिंग नगरी कोटा जिले का रिजल्ट 79.48 फीसदी रहा। लड़कों का रिजल्ट  76.59 फीसदी और लड़कियों का 82.82 फीसदी रहा। जिलेवार परीक्षा परिणाम में 95.70 प्रतिशत के साथ झुंझुनूं पहले नंबर पर रहा। राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट में सीकरी जिला 95.63 फीसदी परिणाम के साथ दूसरे स्थान पर रहा। इसके बाद 95.04 फीसदी रिजल्ट के साथ नागौर रहा।

करौली के लक्ष्य को 99.50 प्रतिशत अंक
करौली जिले के हिंडौनसिटी के कांचरोली के सेंट फ्रांन्सिस सेकेंडरी स्कूल के छात्र लक्ष्य चतुर्वेदी ने 99.50 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। लक्ष्य संभवत: प्रदेश के टॉपर हो सकते हैं। राजस्थान बोर्ड अपनी तरफ से टॉपर्स व मेरिट लिस्ट जारी नहीं करता है। इसके अलावा झुंझुनूं की दीक्षा चौधरी और जयपुर की गौरांगी यादव ने 99 फीसदी अंक हासिल किए हैं।

राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2023- Direct Link- यहां रोल नंबर डालकर करें चेक

कुल रिजल्ट पिछले साल से 7.6 प्रतिशत ज्यादा रहा
इस साल का रिजल्ट 90.49 प्रतिशत रहा। यह पिछले साल से करीब 7.6 प्रतिशत ज्यादा है। छात्राओं का रिजल्ट 91.3 प्रतिशत और छात्रों का रिजल्ट 89.78 रहा। 

परीक्षा के लिए 1066300 पंजीकृत किये गए थे। 421682 स्टूडेंट फर्स्ट डिवीजन, 377251 स्टूडेंट सेकेंड डिवीजन और 142887 स्टूडेंट थर्ड डिवीजन से पास हुए। 3351 छात्र-छात्राओं के सप्लीमेंट्री आई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें