DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान के स्कूलों में हर महीने होंगे एग्जाम, पेरेंट्स को बताया जाएगा रिजल्ट

delhi government school  photo   twitter

राजस्थान के शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि राज्य में विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराने के लिये विद्यालयों में मासिक परीक्षा होंगी। डोटासरा ने बुधवार को जयपुर में  कहा कि विद्यालयीन पाठ्यक्रम अर्द्धवार्षिक परीक्षायें  दिसम्बर से पहले हो जायें इसके लिए निर्देश दिए गए हैं। राज्य के विद्यालयों में नवाचार अपनाते हुए अब यह तय किया गया है कि प्रति महीने विषयवार निर्धारित पाठ्यक्रम पूरा हो तथा तैयारी की परख भी हो जाए, इसके लिए मासिक परीक्षा शुरु की जायेंगी। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में महीने के अंतिम सप्ताह में मासिक परीक्षा होगी। अगले तीन दिनों में मासिक परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करके विद्यार्थियों को बाल सभाओं में परिणाम अभिभावकों के समक्ष बताए जाएंगे। यह मासिक परीक्षा बगैर वीक्षक आयोजित होंगे ताकि विद्यार्थियों में स्वअनुशासन से पढ़ने और परीक्षा देने की प्रवृति का सहज विकास हो सके। मासिक परीक्षा के लिये प्रश्नपत्र विद्यालय स्तर पर ही तैयार करवाए जाएंगे।

कम होगा बस्तों का बोझ
डोटासरा ने कहा कि राजस्थान देश का पहला ऐसा राज्य है जहां बस्तों का बोझ कम करने की दिशा में पहल की गयी है। उन्होंने बताया कि कक्षा एक से पांच तक बस्तों के बोझ को कम करने संबंधित पायलट प्रोजेक्ट की शुरूआत जयपुर से की गयी है। अब बच्चों को अलग-अलग पुस्तकों के स्थान पर एक ही पुस्तक लेकर जानी होगी। कक्षा एक के विद्यार्थियों की पुरानी किताबेां का वजन 9०० ग्राम से घटाकर 4०० ग्राम, कक्षा दो में 95० ग्राम से घटाकर 3०० ग्राम, कक्षा तीन में एक किलो 35० ग्राम के स्थान पर 5०० ग्राम, कक्षा चार में 1 किलो 45० ग्राम के स्थान पर 5०० ग्राम करने की पहल की गयी है। इस प्रकार कक्षा एक से पांच तक की किताबों के वजन को 5 किलो 9०० ग्राम से घटाकर 2 किलो 2०० ग्राम कर दिया गया है। इससे दो तिहाई बस्ते का बोझ कम हुआ है। इस प्रयोग की सतत समीक्षा की जा रही है। सफल परिणमा रहते हैं तो आने वाले समय में इसे कक्षा 1 से 12 तक प्रदेशभर में लागू कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:rajasthan : now monthly exam in every school result will be told to parents