DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › Railway Recruitment 2021 : बिना परीक्षा और इंटरव्यू के 10वीं पास के लिए CLW में अप्रेंटिस की 492 वैकेंसी
करियर

Railway Recruitment 2021 : बिना परीक्षा और इंटरव्यू के 10वीं पास के लिए CLW में अप्रेंटिस की 492 वैकेंसी

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Pankaj Vijay
Fri, 17 Sep 2021 07:22 PM
Railway Recruitment 2021 : बिना परीक्षा और इंटरव्यू के 10वीं पास के लिए CLW में अप्रेंटिस की 492 वैकेंसी

Railway Recruitment 2021 : रेलवे के चितरंजन लोकोमोटिव वर्क्स् ( सीएलडब्ल्यू ) में अप्रेंटिस के 492 पदों पर वैकेंसी निकाली गई है। इच्छुक उम्मीदवार clw.indianrailways.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 3 अक्टूबर 2021 है। अप्रेंटाइस की इस भर्ती के लिए कोई परीक्षा नहीं होगी और न इंटरव्यू होगा। ये भर्ती 10वीं कक्षा के मार्क्स के आधार पर होगी। इन मार्क्स के आधार पर एक मेरिट बनेगी। इसी मेरिट के आधार पर उम्मीदवारों का चयन होगा। अगर कोई उम्मीदवार 10वीं से ज्यादा पढ़ा-लिखा है तो उसे इसके लिए कोई वेटेज नहीं दिया जाएगा। मेरिट 10वीं के मार्क्स से ही बनेगी। शॉर्टलिस्ट उम्मीदवारों को उनके ईमेल व मोबाइल नंबर के जरिए कॉल लेटर की सूचना दी जाएगी। 

रिक्त पदों, योग्यता और आवेदन से संबंधित जरूरी बातें- 
योग्यता : मान्यता प्राप्त संस्थान या बोर्ड से 10वीं की परीक्षा पास हो और पद से संबंधित ट्रेड में आईटीआई सर्टिफिकेट (NCVT से मान्यता प्राप्त) प्राप्त होना चाहिए। 

railway recruitment 2021

आयु सीमा 
- न्यूनतम 15 और अधिकतम 24 वर्ष से कम होनी चाहिए। आयु की गणना 15 सितंबर 2021 से की जाएगी। 
- अधिकतम आयु सीमा में ओबीसी वर्ग के लिए तीन वर्ष, एससी/एसटी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए पांच वर्ष और दिव्यांगों को दस वर्ष की छूट दी जाएगी। 

स्टाइपेंड : नियमानुसार दिया जाएगा। 

क्लिक कर देखें नोटिफिकेशन

ध्यान रहे कि उम्मीदवार का www.apprenticeshipindia.org पर रजिस्टर्ड होना जरूरी है।  जिन उम्मीदवारों ने खुद को www.apprenticeshipindia.org पर 3 अक्टूबर तक रजिस्टर किया होगा, वहीं नियुक्ति के योग्य होंगे। 

रेलवे ने कहा है कि यह नौकरी नहीं है। ट्रेनिंग खत्म होने के बाद किसी भी ट्रेनी को किसी भी रोजगार के प्रस्ताव के लिए नियोक्ता बाध्य नहीं होगा और न ही ट्रेनी नियोक्ता द्वारा प्रस्तावित किसी भी रोजगार को स्वीकार करने के लिए बाध्य होगा।

संबंधित खबरें