DA Image
15 नवंबर, 2020|5:30|IST

अगली स्टोरी

PRSU : पीआरएसयू में पीएचडी को मिली हरी झंडी, 44 सीटों पर होगा प्रवेश

teacher vacancy in prsu prayagraj

प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भय्या) विश्वविद्यालय (पीआरएसयू) में नए शैक्षणिक सत्र 2020-21 से छात्र-छात्राएं पीएचडी भी कर सकेंगे।  विश्वविद्यालय की परीक्षा समिति ने पीएचडी में दाखिले के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। नए सत्र में 11 विषयों के सापेक्ष 44 सीटों पर दाखिला होगा। विश्वविद्यालय में नवनियुक्ति शिक्षक दो-दो छात्रों को शोध कराएंगे। पीएचडी में दाखिला क्रेट (संयुक्त शोध प्रवेश परीक्षा) के जरिए होगा। यह निर्णय बुधवार को कुलपति प्रो. संगीता श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हुई परीक्षा समित की बैठक में लिया गया। 

ज्ञात हो कि पीआरएसयू में शिक्षक भर्ती के लिए 22 जुलाई से इंटरव्यू प्रक्रिया शुरू थी। 11 विषयों का इंटरव्यू पूरा होने के बाद चयन समिति ने लिफाफा खोल दिया। 11 विषयों के सापेक्ष 26 नए शिक्षक नियुक्ति किए गए हैं। नवनियुक्त परीक्षा नियंत्रक डॉ. कुलदीप सिंह की ओर से जारी पत्र के अनुसार नवनियुक्त शिक्षक कम से कम दो छात्रों के लिए गाइड बनेंगे। 

इन विषयों में होगा शोध 
पीआरएसयू में नए सत्र से 11 विषयों में रिसर्च शुरू होगा। भारतीय प्राचीन इतिहास में 8, राजनीति विज्ञान में 4, अर्थशास्त्र में 2, समाजशास्त्र में 4, हिंदी में 6, वाणिज्य में 4, दर्शनशास्त्र में 4, संस्कृत में 4, समाज कार्य में 4, रक्षा एवं स्त्रोतजिक अध्ययन में 2 और भूगोल विषय में 4 सीटों पर पीएचडी में प्रवेश होगा। 

संयुक्त शोध प्रवेश परीक्षा 30 को
नए सत्र में पीएचडी में दाखिले के लिए संयुक्त शोध प्रवेश परीक्षा 30 सितंबर को ऑफ लाइन मोड में आयोजित की जाएगी। पीआरओ डॉ. अविनाश श्रीवास्तव ने बताया कि परीक्षा नैनी हाईटेक सिटी स्थित नए परिसर में होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:PRSU : now students can do PhD also take admission on 44 seats