ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरबिहार में बिना स्वीकृति नहीं चलेंगे पहली से 8वीं तक के निजी स्कूल

बिहार में बिना स्वीकृति नहीं चलेंगे पहली से 8वीं तक के निजी स्कूल

बिहार में अब पहली से आठवीं तक के स्कूल भी निजी प्रारंभिक स्कूल बिना सरकार से स्वीकृति लिए संचालित नहीं हो सकेंगे। सरकार से स्वीकृति लेने के लिए शिक्षा विभाग ने ऐसे स्कूलों को पांच माह का समय दिया है।...

बिहार में बिना स्वीकृति नहीं चलेंगे पहली से 8वीं तक के निजी स्कूल
हिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाWed, 28 Jul 2021 07:01 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बिहार में अब पहली से आठवीं तक के स्कूल भी निजी प्रारंभिक स्कूल बिना सरकार से स्वीकृति लिए संचालित नहीं हो सकेंगे। सरकार से स्वीकृति लेने के लिए शिक्षा विभाग ने ऐसे स्कूलों को पांच माह का समय दिया है। 31 दिसंबर 2021 के बाद किसी भी निजी स्कूल का संचालन बिना स्वीकृति के नहीं हो सकेगा। इसके साथ ही जिन विद्यालयों को संचालन की स्वीकृति पहले से सरकार से ऑफलाइन माध्यम से मिली हुई है, उनके लिए भी सख्ती की गई है।

ऐसे स्कूलों को अपने सारे डॉक्टूमेंट सरकार के वेब पोर्टल पर ऑनलाइन अपलोड करने होंगे। इन स्कूलों को दो माह का समय दिया गया है। शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने मंगलवार को निजी प्रारंभिक स्कूलों के संचालन को लेकर निर्देश जारी किए हैं। प्रारंभिक निजी विद्यालयों को प्रस्वीकृति जिला स्तर पर गठित त्रिस्तरीय समिति द्वारा दी जानी है। जिला शिक्षा पदाधिकारी इस समिति के अध्यक्ष होते हैं। समिति निजी स्कूलों के आवेदन पर उसका स्थल जांच कर देखती है कि बच्चों के लिए उक्त शैक्षणिक संस्थान में तमाम तरह की पर्याप्त व्यवस्थाएं उपलब्ध हैं या नहीं।

ई संबंधन पोर्टल पर करना होगा ऑनलाइन आवेदन-

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने 22 जुलाई को ही विभाग द्वारा विकसित ई-संबंधन पोर्टल को लांच किया था। प्रस्वीकृति की प्रक्रिया को सुविधाजनक, पारदर्शी और सुगम बनाने के लिए यह व्यवस्था हुई है। संचालन की चाह रखने वाले निजी स्कलों को स्वीकृति प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर important links में e-sambandhan या edu-online.bihar.gov.in पर आवेदन किया जा सकता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें