DA Image
7 जुलाई, 2020|10:04|IST

अगली स्टोरी

पॉडकास्टिंग:सीखें बेहतरीन ऑडियो रिकॉर्ड की कला

अगर आपकी आवाज अच्छी है और लोगों को आकर्षित करना जानते हैं तो आपके लिए एक बिलकुल  ऐसा क्षेत्र मौजूद है, जहां आपको करियर के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। ये क्षेत्र है पॉडकास्ट का। यहां आवाज के अलावा भी आप करियर के विकल्प तलाश कर सकते हैं। 

न्यूजपेपर पढ़ने का समय नहीं है, कहानी और गीत देखने से ज्यादा सुनने में मजा आता है, ऐसे में भला वीडियो पर अधिक डेटा क्यों खर्च किया जाए। ऑडियो एक ऐसा माध्यम बनता जा रहा है, जो व्यस्तता में भी अपने काम को बेहतरीन तरीके से पूरा करने में मददगार है। ऑडियो को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए पॉडकास्ट तैयार किए जाते हैं। एक बेहतरीन पॉडकास्ट आवाज के मॉड्यूलेशन, साउंड इफेक्ट और अच्छे कंटेंट के मिश्रण से ही तैयार हो पाता है। लेकिन इस तैयार उत्पाद को लोगों तक कैसे पहुंचाया जाए, ये भी एक जरूरी कार्य है। इन तमाम बातों को आप इंटरनेट पर मौजूद कोर्स के माध्यम से सीख सकेंगे। शिक्षा, राजनीति, समाचार, मनोरंजन, मार्केटिंग जैसे तमाम क्षेत्रों में पॉडकास्ट तैयार किए जाने लगे हैं, इस हुनर को सीखकर आप अपने लिए विकल्प तैयार कर  सकते हैं।
क्या सीखेंगे
दो सप्ताह का कोर्स है, जिसे पूरा कर लेने के बाद आपको ऑडियो रिकॉर्डिंग से जुड़ी तमाम बातों की समझ आ जाएगी। आप रिकॉर्डिंग के योग्य वातावरण बनाना सीख जाएंगे। साथ ही पॉडकास्ट की बारीकियां समझ सकेंगे। बात सिर्फ रिकॉर्डिंग तक सीमित नहीं रहेगी। आप अपने ऑडियो में म्यूजिक, साइलेंस और अलग-अलग साउंड इफेक्ट की लेयरिंग करना भी सीखेंगे। खुद का पॉडकास्ट बनाने के अलावा दूसरे पॉडकास्ट को सुनकर उनका विवरण करना भी आपको आएगा। इसके अलावा आपको ये भी समझ आएगा कि कौन सा ऑडियो कहां बेहतर काम करता है। कोर्स में आप पॉडकास्ट रिकॉर्ड करके अपने साथी छात्रों से साझा भी करेंगे। इसके बाद पॉडकास्ट बनाकर अलग-अलग प्लेटफॉर्म जैसे सोशल मीडिया वेबसाइट, ऑडियो स्ट्रीमिंग साइट्स आदि पर डालना भी आएगा।
ये है सिलेबस
कोर्स में कुल आठ विषय हैं। शुरुआत होगी इंट्रोडक्शन टू टेलिंग स्टोरीज यूजिंग ऑडियो। इसके बाद का विषय है- एलिमेंट ऑफ अ पॉडकास्टिंग नेरेटिव एंड हाऊ टू कंबाइन दीज एलिमेेंट्स ऑटोमेटिकली। तीसरा विषय हैड- द सॉफ्टवेयर एंड हार्डवेयर इनवॉल्व इन प्रोड्यूसिंग पॉडकास्ट। इसके बाद है-राइटिंग अ नेरेटिव टू सूट ऑडियो। द कॉमन पिटफॉल्स, डिफरेंट जॉनर्स ऑफ पॉडकास्ट, इंट्रोडक्शन टू फाइंडिंग गुड टैलेंट क्रमश: आगे के विषय हैं। आखिरी विषय है- द प्रोसेस ऑफ बींग डिस्कवर्ड एंड हर्ड बाई एन ऑडिएंस। कोर्स करने के लिए हर सप्ताह तीन घंटों का समय लगेगा।
किसके लिए है ये कोर्स
यूं तो ये कोर्स हर वह व्यक्ति कर सकता है, जो पॉडकास्ट बनाने में रुचि रखता है। लेकिन अगर आप मीडिया और कम्युनिकेशन क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं तो ये कोर्स आपके लिए खासतौर पर लाभकारी रहेगा। इसके अलावा अगर आप मोटिवेशनल स्पीकर जैसे किसी क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं, जहां आपको जनता को संबोधित करना हो, तब भी ये कोर्स आपके बेहद काम आएगा।
कैसे होगी पढ़ाई
कोर्स शुरू हो चुका है और अभी जारी है। इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाकर इनरोल करें।
 कोर्स नि:शुल्क है लेकिन इसको करने के लिए आपको ऑडियो रिकॉर्डिंग और एडिटिंग के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की जरूरत पड़ेगी। इसके लिए ऑडेसिटी की मदद ले सकते हैं, जहां नि:शुल्क रिकॉर्डिंग और एडिटिंग कर सकेंगे। कोर्स के बाद आपको पीडीएफ फॉर्मेट में प्रमाण पत्र मिल जाएगा।  
क्या है करियर
पॉडकास्ट तैयार करके भी आप अपना करियर बना सकते हैं। हालांकि ये क्षेत्र बहुत पुराना नहीं है फिर भी यहां अवसरों की कमी नहीं है। पॉडकास्ट प्रोड्यूसर, साउंड इंजीनियर, मैनेजिंग मार्केट्स, कंटेंट क्रिएटर, डिस्ट्रीब्यूटर्स, वॉयस एंकर जैसे कार्यभार संभाले जा सकते हैं।

कोर्स                     : द पावर ऑफ पॉडकास्टिंग फॉर स्टोरीटेलिंग
शुरू होने की तारीख : कोर्स जारी है
प्रमाण पत्र की फीस : नि:शुल्क
अवधि                   :दो सप्ताह
अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें -  https://www.futurelearn.com/ courses/podcasting

                              

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Podcasting: Learn the art of recording best audio