ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरPhD : 700 शोधार्थियों का एक साल बर्बाद, रिसर्च का विषय पास होने का छात्र कर रहे हैं इंतजार

PhD : 700 शोधार्थियों का एक साल बर्बाद, रिसर्च का विषय पास होने का छात्र कर रहे हैं इंतजार

बीआरएबीयू के लगभग 700 शोध छात्रों का एक साल विवि की तरफ से होने वाली पीजीआरसी की बैठक के इंतजार में खराब हो गया। पीएचडी बैच 2020 के पास छात्रों की पीजीआरसी बैठक सवा साल बाद भी नहीं हुई है।

PhD : 700 शोधार्थियों का एक साल बर्बाद, रिसर्च का विषय पास होने का छात्र कर रहे हैं इंतजार
Pankaj Vijayवरीय संवाददाता,मुजफ्फरपुरSat, 25 Nov 2023 12:46 PM
ऐप पर पढ़ें

बीआरएबीयू के लगभग 700 शोध छात्रों का एक साल विवि की तरफ से होने वाली पोस्ट ग्रेजुएट रिसर्च काउंसिल (पीजीआरसी) की बैठक के इंतजार में खराब हो गया। पीएचडी बैच 2020 के पास छात्रों की पीजीआरसी बैठक सवा साल बाद भी नहीं हुई है। पीजीआरसी की बैठक नहीं होने से इस बैच के छात्र शोध नहीं कर पा रहे हैं। इन छात्रों का कोर्स वर्क पूरा हो गया है। डिपार्टमेंटल रिसर्च काउंसिल की बैठक में इनके सिनॉप्सिस को भी पास कर दिया गया है। 

पीएचडी 2020 बैच के छात्रों ने बताया कि जबतक पीजीआरसी की बैठक नहीं होगी, हमारा शोध कार्य शुरू नहीं हो सकता है। पीएचडी की एक छात्रा ने बताया कि बिहार विवि में पीएचडी करने के लिए तीन से पांच वर्ष का समय मिलता है। हमलोगों का एक वर्ष बिना काम के ही खत्म हो गया।

बिहार विवि से जुड़े लोगों ने बताया कि वर्ष 2019 बैच के छात्रों के लिए भी पीजीआरसी की बैठक काफी देर से हुई थी। विवि में अभी 2021 बैच के छात्रों का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। शुक्रवार को जूलॉजी विषय का भी रिजल्ट जारी कर दिया गया। 2022 बैच के लिए आवेदन लिये जा रहे हैं, लेकिन विवि पहले बैच के शोध को शुरू नहीं कर रहा है। बिहार विवि के डीएसडब्ल्यू प्रो. अभय कुमार सिंह ने बताया कि जल्द ही 2020 बैच के छात्रों की पीजीआरसी की बैठक होगी। इसके बाद छात्रों का शोध शुरू हो जायेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें