DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Jio Institute को उत्कृष्ट का आशय पत्र देने से सरकार का कोई लेना-देना नहीं: जावड़ेकर

Prakash Javadekar

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि रिलायंस समूह के प्रस्तावित जियो विश्वविद्यालय को उत्कृष्ट संस्थान से संबंधित आशय पत्र देने से सरकार का कोई लेनादेना नहीं है, बल्कि यह निर्णय उच्च स्तरीय समिति ने लिया है।

लोकसभा में प्रसून बनर्जी और सौगत राय के पूरक प्रश्नों के उत्तर में जावड़ेकर ने कहा कि जियो का उत्कृष्ट संस्थान से जुड़ा आशय पत्र 'ग्रीनफील्ड श्रेणी के तहत जारी किया गया। उन्होंने कहा कि यह फैसला उच्च स्तरीय समिति ने किया और इससे सरकार का कोई लेनादेना नहीं है।  मंत्री ने कहा कि उत्कृष्ट संस्थानों के लिए कुल 114 आवेदन आए थे जिनमें 74 सरकारी संस्थानों के आवेदन थे। इसके अलावा 29 निजी संस्थानों ने आवेदन किया था और 11 प्रस्तावित संस्थानों से 'ग्रीनफील्ड श्रेणी के तहत आवेदन मिले थे।  उन्होंने कहा कि आने वाले समय में उत्कृष्ट संस्थानों की और भी सूची जारी की जाएगी।  

मंत्री ने यह भी कहा कि सिर्फ सरकारी संस्थानों को 1000 करोड़ रुपये दिए गए हैं और किसी भी निजी संस्थान को एक पैसा नहीं दिया जाएगा।  जावड़ेकर ने एक अन्य पूरक प्रश्न के उत्तर में कहा कि विदेश से प्रतिभावन भारतीय बड़ी संख्या में स्वदेश लौट रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Only Letter of Intent issued says govt on eminence tag for Jio Institute