DA Image
1 अप्रैल, 2020|7:04|IST

अगली स्टोरी

यूपी में दो साल तक नहीं खुलेगा नया पॉलीटेक्निक

polytechnic

इंजीनियरिंग कॉलेजों के बाद अब दो साल तक यूपी में नया पॉलीटेक्निक खोलने पर भी रोक लगा दी गई है। एआईसीटीई ने शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए यह फैसला लिया है। 

हर साल प्रदेश में 10 से 15 नए पॉलीटेक्निक खुल रहे हैं। प्रदेश में 486 पॉलीटेक्निक हैं। हालांकि, इनमें से कई पॉलीटेक्निक दूसरे परिसर में चल रही हैं। फैकल्टी भी पूरी नहीं है। इसका सीधा असर छात्रों की पढ़ाई पर पड़ रहा है। 

एआईसीटीई ने इसकी समीक्षा के बाद दो साल तक प्रदेश में सरकारी, अनुदानित से लेकर प्राइवेट पॉलीटेक्निक तक खोलने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। एआईसीटीई के क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. मनोज तिवारी ने बताया कि 2020-21 और 2021-2022 में प्रदेश में कोई पॉलीटेक्निक नहीं खुलेगा।

12 संस्थानों में प्रवेश पर लगी रोक हटी-
शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए एसआईसीटीई ने प्रदेश की 12 पॉलीटेक्निक में प्रवेश पर लगाई रोक हटा ली है। 65 पॉलीटेक्निक में सीट कटौती को भी रद कर दिया गया है। शिक्षकों की कमी और अपना भवन नहीं होने पर एआईसीटीई ने 12 पॉलीटेक्निक में किसी भी तरह के प्रवेश पर रोक लगा दी थी। 

65 पॉलीटेक्निक में निर्धारित सीटों में 25 से 65 फीसदी तक की कटौती का पेनाल्टी नोटिस प्राविधिक शिक्षा निदेशालय को जारी किया था। इस पर मुख्य सचिव ने एआईसीटीई चेयरमैन को पत्र भेजकर दूसरे परिसर में चल रहे संस्थानों को अपने परिसर में शिफ्ट करने और शिक्षकों की कमी दूर करने का आश्वासन दिया है। इसमें पढ़ने वाले गरीब व मध्यमवर्गीय छात्रों का हवाला दिया गया है। इसके बाद एआईसीटीई ने रोक हटा ली है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:New polytechnic will not open in UP for two years