DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  MPBSE : एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा रद्द होने से स्वाध्यायी छात्रों को घाटा, मिलेंगे 33% अंक

करियरMPBSE : एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा रद्द होने से स्वाध्यायी छात्रों को घाटा, मिलेंगे 33% अंक

एजेंसियां लाइव टीम,भोपालPublished By: Alakha Singh
Sat, 15 May 2021 03:49 PM
MPBSE : एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा रद्द होने से स्वाध्यायी छात्रों को घाटा, मिलेंगे 33% अंक

MPBSE MP Board Exam 2021: कोरोना संक्रमण की गंभीरता के कारण मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से आयोजित 10वीं की परीक्षा का आयोजन इस बार नहीं किया जाएगा। लेकिन एमपी बोर्ड ने छात्रों के मूल्यांकन की जो नीति बनाई है वह कुछ स्वध्यायी छात्रों के लिए घाटे का सौदा साबित होगी। एमपी बोर्ड कक्षा 10 के स्वाध्यायी (Private) छात्रों को न्यूनतम 33 फीसदी अंक ही मिल सकेंगे।

माध्यमिक शिक्षा मंडल की विज्ञप्ति के अनुसार कक्षा 10वीं के नियमित छात्रों के परीक्षा परिणाम की गणना अर्धवार्षिकी परीक्षा या प्री-बोर्ड परीक्षा, यूनिट टेस्ट और आंतरिक मूल्यांकन के अंकों का अधिभार नियत कर की जाएगी। स्वाध्यायी छात्रों के लिए आंतरिक मूल्यांकन का प्रावधान नहीं होने से, समस्त छात्रों को न्यूनतम अंक (33) अंकित करते हुए अंकसूचियां जारी की जाएगी।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार स्कूल शिक्षा विभाग ने संक्रमण के संभावित खतरे की रोकथाम करने के उद्देश्य से और छात्रहित में वर्तमान परिस्थिति की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए यह निर्णय लिया है। कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति के मद्देनजर 12वीं, 12वीं(व्यावसायिक), डिप्लोमा इन प्री-स्कूल एजूकेशन, शारीरिक प्रशिक्षण पत्रोपाधि परीक्षाओं की सैद्धांतिक एवं प्रायोगिक परीक्षाएं आगामी आदेश तक स्थगित की गई हैं। कोरोना संक्रमण सामान्य होने की स्थिति में परीक्षा आयोजन की सूचना 20 दिन पहले दी जाएगी।

कक्षा 10वीं के नियमित छात्रों के परीक्षा परिणाम की गणना अर्धवार्षिकी परीक्षा या प्री-बोर्ड परीक्षा, यूनिट टेस्ट और आंतरिक मूल्यांकन के अंकों का अधिभार नियत कर की जाएगी। स्वाध्यायी छात्रों के लिए आंतरिक मूल्यांकन का प्रावधान नहीं होने से, समस्त छात्रों को न्यूनतम अंक (33) अंकित करते हुए अंकसूचियां जारी की जाएगी। 

MP Board 10th Eaxm 2021 Cancelled : एमपीबीएसई ने रद्द की कक्षा 10 की परीक्षा, ऐसे तैयार होगा परिणाम

 

संबंधित खबरें