DA Image
31 जुलाई, 2020|4:54|IST

अगली स्टोरी

एमपी बोर्ड HSC रिजल्ट: दो विषयों में फेल छात्रों को मिलेगा पूरक परीक्षा का मौका, यहां देखें डिटेल्स

mpbse hsc result 2020

MPBSE HSC Result 2020: मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) की ओर से आयोजित हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (दसवीं) के परीक्षा परिणाम आज घोषित कर दिए गए। इस वर्ष 62.84 नियमित परीक्षार्थी और 16.95 स्वाध्यायी परीक्षार्थी उत्तीर्ण रहे।

बोर्ड की ओर से मुहैया कराई गई जानकारी के अनुसार कुल 60.09 नियमित छात्र तथा 65.87: नियमित छात्राएं परीक्षा में सफल हुए हैं। इस वर्ष मार्च के शुरूआती तीन सप्ताह में संपन्न हुई परीक्षा में नियमित परीक्षार्थियों के रूप में 893336 परीक्षार्थी और स्वाध्यायी परीक्षार्थियों के रूप में 204110 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। संपूर्ण परीक्षाओं में केवल 366 नकल के मामले सामने आए, जो विगत वर्षों में न्यूनतम हैं।

इस वर्ष कोरोना संक्रमण के कारण हिन्दी (विशिष्ट), अंग्रेजी (विशिष्ट), उर्दू (विशिष्ट) और हिन्दी (सामान्य) विषयों की परीक्षाए संपादित नहीं हो सकीं। कुछ परीक्षा केन्द्रों पर स्वाध्यायी छात्रों की विज्ञान प्रयोगिक परीक्षा आयोजित नहीं हो सकी। इन विषयों में परीक्षार्थियों की अंकसूचियों में अंकों के स्थान पर 'उत्तीर्ण' अंकित किया गया है। जिन विषयों की परीक्षाए संपन्न हुई हैं, उन्हीं विषयों के आधार पर परीक्षाफल तैयार किया गया है।

बोर्ड के अनुसार आज 891866 नियमित परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इनमें 342390 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 215162 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में और 2922 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इस प्रकार कुल 560474 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल हुए हैं, जिनका परीक्षाफल 62.84 प्रतिशत रहा। इसके अलावा 108448 परीक्षार्थियों ने पूरक परीक्षा की पात्रता हासिल की है। 1444 विद्यार्थियों के परीक्षाफल अंकों की पुष्टि न हो पाने के कारण बाद में घोषित किए जाएंगे।

यहां देखें अपना रिजल्ट-

 

आज 203823 स्वाध्यायी परीक्षार्थियों के परीक्षाफल भी घोषित कर दिए गए। घोषित परिणामों में से 3483 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 18194 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में, 12885 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इस प्रकार कुल 34563 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल हुए हैं, परीक्षा परिणाम 16.95 प्रतिशत रहा है। 29083 स्वाध्यायी परीक्षार्थियों ने पूरक की पात्रता प्राप्त की है। 235 परीक्षार्थियों के परीक्षाफल अंकों की पुष्टि न हो जाने के कारण बाद में घोषित किए जाएंगे। 

साथ ही अन्य राज्य या बोर्ड के जिन छात्र छात्राओं द्वारा पात्रता दस्तावेज मंडल को प्रस्तुत नहीं किए गए हैं, उनके परीक्षा परिणाम भी रोके गए हैं। एक माह के भीतर पात्रता दस्तावेज प्रस्तुत करने पर परीक्षण उपरान्त नतीजे घोषित किए जावेंगे। इस वर्ष नियमित परीक्षार्थियों में छात्राओं ने छात्रों से बाजी मारी है। उत्तीर्ण छात्रों का परीक्षाफल 60.09 तथा उत्तीर्ण छात्राओं का परीक्षाफल 65.87 रहा है। जबकि स्वाध्यायी में उत्तीर्ण छात्रों का परीक्षाफल 16.97 प्रतिशत तथा छात्राओं का 16.92 प्रतिशत रहा।

दो विषयों में फेल छात्र को मिलेगा पूरक परीक्षा का मौका-
इस वर्ष भी पूर्व वर्ष अनुसार हाईस्कूल परीक्षा में दो विषयों में अनुत्तीर्ण परीक्षार्थियों को पूरक की पात्रता प्रदान की गई है। पूरक परीक्षा की तिथियां शीघ्र ही घोषित की जाएंगी। मंडल की वर्ष 2020 हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा में सम्मिलित मानसिक विकलांग, नेत्रहीन और मूक बधिर छात्रों के परीक्षाफल भी मंडल की ओर से घोषित किए गए। इस श्रेणी में छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 67.12 प्रतिशत और छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 73.20 प्रतिशत रहा है। इस प्रकार इस श्रेणी के 68.77 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण घोषित किए गए है। नतीजे मंडल की वेबसाइट पर भी उपलब्ध कराए गए हैं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MP Board HSC Result: Students hwo failed in two subjects will get the chance of supplementary examination see details here