ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरMBBS seats: पीएमसी में एमबीबीएस की सीटें इस वर्ष भी बढ़ने की उम्मीद नहीं

MBBS seats: पीएमसी में एमबीबीएस की सीटें इस वर्ष भी बढ़ने की उम्मीद नहीं

MBBS seats: एनएमसी की ओर से सूचनाओं को पोर्टल पर अपलोड करने की अंतिम तिथि 10 अप्रैल निर्धारित की गई है। इसके पहले एनएमसी दो बार अंतिम तिथि बढ़ा चुका है। एनएमसी ने मेडिकल कॉलेज से 31

MBBS seats: पीएमसी में एमबीबीएस की सीटें इस वर्ष भी बढ़ने की उम्मीद नहीं
Anuradha Pandeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 03 Apr 2024 07:37 AM
ऐप पर पढ़ें

पटना मेडिकल कॉलेज (पीएमसी) में एमबीबीएस की सीटें इस वर्ष भी बढ़ने की उम्मीद नहीं है। अस्पताल अपने पास उपलब्ध दो सौ यूजी सीटों को बचाने की कवायद में लगा है। नेशनल मेडिकल काउंसिल (एनएमसी) ने पीएमसी को पत्र भेजकर उनके पास नामांकन के लिए मौजूद एमबीबीएस सीटों की नवीनीकरण के लिए वार्षिक ब्योरा के साथ 3.54 लाख रुपये फीस मांगा है। एनएमसी की ओर से मांगे गए ब्योरे को तैयार करने में पीएमसी प्रबंधन जुटा हुआ है। पीएमसी के प्राचार्य डॉ. विद्यापति चौधरी ने बताया कि एनएमसी की ओर से लगभग 18 पेज का फार्म भेजा गया है। मांगी गई जानकारियां इकट्ठा की जा रही है। जल्दी ही सूचनाओं को एकत्र कर एनएमसी के पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाएगा। रिन्युअल के लिए वार्षिक फीस 3.54 लाख रुपये का इंतजाम कर लिया गया है।

दस अप्रैल तक भेजनी है जानकारी : एनएमसी की ओर से सूचनाओं को पोर्टल पर अपलोड करने की अंतिम तिथि 10 अप्रैल निर्धारित की गई है। इसके पहले एनएमसी दो बार अंतिम तिथि बढ़ा चुका है। एनएमसी ने मेडिकल कॉलेज से 31 मार्च तक सूचनाओं को अपलोड करने को कहा था। निर्धारित समय सीमा के अंदर यदि सूचनाएं पोर्टल पर अपलोड नहीं की गई तो कॉलेज को नए सत्र में एक भी सीट पर नामांकन लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सूचनाओं में होनी चाहिए एकरूपता : एनएमसी ने मेडिकल कॉलेजों को हिदायत दी है कि उनके की ओर से भेजी गई सूचनाओं में एकरूपता होनी चाहिए। इसके अलावा कॉलेज एक बार पोर्टल पर आंकड़ों को अपलोड करने के बाद इसे दोबारा संशोधित नहीं कर पाएंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें