DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

AMU में एमबीए प्रवेश परीक्षा का पर्चा लीक, चार लोग हिरासत में

amu

एएमयू में रविवार को एमबीए की प्रवेश परीक्षा का पर्चा लीक होने का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के एक संविदा कर्मी व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने परीक्षा कक्ष से प्रश्नपत्र गायब करके सॉल्वर गैंग के सरगना व एक पार्टी के नेता तक पहुंचाया था। मामले में पुलिस ने एएमयू के दोनों कर्मचारी, एक पार्टी नेता समेत चार को हिरासत में लिया है। चारों से पूछताछ की जा रही है। इसमें पुलिस ने अहम इनपुट मिलने व जल्द ही मामले का खुलासा करने का दावा किया है। 

एएमयू में इन दिनों यूनिवर्सिटी द्वारा संचालित इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट के विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए परीक्षाएं चल रही हैं। इसी कड़ी में रविवार को भी बीटेक, बीआर्क, एमबीए आईबी और एमबीए इस्लामिक बैंकिंग फाइनेंस की प्रवेश परीक्षा थी। एमबीए परीक्षा के लिए हिंदी विभाग के प्रोफेसर इफ्फत असगर को फैकल्टी ऑफ आर्ट व सोशल साइंस विभाग में बनाए गए केंद्रों पर परीक्षा अधीक्षक के तौर पर जिम्मेदारी सौंपी थी। इनके साथ इस्लामिक स्टडीज विभाग के असिस्टेंट प्रो. आदम मलिक को भी लगाया था। 

RBSE 10th Result 2019: जानें कब तक आएगा राजस्थान बोर्ड 10वीं रिजल्ट

घटना के मुताबिक परीक्षा के दौरान अनुपस्थित परीक्षार्थियों की सीट पर भी उत्तर पुस्तिका व प्रश्नपत्र रखा जाता है। परीक्षा समाप्त होने के बाद इसे जमा कर लिया जाता है। लेकिन परीक्षा समाप्त होने से 15 मिनट पहले जब अनुपस्थित छात्रों की कापियां व प्रश्नपत्र जमा किए तो एक प्रश्नपत्र गायब था। जब इसकी तलाश शुरू कराई तो एएमयू के संविदा कर्मी तारिक खान ने विभाग की छत से पर्चा लाकर दे दिया। पूछताछ में बात बदलने लगा। जब सख्ती से पूछा तो उसने बता दिया कि पर्चा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मो. इरशाद ने दिया है। जब इरशाद से पूछताछ की तो उसने बताया उसने पर्चा लेकर फिरोज आलम उर्फ राजा व उसके हैदर नाम के साथी को दिया था।

प्रवेश परीक्षा का पर्चा होने की सूचना मिलते ही इंतजामिया में भी खलबली मच गई। पूरे मामले की जानकारी के बाद प्रकरण से सिविल लाइन पुलिस को वाकिफ करा दिया। पुलिस ने एएमयू के संविदा कर्मी, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के अलावा फिरोज आलम उर्फ राजा व उसके साथी हैदर को हिरासत में ले लिया है। मामले में परीक्षा अधीक्षक प्रो. इफ्फत असगर ने चारों को नामजद करते हुए तहरीर दी है। 

सॉल्वरों की गिरफ्तारी को ताबड़तोड़ दबिश:
सीओ सिटी तृतीय अनिल समानिया ने बताया कि चारों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। चारों से पूछताछ में अहम इनपुट मिला है। फिलहाल पेपर सॉल्व करने वाले गैंग के सदस्यों को दबोचने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। सॉल्वर गैंग की गिरफ्तारी के लिए कई टीमें वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्तर से गठित की गई हैं। प्रकरण में जल्द ही गैंग को दबोचकर मामले का खुलासा कर दिया जाएगा। एसएसपी आकाश कुलहरि के मुताबिक, एएमयू में प्रवेश परीक्षा में पेपर लीक होने व सॉल्व करने का मामला सामने आया है। प्रकरण में पुलिस अभी पड़ताल कर रही है। अहम सुराग मिले हैं, इन्हें बैरिफाई किया जा रहा है। टीमें लगी हैं जल्द ही पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

23 मई को हुई बी लिब परीक्षा का भी लीक किया था पर्चा
एएमयू में हुई रविवार को एमबीए की प्रवेश परीक्षा का ही पर्चा लीक नहीं हुआ, इसके तीन दिन पहले यानि 23 मई को हुई बी लिब की प्रवेश परीक्षा का भी पर्चा लीक किया गया था। इसे साल्वर गैंग ने सॉल्व भी किया था। एएमयू में हिंदी विभाग के प्रो. इफ्फत असगर ने परीक्षा अधीक्षक के तौर पर पूरे मामले में जब पड़ताल की तो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मो. इरशाद ने 23 मई को हुई बी लिब की परीक्षा का पर्चा लीक करना भी स्वीकार कर लिया। इसी केा आधार बनाते हुए परीक्षा अधीक्षक ने पुलिस को तहरीर भी दी है। इंतजामिया का कहना है कि पूरे मामले में जांच के लिए टीम गठित कर दी है। इस मामले में सोमवार को जांच रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा गया है। जांच में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

JNVST class 6th result 2019: नवोदय विद्यालय का छठीं क्लास का रिजल्ट जारी, ये रहा लिंक

इंतजामिया में भी मच गई खलबली :
सोशल साइंस विभाग के परीक्षा अधीक्षक प्रो. इफ्फत असगर ने जब इंतजामिया को पर्चा लीक होने की सूचना दी तो खलबली मच गई। कई विभागों के विभागाध्यक्ष समेत इंतजामिया भी मौके पर पहुंच गए। संविदा कर्मी तारिक खान और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मो. इरशाद से जब सख्ती से पूछताछ की तो पूरी कहानी उगल दी।

चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के जरिए बुलवाया फिरोज को :
पर्चा लीक होने का मामला खुलने के बाद इंतजामिया को जब पता लगा कि पर्चा फिरोज आलम उर्फ राजा को दिया गया है तो कर्मचारी के जरिए उसे एएमयू परिसर में बुला लिया गया। जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो पर्चा लीक होने के साथ ही सॉल्व करने का भी खुलासा हो गया। इस पर इंतजामिया ने सिविल लाइन पुलिस को बुलाकर चारों आरोपियों को सौंप दिया।
मोबाइल से फोटो खींचकर व्हाट्सएप पर भेजा था प्रश्नपत्र
पर्चा लीक करने में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की भूमिका अहम थी। परीक्षार्थियों को पानी पिलाने के बहाने परीक्षा कक्ष में दाखिल होने के बाद उसने अनुपस्थित छात्र का प्रश्नपत्र गायब कर दिया। उसे बाहर लाकर फिरोज आलम उर्फ राजा को सौंप दिया। उसने प्रश्नपत्र का फोटो खींचने के बाद व्हाट्सएप के जरिए सॉल्व करने के लिए भेजा था। चतुर्थश्रेणी कर्मचारी ने पकड़े जाने से बचने के लिए प्रश्न पत्र को सोशल साइंस विभाग के बाहर ही पर्चे को फाड़कर फेंक दिया था।

अहमद अपार्टमेंट के एक फ्लैट में सॉल्व कर रहे थे पर्चा :
पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि फिरोज आलम उर्फ राजा पर्चा लेने के बाद एएमयू परिसर से चला गया था। सॉल्वर गैंग जामिया उर्द रोड स्थित अहमदिया अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर आठ में था। यहीं से पर्चा सॉल्व किया जा रहा था। इसमें एएमयू का एक पूर्व छात्र भी शामिल है। पकड़ में आए चारों शातिरों का डाटा जुटाया जा रहा है।

सफारी से आया था नेता :
एएमयू में एमबीए प्रवेश परीक्षा का पर्चा लेने के लिए नेता फिरोज आलम उर्फ राजा सफेद रंग की सफारी से आया था। सूत्रों का कहना है कि राजा की कई दिग्गजों से नजदीकियां हैं।

...तो रद होगी परीक्षा :
रजिस्ट्रार एएमयू आईपीएस अब्दुल हमीद ने बताया कि पेपर लीक होने व साल्व करने के मामले में जांच की जा रही है। जांच में अगर पुष्टि होती है कि व्हाट्सएप के जरिए प्रश्नपत्र दूसरे केंद्रों तक पहुंचा है, उसे सॉल्व करके परीक्षार्थियों को लाभ दिया गया है तो परीक्षा रद कर दी जाएगी। अगर अलीगढ़ में ही पेपर सॉल्व करने का प्रयास किया गया है तो एएमयू में बने सेंटरों की परीक्षा ही रद की जाएगी। यहां दोबारा परीक्षा कराई जाएगी। जांच रिपोर्ट सोमवार को मिलने के बाद ही अगला निर्णय लिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mba entrance exam question paper leaked in amu four people is in custody in uttar pradesh