ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरइस राज्य में होम गार्ड के चयन की सूची रद्द, अब फिर नए सिरे होगी बहाली

इस राज्य में होम गार्ड के चयन की सूची रद्द, अब फिर नए सिरे होगी बहाली

 होमगार्ड के 1068 पदों पर 2017 में हुई बहाली को रद्ध कर दिया गया है। बहाली के लिए विज्ञापन निकला था। तमाम प्रक्रिया पूरी करने के बाद 708 अभ्यर्थियों की चयन सूची जारी की गई थी। इस पूरी सूची को ही रद्द

इस राज्य में होम गार्ड के चयन की सूची रद्द, अब फिर नए सिरे होगी बहाली
Anuradha Pandeyकार्यालय संवाददाता,धनबादTue, 02 Aug 2022 07:24 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

 होमगार्ड के 1068 पदों पर 2017 में हुई बहाली को रद्ध कर दिया गया है। बहाली के लिए विज्ञापन निकला था। तमाम प्रक्रिया पूरी करने के बाद 708 अभ्यर्थियों की चयन सूची जारी की गई थी। इस पूरी सूची को ही रद्द कर दिया गया है।  इस बात की जानकारी सोमवार को विधानसभा में सरकार की ओर से दी गई है। यह भी बताया गया है कि फिर से बहाली  ( नवनामांकन) की प्रक्रिया शुरू होगी। इसके लिए संबंधित विभाग को निर्देश दिया गया हैं। धनबाद के विधायक राज सिन्हा के विधानसभा में अल्पसूचित प्रश्न के जवाब में ग=ह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने बताया है कि होम गार्ड बहाली की प्रक्रिया की वीडियो रिकार्डिंग, सीडी तथा हार्ड डिस्क संबंधित कार्यालय में नहीं रहने के कारण बहाली प्रक्रिया को रद्द करने का निर्णय लिया गया है। 
विधायक राज सिन्हा ने धनबाद विधानसभा में प्रश्न उठाया था कि चयनित होम गार्ड नौ जुलाई से धनबाद के रणधीर वर्मा चौक पर धरना दे रहे हैं। धरना दे रहे लोगों का कहना है कि 2017 में विज्ञापन जारी किया गया था। उसी वर्ष रिजल्ट भी जारी किया गया था। 735 सफल अभ्यर्थियों की सूची जारी की गई थी। इसके जवाब में बताया गया है कि 27 जून 2018 को अभ्यर्थियों का परीक्षाफल धनबाद एनआईसी डॉट इन पर जारी किया गया था। इसमें 708 लोगों के नाम शामिल थे। विधानसभा में दिए गए जवाब में यह बताया गया है कि अभ्यर्थियों के धरना दिए जाने के बारे में कोई जानकारी नहीं है।  दूसरे प्रश्न में राज सिन्हा ने पूछा कि क्या सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद भी उन्हें नियुक्त पत्र नहीं दिया गया। । इसके जवाब में कहा गया कि गृहरक्षक स्वंयसेवक है उनकी नियुक्ति नहीं होती, नामांकन होता है। इसके बाद राज सिन्हा ने सफल हुए अभ्यर्थियों के नामांकन के इंतजार में उनकी उम्र सीमा पार करने और मांगों के लिए अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने से संबंधित सवाल पूछे। जवाब में जानकारी नहीं होने की बात कही गई। अंत में राज सिन्हा ने प्रश्न किया कि क्या सरकार इन सफल हुए अभ्यर्थियों के नामांकन के लिए के लिए विचार रखती है, हां तो कब और नहीं तो क्यों। जवाब में सरकार ने स्पष्ट किया कि 11 अक्तूबर 2021 को इसकी जांच रिपोर्ट मिलने के बाद स्पष्ट हुआ कि चयन प्रकिया के अंतर्गत शारीरिक जांच परीक्षा से संबंधित वीडियो रिकॉडिंग की सीडी, हार्ड डिस्क उपलब्ध नहीं हो पाई है।  इसलिए 15 जुलाई 2022 को वर्ष 2017 के उस विज्ञापन के जरिए हुए नवनामांकन की प्रक्रिया रद्ध कर दी गई है और फिर से पुन:नामांकन के लिए गृह रक्षा वाहिनी एंव अग्निश्मन विभाग को निर्देश दिए गए हैं। 
 

epaper