DA Image
हिंदी न्यूज़ › करियर › सीबीएसई 10वीं रिजल्ट में केवीएस, जेएनवी के छात्र आगे, दिल्ली का पास प्रतिशत भी बढ़ा
करियर

सीबीएसई 10वीं रिजल्ट में केवीएस, जेएनवी के छात्र आगे, दिल्ली का पास प्रतिशत भी बढ़ा

वरिष्ठ संवाददाता,नई दिल्लीPublished By: Alakha Singh
Tue, 03 Aug 2021 07:00 PM
सीबीएसई 10वीं रिजल्ट में केवीएस, जेएनवी के छात्र आगे, दिल्ली का पास प्रतिशत भी बढ़ा

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) 10वीं के परिणाम में दिल्ली ने अपना प्रदर्शन किया है। जिसके तहत पिछले वर्ष के मुकाबले दिल्ली के स्कूलों का परिणाम में 13 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है। वहीं इस वर्ष जारी परिणाम में दिल्ली के सभी स्कूलों की श्रेणी में केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) और जवाहर नवोदय विद्यालय (जेएनवी) का परिणाम सबसे अव्वल रहा है।

दिल्ली पश्चिम परिणाम 98.74 फीसदी तो पूर्व का परिणाम 97.80 फीसदी रहा
सीबीएसई ने दिल्ली को दो परिक्षेत्रों पश्चिम और पूर्व में बांटा हुआ है। इस वर्ष 10वीं के जारी परिणाम में दिल्ली के दोनों परिक्षेत्रों का प्रदर्शन पिछले साल की तुलना में बेहतर रहा है। सीबीएसई के आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष 10वीं के जारी परिणाम में दिल्ली पश्चिम परिणाम 98.74 फीसदी रहा है। तो वहीं दिल्ली पूर्व का परिणाम 97.80 फीसदी रहा है। जबकि वर्ष 2020 में दिल्ली पश्चिम का परिणाम 85.96 फीसदी था और दिल्ली पूर्व के स्कूलों का परिणाम 85.79 फीसदी रहा था।

दिल्ली में सभी श्रेणियों के स्कूलों में तीसरे स्थान पर निजी स्कूल
सीबीएसई 10वीं के जारी परिणाम में दिल्ली परिक्षेत्रों में सभी स्कूलों की श्रेणी में केवीएस और जेएनवी का परिणाम सबसे बेहतर रहा है। पश्चिमी दिल्ली में जेएनवी का परिणाम 100 फीसदी तो केवीएस का परिणाम 99.92 फीसदी रहा है।

जबकि तीसरे स्थान पर 99.61 फीसदी निजी स्कूल और 98.60 फीसदी छात्रों के पास संख्या के साथ सरकारी स्कूल चौथे स्थान पर रहे हैं। जबकि पूर्वी दिल्ली में परिक्षेत्र में केवीएस और जेएनवी स्कूलों का परिणाम 100 फीसदी रहा है। तो वहीं इस परिक्षेत्र में भी 99.54 फीसदी पास छात्रों के साथ तीसरे स्थान पर निजी स्कूल और 98.60 फीसदी पास छात्रों के साथ सरकारी स्कूल हैं। 

दिल्ली में 98.07 फीसदी छात्र पास, दिल्ली में लड़कों पर भारी पड़ी लड़कियां
सीबीएसई 10वीं के परिणाम में दिल्ली के 98.07 फीसदी छात्र पास हुए हैं। जिसमें लड़कियां लड़कों पर भारी पडृ़े हें। जिसके तहत 10वीं परिणाम में 97.35 लड़कें पास हुए हैं। जबकि 98.88 फीसदी लड़कियां पास हुई हैं। सीबीएसई के 38 राज्यों व केंद्र शासित राज्यों की पास फीसदी सूची में दिल्ली का स्थान 35वां रहा है। सीबीएसई के आंकड़ाें के मुताबिक 10वीं बोर्ड परीक्षा के लिए 372325 छात्रों ने पंजीकरण कराया था, जिसमें लड़कियों की संख्यां 175390 और लड़कों की संख्यां 196935 थी। इसमें से 372320 छात्राें का परिणाम के लिए मूल्यांकन जारी किया गया। जिसमें लड़कियों की संख्यां 175387 और लड़कों की संख्या 196933 रही है। जिनमें से 365142 छात्र पास हुए हैं। इसमेें लड़कों की संख्या 191723 और लड़कों की 173419 रही है।

संबंधित खबरें