Friday, January 28, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरजानें- UPSC की तैयारी में किए गए उन 6 बदलावों के बारे में, जिसने इस शख्स को बना दिया IAS ऑफिसर

जानें- UPSC की तैयारी में किए गए उन 6 बदलावों के बारे में, जिसने इस शख्स को बना दिया IAS ऑफिसर

लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीPriyanka Sharma
Sat, 27 Nov 2021 04:34 PM
जानें- UPSC की तैयारी में किए गए उन 6 बदलावों के बारे में, जिसने इस शख्स को बना दिया IAS ऑफिसर

यूपीएससी की परीक्षा मुश्किल परीक्षा में से एक होती है, ऐसे कम ही लोग हैं, जो इस परीक्षा में पास हो पाते हैं। यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करते समय कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है।

आज हम आपको IAS ऑफिसर आशीष कुमार के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने सिविल सेवा परीक्षा (CSE) को पास किया और 53वीं रैंक हासिल की थी। ये उनका दूसरा प्रयास था। दार्जिलिंग के कुर्सेओंग में अपने शुरुआती साल बिताने के बाद, आशीष हमेशा से ही यूपीएससी क्लियर करने का सपना देखते थे।

वह जानते थे कि यूपीएससी की तैयारी के दौरान कई बारीकियों का ध्यान रखना पड़ता है। उन्होंने अपनी स्ट्रेटजी में 6 बदलाव किया है। आशीष जानते थे कि यूपीएससी की तैयारी करना आसान नहीं होता है, ऐसे में उन्होंने तैयारी के दौरान अपने स्ट्रेटजी में 6 बदलाव किए थे।

उन्होंने बताया,  "मैं दुखी था, मुझे पता था कि 2018 में मुख्य परीक्षा के लिए मेरी तैयारी अच्छी नहीं थी और इसलिए मैंने परिणाम का स्वीकार किया और अपने दूसरे प्रयास की तैयारी के लिए अपने समय की योजना बनाई। "

1. अपनी तैयारी को एक सही डायरेक्शन दें

आशीष कुमार ने बताया, जब मैंने पहली बार यूपीएसससी की परीक्षा दी थी, उस समय मुझे परीक्षा का डायरेक्शन क्लियर नहीं था। मैंने सोचा था कि मैं विभिन्न इंस्टीट्यूट से स्टडी का मैटेरियल उठाऊंगा और तैयारी करूंगा, लेकिन मैं इसमें विफल रहा और मैंने महसूस किया कि ये मेरी सबसे बड़ी गलती है। जिसके बाद उन्होंने कहा, जहां तक संभव हो केवल आजमाई हुई और परखे हुए सिलेबस की किताबें ही पढ़ें और जब भी आप किसी टॉपिक को पढ़ने रहे हैं उसे सिलेबस के साथ क्रॉस-चेक जरूर करें।

2. पिछले वर्षों की टॉपर्स की रणनीतियों को अपनाएं

उन्होंने कहा, यूपीएससी की तैयारी के दौरान, साथियों से बात करना और यह देखना फायदेमंद होगा कि उन्होंने अध्ययन के लिए कौन सी रणनीति चुनी है, आशीष कहते हैं, “एक ही रणनीति को आजमाने और अपनाने की कोशिश न करें क्योंकि यह आपके लिए काम नहीं कर सकती है। हालांकि, आप उनके अध्ययन पैटर्न से कुछ मेथड का यूज अपनी तैयारी में कर सकते हैं। अपने साथियों से बात करने से भी आपकी कुछ शंकाओं को दूर करने में मदद मिल सकती है।

उनका कहना है कि पिछले वर्षों के टॉपर्स द्वारा अपनाई गई रणनीति को करीब से समझने से भी आपके अपने अध्ययन पैटर्न को मजबूत करने में मदद मिलेगी।

3. ऐसे नोट्स बनाएं जो आपके काम आए

एक और गलती जो आशीष ने पहली बार की वह थी नोट्स नहीं बनाना। उनका कहना है कि यह एक बड़ी गलती साबित हुई और उन्होंने दूसरे प्रयास में इससे सीखा। “मैंने जीएस पेपर के साथ-साथ अपने ऑप्शनल पेपर के लिए दूसरी बार नोट्स बनाए। ऐसा करने से तैयारी और मजबूत होती है, इसलिए शुरुआत से ही नोट्स बनाएं।

4. यूपीएससी CSE में रटना सीखना सफलता की कुंजी नहीं है

उन्होंने कहा, माइंड मैप बनाने के लिए संदर्भ बिंदुओं का उपयोग करें जो आपको परीक्षा के दृष्टिकोण से आपकी जरूरत की हर चीज को याद करने में मदद करेगा, ”आशीष कहते हैं, ऐसा करने से आपको यह कल्पना करने में मदद मिलेगी कि आपको कहां से सोचना शुरू करना है - सुनिश्चित करें कि आपके पास सिलेबस में शामिल सभी प्रमुख भागों के लिए एक मानसिक ढांचा हो। परीक्षा के दौरान सिर्फ  रटना काफी नहीं है, बल्कि उसे समझें।

5. अधिक से अधिक मॉक टेस्ट का प्रयास करें

आशीष कहते हैं कि अपने पहले प्रयास के दौरान उन्होंने केवल कुछ मॉक टेस्ट हल किए, जो कि एक गलती थी। वे कहते हैं, "उन प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें जिन्हें आप नहीं जानते हैं या जिनके बारे में आप पूरी तरह से निश्चित नहीं हैं। इससे आपको परीक्षा के दौरान एलिमिनेशन की आदत विकसित करने में भी मदद मिलेगी। एक निश्चित मानसिकता के साथ परीक्षा में न आएं, पेपर का प्रयास करते समय विभिन्न विषयों को जोड़ने के लिए तैयार रहें। आप जितने अधिक मॉक का प्रयास करेंगे, आप उतने ही अधिक आत्मविश्वासी बनेंगे।"

6. शांत दिमाग से परीक्षा में शामिल हों

आशीष साझा करते हैं कि उन्होंने बहुत स्पष्ट दिमाग से परीक्षा दी और कहते हैं कि उन्होंने खुद को तीन प्रयास दिए थे और उन्हें यकीन था कि अगर उन्होंने इन प्रयासों के भीतर यूपीएससी सीएसई को पास नहीं किया, तो वे नौकरी खोजने का विकल्प चुनेंगे। "परीक्षा पर ध्यान केंद्रित करें और 'क्या होगा, कैसे होगा इसके बारे में न सोचें।

अंत में वे कहते हैं, "प्रीलिम्स का प्रयास करते समय अपनी दिमाग को शांत करें। याद रखें, यदि कोई प्रश्न आपके लिए कठिन है, तो संभवतः अन्य सभी के लिए भी पेपर हल करना कठिन है।"

 

 

epaper

संबंधित खबरें