ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरजानें- कैसा होता है BSF, CISF और CRPF का सैलरी स्ट्रक्चर,पढ़ें डिटेल्स

जानें- कैसा होता है BSF, CISF और CRPF का सैलरी स्ट्रक्चर,पढ़ें डिटेल्स

सीआरपीएफ, सीआईएसएफ और बीएसएफ परीक्षाओं की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को जॉब प्रोफाइल के साथ सैलरी और उनके साथ मिलने वाले लाभ के बारे में भी पता होना चाहिए। आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

जानें- कैसा होता है BSF, CISF और CRPF का सैलरी स्ट्रक्चर,पढ़ें डिटेल्स
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 22 Oct 2023 04:25 PM
ऐप पर पढ़ें

देश में आंतरिक और बाहरी खतरे कभी भी पैदा हो सकते हैं, ऐसे में भारत को एक मजबूत रक्षा तंत्र की आवश्यकता होती है। इसलिए  राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, भारतीय सशस्त्र बल और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF) रक्षा दीवार के रूप में कार्य करते हैं।

केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल, विशेष रूप से, हमारे देश की आंतरिक सुरक्षा की रक्षा करता है। वहीं BSF, CRPF और CISF सभी को CAPF के अंतर्गत करते हैं है और इनका नेतृत्व IPS अधिकारी की ओर से किया जाता है। आइए ऐसे में जानते हैं BSF, CRPF और CISF क्या अंतर है और इनमें कितनी सैलरी दी जाती है।

BSF यानी बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स, जिसे हिंदी में सीमा सुरक्षा बल कहा जाता है। नाम से ही मालूम चल रहा है, इनका कार्य सुरक्षा से संबंधित है। इस फोर्स का कार्य देश को सुरक्षा प्रदान करना है। बीएसएफ के जवान देश की सीमाओं की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार हैं क्योंकि वे पाकिस्तान, बांग्लादेश और म्यांमार की सीमाओं पर तैनात हैं। इसके अतिरिक्त, वे शांति बनाए रखने और अंतरराष्ट्रीय आपराधिक गतिविधियों का विरोध करने सहित अन्य जिम्मेदारियां भी निभाते हैं।

दूसरी ओर, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल  यानी सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स  (CISF) के जवानों को भारत सरकार की इंडस्ट्रियल यूनिट्स, गवर्नमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य गर्वेमेंट एस्टेब्लिशमेंट की सुरक्षा करने का काम सौंपा जाता है। वर्तमान में, CISF भारत में हवाई अड्डों सहित 356 से अधिक इंडस्ट्रियल यूनिट्स की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालता है।

वहीं अब अब केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी  सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) की बात करें तो इन्हें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा, उन्हें गंभीर परिस्थितियों या आपात स्थिति में भी मदद करने के लिए हमेशा तैनात रहते हैं।

जानें- सैलरी के बारे में

BSF सैलरी

बीएसएफ कॉन्स्टेबल जीडी 21,700 रुपये से 69,100 प्रति माह के बीच है। वहीं सैलरी ग्रेड पे पर निर्भर करती है। सैलरी के साथ डियरनेस अलाउंस, हाउस रेंट अलाउंस, ट्रांसपोर्ट अलाउंस सहित कई बेनिफिट्स दिए जाते हैं। बता दें, सब-इंस्पेक्टर के पद पर कुल 35,400 रुपये से 1,12,400 रुपये तक की सैलरी दी मिलती है.

CRPF सैलरी

सीआरपीएफ असिस्टेंट कमांडेंट को पे लेवल 10 के तहत 56,100 रुपये की बेसिक सैलरी दी जाती है। इसके अलावा, उन्हें डियरनेस अलाउंस, हाउस रेंट अलाउंस, ट्रांसपोर्ट अलाउंस, राशन और मेडिकल की सुविधाएं दी जाती है। वहीं  सब -इंस्पेक्टर को  पे  लेवल 6 के तहत 35,400 से 1,12,400 रुपये की सैलरी दी जाती है।

सीआरपीएफ हेड कांस्टेबल के पद पर कार्यरत उम्मीदवारों को पे लेवल 03 में रखा गया है, जिसमें सैलरी  21,700 से 69,100 रुपये प्रति माह है।

CISF सैलरी

पे लेवल -4 सैलरी स्ट्रक्चर के अनुसार, सीआईएसएफ हेड कांस्टेबल के पद पर कार्यरत उम्मीदवारों की प्रति महीने 25,500 से 81,100 रुपये तक की सैलरी है।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें