DA Image
29 अक्तूबर, 2020|9:05|IST

अगली स्टोरी

केरल सरकार ने एससी-एसटी छात्रों के लिए लॉन्च किया मॉडल प्रोजेक्ट, मिलेंगे दो लाख रुपए

kerala chief minister pinarayi vijayan  pti file

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने शनिवार को एससी, एसटी छात्रों के विकास के लिए मॉडल प्रोजेक्ट की शुरुआत की। उन्होंने बताया कि इस योजना का उद्देश्य पिछडे वर्ग के छात्रों को शैक्षिक सुविधाएं प्रदान करना है। इस योजना के तहत छात्र के घरवालों को घर में स्टडी रूम बनाने के लिए दो लाख रुपए दिए जाएंगे।

मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि एससी और एसटी वर्ग के तमाम छात्र ऐसे हैं जिनके घरों में पढ़ाई के लिए समुचित साधन नहीं हैं। इसी समस्या के हल के तौर पर सरकार ने एससी वर्ग के प्रत्येक सदस्य को दो लाख रुपए घर में स्टडी रूम बनाने के लिए दे रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा, घर में जब स्टडी रूम बन जाएगा तो उसमें कम्प्यूटर समेत अन्य जरूरी स्टडी मैटेरियल उपलब्ध होगा। इस योजना को शुरुआत के तौर पर राज्यभर में 12250 स्टडी रूमों का निर्माण शनिवार को पूरा कर लिया गया। 

उन्होंने कहा कि साल के अंत तक राज्य में 3750 स्टडी रूम बनकर तैयार हो जाएंगे। इसके अलावा 2021 तक 8500 स्टडी रूम बनकर तैयार हो जाएंगे। यह पूरे देश के लिए एक मॉडल प्रोजेक्ट हो सकता है। इसी योजना के तहत 250 सामुदायिक स्टडी रूम भी बनकर तैयार हो चुके हैं। इनमें कम्युनिटी हॉल जैसी सुविधाएं भी हैं।

सरकार लक्ष्य राज्य में 500 सामुदायिक स्टडी रूम बनाने का है। प्रत्येक रूम में 30 छात्रों के पढ़ने की सुविधा होगी। केरल के सीएम ने कहा कि उनका उद्देश्य एससी-एसटी के छात्रों को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाना है। इस समुदाय के कक्षा 5 से 8वीं तक के छात्र 2000 रुपए सलाना की मदद पाते हैं जो कि बहुत कम है। अब छात्रों की आर्थिक सहायता करीब 50 फीसदी बढ़ा दी गई है। राज्य में एक लाख 20 हजार छात्रों को विशेक्ष आर्थिक मदद दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि इस समुदाय के कम से कम 300 बच्चों को सिविल सर्विसेस एकेडमी के जरिए निशुल्क प्रशिक्षण दिलाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kerala government launches model project for SC-ST students they will get two lakh rupees for study room