DA Image
28 अक्तूबर, 2020|3:53|IST

अगली स्टोरी

JEE Main 2020 : छात्र ने जेईई मेन परीक्षा में अपनी जगह किसी दूसरे को बैठाया, आए 99.8 फीसदी मार्क्स

jee main exam at a noida center  photo - pti

असम में एक छात्र द्वारा फर्जीवाड़े से जेईई मेन परीक्षा पास करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि छात्र ने सितंबर में आयोजित हुई इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन में अपनी जगह किसी दूसरे शख्स को बैठाया था। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मित्रदेव शर्मा की ओर से गुवाहाटी के अजारा पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई एफआईआर के मुताबिक जेईई मेन में 99.8 फीसदी मार्क्स लाने वाला छात्र 5 सितंबर को हुई परीक्षा में बैठा ही नहीं था। 

गुवाहाटी के एडमिश्नल डीसीपी (वेस्ट) सुप्रतिव लाल बरूआ ने कहा, '23 अक्टूबर को इस संबंध में एक शिकायत दर्ज कराई गई है। हमने आरोपों की जांच के लिए एक विशेष जांच टीम गठित की है। एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि छात्र ने परीक्षा में अपनी जगह किसी और को बैठाया था।'

एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि उम्मीदवार को शहर के बोरझार स्थित एक केंद्र में जेईई परीक्षा के लिए उपस्थित होना था। लेकिन बायोमेट्रिक उपस्थिति की औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद वह निरीक्षक की मदद से परीक्षा हॉल से बाहर आया और किसी और ने उस छात्र की जगह परीक्षा दी।

डीसीपी ने कहा कि जेईई परीक्षा देने वाले छात्र द्वारा खुद ही कथित तौर पर एक फोन कॉल के दौरान यह स्वीकार करने के बाद मामला सामने आया है। अभी तक हमारे सामने परीक्षा को लेकर इस तरह का मामला सामने नहीं आया है। 

JEE Main 2021 : शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जेईई मेन परीक्षा को लेकर किया ये बड़ा ऐलान

पुलिस इस मामले में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के संपर्क में है जो देश भर में जेईई परीक्षा का आयोजन कराती है। पुलिस का कहना है कि जांच में मदद के लिए एनटीए से डाटा मांगा जा रहा है। 

पुलिस का कहना है कि आरोपी छात्र अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

 वह अभी राज्य से बाहर है। उससे अभी पूछताछ की जानी बाकी है। 

शिकायतकर्ता का दावा है कि छात्र के माता-पिता डॉक्टर हैं। उन्होंने इस काम के लिए गुवाहाटी के एक प्राइवेट कोचिंग इंस्टीट्यूट को 15 से 20 लाख रुपये दिए थे। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:jee main 2020 : JEE candidate in Assam allegedly used proxy to appear in exam scores over 99 percent