ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरJEE Main : जेईई मेन में 2 लाख रैंक तो भी BTech में दाखिले की पूरी उम्मीद, देखें सीटों का गणित

JEE Main : जेईई मेन में 2 लाख रैंक तो भी BTech में दाखिले की पूरी उम्मीद, देखें सीटों का गणित

JEE Main में दो लाख रैंक आने पर भी बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों में छात्रों को दाखिला मिलने की पूरी उम्मीद है। एमआईटी में डेढ़ से पौने दो लाख रैंक तक छात्रों को BTech में दाखिला मिल सकता है।

JEE Main : जेईई मेन में 2 लाख रैंक तो भी BTech में दाखिले की पूरी उम्मीद, देखें सीटों का गणित
Pankaj Vijayप्रमुख संवाददाता,मुजफ्फरपुरTue, 18 Jun 2024 08:13 AM
ऐप पर पढ़ें

जेईई मेन में दो लाख रैंक आने पर भी बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों में छात्रों को दाखिला मिलने की पूरी उम्मीद है। एमआईटी में डेढ़ से पौने दो लाख रैंक तक छात्रों को दाखिला मिल सकता है। एमआईटी के रजिस्ट्रार प्रो रजनीश कुमार ने बताया कि अभी कटअफ नहीं आया है, लेकिन एमआईटी में डेढ़ लाख रैंक वाले छात्रों को दाखिला मिल सकता है। जेईई में दाखिले के लिए अब छात्र 21 जून तक आवेदन कर सकते हैं। पहले यह तारीख 10 जून तक थी। पूरे बिहार में 38 सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज हैं। पूरे बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेजों में 13675 सीटों पर दाखिला लिया जाएगा। एमआईटी में इस बार 400 सीटों पर दाखिला होगा।

रजिस्ट्रार ने बताया कि एमआईटी में कंप्यूटर साइंस में भी छात्रों का दाखिला लिया जाएगा। कोर्स इसी बार से शुरू हो रहा है। इसके अलावा केमिकल इंजीनियरिंग कोर्स में भी दाखिला होगा। कंप्यूटर साइंस में 30 सीट और केमिकल इंजीनियरिंग में 30 सीटों पर दाखिला लिया जाएगा।

एमआईटी में इस सत्र से 15 कोर्स में होगी पढ़ाई एमआईटी में इस सत्र से बीटेक और एमकेट मिलकार 15 कोर्स में दाखिला होगा। एमआईटी को इस सत्र से एमटेक के भी कई कोर्स की मान्यता मिली है। इनमें एमटेक एडवांस इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन, इलेक्ट्रॉनिकल एनर्जी सिस्टम और ट्रांसपोर्टेशन इंजीनियरिंग शामिल है। एमआईटी में 15 कोर्स के लिए कुल 620 सीटें हैं, जिसमें बीटेक में 400, एमटेक में 120 और बैचलर ऑफ फार्मेसी में 100 सीटें हैं।

BTech : बीटेक की 1189 सीटों पर दाखिला JEE Main से और 84 सीटों पर CUET से

सिविल व आईटी की सबसे अधिक रहती है मांग
एमआईटी में सिविल और आईटी ब्रांच की सबसे अधिक मांग रहती है। इसके बाद इसीई और इलेक्ट्रिकल व मैकेनिकल की बारी आती है। इस बार कंप्यूटर साइंस और केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू होने से उम्मीद है कि छात्र आईटी के बाद कंप्यूटर साइंस की मांग ज्यादा करेंगे। छात्रों के बीच रोबोटिक्स भी खूब लोकप्रिय है।

एमआईटी में सीटें
- बीटेक केमिकल टेक्नोलॉजी में 30 सीट
- बीटेक बायोमेडिकल एंड रोबोटिक्स 60 सीट
- सिविल इंजीनियरिंग 60 सीट
- कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग 30 सीट
- बीटेक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग 60 सीट
- बीटेक इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन 40 सीट
- बीटेक इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी 60 सीट
- बीटेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग 60 सीट
- एमटेक मशीन डिजाइन 18 सीट

- थर्मल इंजीनियरिंग 18 सीट
- जियोटेक्निककल इंजीनियरिंग 30 सीट
- एडवांस इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग 18 सीट
- इलेक्ट्रिकल एनर्जी सिस्टम्स 18
- ट्रांसपोर्टेशन इंजीनियरिंग 18 सीट

Virtual Counsellor
Advertisement