ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियर JEE Advanced: Physics और गणित के प्रश्नों से परेशान रहे परीक्षार्थी, आंसर की पर 3 जून तक आपत्ति, 9 जून को आएगा रिजल्ट

JEE Advanced: Physics और गणित के प्रश्नों से परेशान रहे परीक्षार्थी, आंसर की पर 3 जून तक आपत्ति, 9 जून को आएगा रिजल्ट

JEE Advanced: आईआईटी में दाखिले के लिए रविवार को जेईई एडवांस शहर के 21 केंद्रों पर हुआ। छात्रों ने बताया पेपर पिछले साल की तुलना में कठिन था। गणित के सवालों ने ज्यादा उलझाया। रसायन शास्त्रत्त् के कुछ

 JEE Advanced: Physics और गणित के प्रश्नों से परेशान रहे परीक्षार्थी, आंसर की पर 3 जून तक आपत्ति,  9 जून को आएगा रिजल्ट
Anuradha Pandeyवरीय संवाददाता,​​​​​​​पटनाMon, 27 May 2024 08:02 AM
ऐप पर पढ़ें

आईआईटी में दाखिले के लिए रविवार को जेईई एडवांस शहर के 21 केंद्रों पर हुआ। छात्रों ने बताया पेपर पिछले साल की तुलना में कठिन था। गणित के सवालों ने ज्यादा उलझाया। रसायन शास्त्रत्त् के कुछ प्रश्न ही सामान्य थे। वहीं भौतिकी का पेपर कठिन था।

निगेटिव मार्किंग के कारण कई प्रश्नों को छात्रों ने छोड़ दिया। रिजल्ट नौ जून तक जारी होने की उम्मीद है। एडवांस में टॉप रैंक लाने वाले छात्र का आईआईटी में दाखिला होगा। सुबह नौ बजे से 12 बजे और दोपहर 230 से 530 बजे में दो शिफ्ट में परीक्षा हुई। इसमें करीब 90 प्रतिशत से अधिक परीक्षार्थी उपस्थित हुए। तीन घंटे में कई प्रश्नों को छात्रों ने हल किया। परीक्षा में काफी सख्ती बरती गयी। बिहार में भी इस टेस्ट के लिए अलग-अलग 10 शहरों में 40 से अधिक सेंटर बनाये गये थे। पटना में सबसे अधिक 21 सेंटर था। पटना के अलावा आरा, औरंगाबाद, भागलपुर, दरभंगा, गया, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, रोहतास और सीतामढ़ी जिलों में परीक्षा हुई। सूबे के 13588 छात्रों को शामिल होना था।

न्यूमेरिकल में उलझे परीक्षार्थी आईओएन डिजिटल जोन से परीक्षा देकर निकलने वाले शिवम ने कहा कि मैथ व फिजिक्स के सवाल टाइम टेकिंग थे। न्यूमेरिकल सवाल परेशान किया। ओवरऑल प्रश्न बेहतर थे। कुछ छात्रों ने बताया कि टेस्ट में अधिकांश प्रश्न आसान थे। लेकिन मैथ के सवाल और फिजिक्स के सवाल ने उलझा कर रख दिया। मैथ के सवाल काफी घुमावदार थे तो, फिजिक्स के सवाल थोड़े कठिन थे। वहीं कुछ परीक्षार्थियों को रसायन के सवाल आसान लगे। वैसे परीक्षा देकर निकलने वाले सभी छात्र के लिए मैथ और फिजिक्स के सवाल ज्यादा कठिन लगे। कुछ ने रसायन के सवाल को भी कठिन बताया।

सुबह से ही लगी भीड़ टेस्ट देने के लिए एग्जाम सेंटर पर सुबह छह बजे से ही छात्र और अभिभावक की भीड़ लगनी शुरू हो गयी थी। आईआईटी मद्रास की तरफ से परीक्षार्थियों को तय शेड्यूल से करीब ढाई घंटे पहले ही आने का निर्देश दिया गया था।

शहर के तमाम एग्जाम सेंटर पर शेड्यूल के अनुसार लोग पहुंचने लगे थे। परीक्षार्थियों के साथ ही इनके अभिभावक भी एग्जाम को लेकर तनाव में दिखे। इसके साथ ही हर सेंटर पर प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज और इंस्टीट्यूट के लोग अपना कैंप भी लगा कर प्रचार-प्रसार भी कर रहे थे।

पीएंडएम मॉल के समीप आईओएन डिजिटल में रविवार को जेईई एडवांस देकर निकलते परीक्षार्थी।

उत्तरकुंजी पर आपत्ति दो से तीन जून तक

आईआईटी मद्रास जेईई एडवांस उम्मीदवारों की प्रतिक्रियाओं की प्रति 31 मई शाम पांच बजे जारी कर देगी। आंसर की पर दो से तीन जून तक आपत्ति दर्ज कर सकते हैं। आपत्ति के लिए प्रति प्रश्न 500 रुपये का भुगतान करना होगा। रिजल्ट नौ जून को जारी होगा।

कंकड़बाग मेन रोड में सिटी क्रेज परीक्षा सेंटर पर परीक्षार्थियों व अभिभावकों ने हंगामा किया। अभिभावक संजीव कुमार ने बताया कि सेंटर पर एसी, फैन, कूलर किसी भी चीज की व्यवस्था नहीं थी। इससे परीक्षार्थी काफी नाराज हो गए। तपिश वाली गर्मी के चलते परीक्षा के दौरान छात्र पसीने से तर बतर हो गए। सुबह नौ बजे से 12 बजे तक पहली पाली और दोपहर ढाई बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक दूसरी पाली थी। अभिभावकों का कहना है कि जब विद्यार्थी केंद्र पर पहुंचे तो वहां पर की व्यवस्था देख दंग रह गये। केंद्र पर सुनने वाला कोई नहीं था।

 

Virtual Counsellor