ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरJAC 10th 12th Result: मैट्रिक और इंटर का कंपार्टमेंटल पास करने पर मिलेगा डिविजन

JAC 10th 12th Result: मैट्रिक और इंटर का कंपार्टमेंटल पास करने पर मिलेगा डिविजन

जैक मैट्रिक और इंटरमीडिएट की कंपार्टमेंटल परीक्षा में पास करने वाले छात्र-छात्राओं को अब डिविजन दिया जाएगा। जैक पहली बार ऐसी व्यवस्था करने जा रहा है। अभी कंपार्टमेंटल के लिए आवेदन भरे जा रहे हैं।

JAC 10th 12th Result: मैट्रिक और इंटर का कंपार्टमेंटल पास करने पर मिलेगा डिविजन
Pankaj Vijayहिन्दुस्तान ब्यूरो,रांचीSat, 08 Jun 2024 09:26 AM
ऐप पर पढ़ें

जैक झारखंड बोर्ड मैट्रिक और इंटरमीडिएट की कंपार्टमेंटल परीक्षा में पास करने वाले छात्र-छात्राओं को अब डिविजन दिया जाएगा। झारखंड एकेडमिक काउंसिल पहली बार ऐसी व्यवस्था करने जा रहा है। वर्तमान में मैट्रिक और इंटरमीडिएट कंपार्टमेंटल के लिए आवेदन भरे जा रहे हैं। 12 जून तक बिना विलंब शुल्क के आवेदन किए जाने हैं। पिछले वर्ष 2023 तक मैट्रिक और इंटरमीडिएट में पास नहीं करने वाले छात्र-छात्रा कंपार्टमेंटल की परीक्षा देते थे। इसमें पास करने के बाद छात्र-छात्राओं को सिर्फ पास का सर्टिफिकेट दिया जाता था। उन्हें कोई डिविजन नहीं दिया जाता था। जैक ने इसमें बदलाव किया है। इस बार मैट्रिक-इंटर की कंपार्टमेंल परीक्षा पास करने वाले छात्र-छात्राओं को उनके सभी विषयों के अंकों के आधार पर डिविजन देने का निर्णय लिया गया है। जिस छात्र-छात्रा का अंक प्रथम श्रेणी का होगा, उन्हें प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण किया जाएगा।

वित्तरहित शिक्षक-कर्मी 26 को जैक का घेराव करेंगे
वित्त रहित शिक्षा संयुक्त संघर्ष मोर्चा 26 जून को झारखंड एकेडमिक काउंसिल का घेराव करेगा। मोर्चा के 10 हजार शिक्षक और कर्मचारी जैक इंटर कॉलेजों में सीट निर्धारण के निर्णय के खिलाफ घेराव करेंगे। जैक अपना निर्णय वापस नहीं लेगा तो उसी दिन से जैक के सामने मोर्चा के पदाधिकारी अनशन पर बैठ जाएंगे। मोर्चा की शुक्रवार को आयोजित आपात बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में आंदोलन की रूपरेखा भी तय की गई। मोर्चा के रघुनाथ सिंह ने बताया कि आंदोलन की शुरुआत जून को मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और शिक्षा सचिव को इस संबंध में ज्ञापन देने से होगी। 11 जून को पूरे राज्य में शैक्षणिक हड़ताल 

फैसले से विद्यार्थी परेशान, लगा रहे कॉलेज-विवि की दौड़
मोर्चा के नेताओं ने कहा कि प्लस टू स्कूलों में 2000 से 3000 नामांकन हो रहे हैं, लेकिन इंटरमीडिएट कॉलेज में प्रत्येक संकाय में 384 सीट का निर्धारण किया जा रहा है। यह अधिनियम के खिलाफ है। इस फैसले से राज्य के छात्र नामांकन के लिए कॉलेज-विवि का दौड़ लगा रहे हैं। बैठक में शिक्षक-कर्मचारियों ने कहा कि हम पूर्व से निर्धारित सीट के अनुसार नामांकन लेंगे, चाहे परिणाम जो हो। बैठक में देवनाथ सिंह, नरोत्तम सिंह, संजय कुमार, अरविंद सिंह, मनीष कुमार, कुंदन कुमार सिंह, हरिहर प्रसाद, परमेश्वर शर्मा, फजलुल कादरी अहमद, गणेश महतो मौजूद थे।

Virtual Counsellor
Advertisement