ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरPCS में अग्निवीर पर पूछा रोचक प्रश्न, संघ लोक सेवा आयोग के पैटर्न पर प्रश्न पूछे गए थे

PCS में अग्निवीर पर पूछा रोचक प्रश्न, संघ लोक सेवा आयोग के पैटर्न पर प्रश्न पूछे गए थे

सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (पीसीएस)-2022 की मुख्य परीक्षा के तीसरे दिन गुरुवार को सुबह 930 से 1230 बजे और दोपहर दो से पांच बजे की पाली में क्रमश सामान्य अध्ययन तृतीय व चतुर्थ प्रश्नपत्र संपन्न

PCS में अग्निवीर पर पूछा रोचक प्रश्न, संघ लोक सेवा आयोग के पैटर्न पर प्रश्न पूछे गए थे
Anuradha Pandeyप्रमुख संवाददाता,प्रयागराजFri, 30 Sep 2022 06:28 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (पीसीएस)-2022 की मुख्य परीक्षा के तीसरे दिन गुरुवार को सुबह 930 से 1230 बजे और दोपहर दो से पांच बजे की पाली में क्रमश सामान्य अध्ययन तृतीय व चतुर्थ प्रश्नपत्र संपन्न हुआ। हाल के दिनों में काफी चर्चा में रही केंद्र सरकार की योजना अग्निवीर से जुड़ा ‘भारत की रक्षा आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए भारत सरकार की अग्निवीर योजना का विश्लेषण कीजिए’ प्रश्न तृतीय प्रश्नपत्र में पूछा गया। प्रतियोगी छात्रों की मानें तो उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के विशेषज्ञों ने पेपर बहुत अच्छा बनाया था।

संघ लोक सेवा आयोग के पैटर्न पर प्रश्न पूछे गए थे। सरकारी योजनाओं पर आधारित, समाज के हर वर्ग के विकास और प्रशासनिक अधिकारियों के गुणों से जुड़े प्रश्न भी पूछे गए। ‘वित्तीय समावेशन, सामाजिक न्याय प्राप्त करने के लिए विकास प्रक्रिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।’ ‘समावेशी संवृद्धि अब विकासात्मक रणनीति का केन्द्र बिन्दु बन गई है। भारत के सन्दर्भ में इस कथन की विवेचना कीजिए।’ और ‘कौशल विकास की देश के आर्थिक विकास में क्या भूमिका होती है? उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन 2022 के उद्देश्यों और उसकी मुख्य विशेषताओं पर प्रकाश डालिए।’ जैसे प्रश्न समग्र विकास पर आधारित रहे। डिजिटिल कृषि, विज्ञान और कृषि के क्षेत्रों में नैनोसाइंस और नैनोटेक्नोलॉजी की क्षमता, आपदा प्रबंधन में नागरिकों के प्रशिक्षण से जुड़े प्रश्न सामयिक रहे।

चौथे पेपर में पूछा गया केस स्टडी पर आधारित प्रश्न
संजीव एक आदर्शवादी है। उसका विश्वास है कि ‘सत्य सर्वश्रेष्ठ सद्गुण है तथा सत्य से कभी समझौता नहीं करना चाहिए’। एक दिन उसने डंडा तथा पत्थर हाथ में लिए हुए लोगों की भीड़ से भागते हुए एक व्यक्ति को देखा। वह उसे एक विशिष्ट स्थान पर छुपते हुए भी देख लेता है। भीड़ ने संजीव से पूछा कि क्या उसने चोर को देखा है? संजीव ने सच बता दिया और उस जगह की ओर इशारा कर दिया जहां उसे छुपते हुए वह दिखा था। भीड़ उस व्यक्ति को पकड़ लेती है और मरने तक पीटती रहती है। उपर्युक्त परिस्थिति के प्रकाश में संजीव के आचरण पर टिप्पणी कीजिए।

epaper